Tuesday, November 5, 2019

खाकी ने पकड़ी सरकारी अनाज की हेराफेरी: पांच सोसायटी का अनाज राइस मिल में जब्त

खाकी ने पकड़ी सरकारी अनाज की हेराफेरी: पांच सोसायटी का अनाज राइस मिल में जब्त

खाद्य विभाग के धृतराष्ट्र अफसर और नान के डॉन के संरक्षण में जिले में चल रहा सरकारी अनाज की हेराफेरी!

सिवनी। गोंडवाना समय।
गरीबों का निवाला छीनकर सरकारी अनाज की एक बड़ी हेराफेरी रविवार की रात सामने आई है। खाद्य आपूर्ति विभाग और नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों के संरक्षण में ट्रांसपोर्टर और राईस मिलर्स द्वारा की जा रही सरकारी अनाज की हेराफेरी को कुरई पुलिस ने बेपर्दा कर दिया है। बड़ी मात्रा में चांवल,गेंहू और चना की कालाबजारी का मामला सामने आने के बाद प्रशासन हरकत में आते हुए फूड विभाग के इंस्पेक्टरों को जांच के लिए भेज दिया है जो सोमवार की देर रात तक बयानबाजी का बहाना करते हुए मीडिया को जवाब देने से बचते रहे। सूत्र बताते हैं कि इस मामले की जांच के साथ वेयर हाउस से सोसायटी के लिए निकाले गए अनाज और सोसायटियों का रिकार्ड खंगाल लिया जाए तो बड़ा स्केन्डल सामने आ सकता है और कई अधिकारी-कर्मचारियों के साथ-साथ परिवहन ठेकेदार और राईसमिलर्स जेल की हवा खा सकते हैं।

पाटन के जैन राईस से जब्त हुआ सरकारी अनाज

सिवनी के नगझर स्थित बालाजी वेयरहाउस से रविवार को कुरई क्षेत्र की पांच सोसायटी के लिए 238.49 क्विंटल अनाज केवलारी के कोमलचंद जैन ट्रांसपोर्टर के ट्रक क्रमांक एमपी 22 एच 1534 में निकला था।  बताया जाता है कि चांवल से भरे हुए इस ट्रक को चालक संजु काकोड़िया लेकर गया था जो क्षेत्र की सोसायटियों में पहुंचाने की बजाय कुरई के पाटन की राद्यवेन्द्र जैन की जैन राईस मिल  में उतार रहा था। उसी दरमियान कुरई पुलिस ने संदेह के आधार पर ट्रक चालक और जैन राईस मिल में जाकर पतासाजी की तो चांवल,गेंहू,चना की हेरफेर करने का मामला सामने आ गया है।

इन पांच सोसायटी में जाना था अनाज-

जानकारी के मुताबिक कुरई क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली बीसापुर,चंद्रपुर,धनौली,पहाड़गंज और सावंगी सोसायटी के अंतर्गत गरीबी रेखा के हितग्राही व स्कूलों के मध्यान्ह भोजन के लिए डिमांड के आधार पर 238.49 क्विंटल अनाज बालाजी वेयर हाउस से नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा भेजा गया था। जिसमें  बीसापुर का 18.27 क्विंटल,चंद्रपुर सोसायटी का 110.46 क्विंटल,धनौली सोसायटी का 57.32 क्विंटल,पहाड़गंज सोसायटी का 32.13 क्विंटल एवं सावंगी सोसायटी का 20.31 क्विंटल अनाज ट्रक में लोडिंग करके सोसायटियों के भेजा गया था।

अब चुप्पी साधकर जांच में जुटा फूड विभाग-

कुरई पुलिस ने मामला फूड और नान से संबंधित होने के कारण हैंडओवर कर दिया है। ऐसे में  खाद्य आपूर्ति विभाग और नागरिक आपूर्ति निगम के विभाग का मामला होने के कारण प्रकरण सौंपने पर फूड विभाग हरकत में आ गया है और मीडिया को जानकारी देने की बजाय चुप्पी साधकर जांच-पड़ताल में जुट गया है। सोमवार को देर रात तक फूड विभाग की टीम जांच-पड़ताल में जुटी रही।

उठाव से लेकर रिकार्ड खंगाले तो निकलेगा बड़ा घोटाला-

कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ायच जिले के विभिन्न वेयर हाउस से चांवल,धान,गेंहू के उठाव व वितरण व्यवस्था को लेकर सहीं जांच -पड़ताल कर ली जाए तो खाद्यआपूर्ति विभाग,नागरिक आपूर्ति विभाग सहित वेयर हाउस संचालकों का बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आएगा। गौरतलब है कि गोंडवाना समय ने नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा अनाज के परिवहन को लेकर कुछ दिनों पहले भी खबर प्रकाशित की थी जिसमें उल्लेख किया गया था कि अनाज में गोलमाल हो रहा है लेकिन प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं दिया और न ही धृतराष्ट्र की तरह आंख मुंदकर बैठे हुए फूड के अफसरों ने ध्यान दिया। पुलिस द्वारा उजागर किए गए मामले ने अब प्रशासन और खाद्य आपूर्ति विभाग,नागरिक आपूर्ति विभाग की पोल खोलकर रख दी है।

परिवहन ठेकेदार,राईस मिलर्स,ट्रक चालक सहित कई जा सकते हैं सलाखों के पीछे-

सूत्र बताते हैं कि परिवहन ठेकेदार कोमलचंद जैन,ट्रक चालक संजू काकोड़िया,राईस मिलर्स राघवेन्द्र जैन सहित कई लोगों के खिलाफ प्रतिवेदन मिलने के बाद प्रशासन के आदेश पर खाद्यआपूर्ति विभाग एफआईआर दर्ज कर सकता है। खाद्य आपूर्ति विभाग के डीएसओ एसके मिश्रा ने इस बात के संकेत दिए हैं।

No comments:

Post a Comment

Translate