Monday, November 25, 2019

बीएलओ बनाम शिक्षकों को नहीं पता क्या है नोटा, प्रशिक्षक ने पूछा तो एक ही ने दिया जवाब

बीएलओ बनाम शिक्षकों को नहीं पता क्या है नोटा, प्रशिक्षक ने पूछा तो एक ही ने दिया जवाब

जनपद सिवनी के प्रशिक्षण में प्रशिक्षक के जवाब को देकर मुंह ताकते रहे शिक्षक

सिवनी। गोंडवाना समय।
सोमवार को जनपद पंचायत सिवनी में आयोजित निर्वाचन साक्षरता क्लब की ट्रेनिंग में बीएलओ बनाम शिक्षक एक दूसरे के मुंह ताकने लगे जब उन्हें ट्रेनिंग दे रहे मास्टर ट्रेनर ने इवीएम मशीन में होने वाले नोटा बटन का अंग्रेजी में फुलफार्म और हिंदी में मतलब पूछ लिया।बड़ी संख्या में मौजूद रहकर प्रशिक्षण ले रहे शिक्षक-शिक्षिकाओं के बीच कुछ क्षण के लिए सन्नाटा पसर गया था उसी बीच एक शिक्षक ही सही जवाब दे पाया। जबकि एक शिक्षक साहस जुटाते हुए नोटा का फुलफार्म बताने का प्रयास किया लेकिन वह भी गलत जवाब दिया।

निर्वाचन आयोग के साक्षरता क्लब बनाने के लिए दिया जा रहा प्रशिक्षण-

जानकारी के मुताबिक निर्वाचन आयोग ने निर्वाचन साक्षरता क्लब बनाने का संकल्प लिया है। ताकि प्रशिक्षण से दक्ष होने के बाद ये क्लब स्कूल,कॉलेज, सरकारी एवं अर्धशासकीय संस्थाओं में निर्वाचन संबंधित जागरूकता प्रदान किया जा सके लेकिन निर्वाचन साक्षरता क्लब के तहत प्रशिक्षण ले रहे शिक्षक बनाम बीएलओ को ही नोटा का मतलब और उसके मायने पता न होने से वे लोगों में क्या जागरूकता ला पाएंगे यह सवाल खड़ा हो रहा है। सोमवार को प्रशिक्षण के दौरान विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स सुधीर ठाकुर द्वारा पूछे गए सवाल का जवाब सैकड़ा भर से अधिक शिक्षकों में एक मात्र शिक्षक द्वारा दिए जाने से साफ जाहिर हो गया है। टेनिंग में प्राथमिक, माध्यमिक, हाईस्कूल तक के शिक्षक बीएलओ बनकर मौजूद थे।

एक ही शिक्षक बता पाया नोटा मतलब नॉन आॅफ दा एबाव 

सोमवार को जनपद पंचायत सिवनी में आयोजित प्रशिक्षण के दौरान जब विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स सुधीर ठाकुर ने जब ट्रेनिंग लेने आए एक सैकड़ा से अधिक बीएलओ बनाम शिक्षकों से ईवीएम मशीन में मौजूद नोटा का फुलफार्म पूछा तो एक मात्र शिक्षक ही बता पाया कि नोटा का मतलब नॉन आॅफ दा एबाव होता है। वहीं दूसरे एक शिक्षक ने नोटा यानी कोई नहीं बताया बाकी शिक्षक एक-दूसरे के मुंह ताकते हुए चुप बैठे रहे।

निर्वाचन संबंधित जागरूकता के लिए चार गेम 

प्रशिक्षणकर्ताओं ने बताया कि निर्वाचन आयोग ने निर्वाचन साक्षरता क्लब बनाने का संकल्प लिया है स्कूल, कॉलेज, सरकारी संस्थाओं में निर्वाचन संबंधित जागरूकता प्रदान करने के लिए पांच फ्लोर गेम आयोजित किए जाएंगे जिसमें स्टापू, सांपसीढ़ी, लूढो, भूल-भुलैया, तम्बोला शामिल हैं। वहीं एक कहानी का स्क्राल है। इसके साथ 25 प्रकार की गतिविधिया भी शामिल है। ट्रेनिंग में दक्षा होने के बाद बीएलओ बनाम शिक्षक मतदाता पंजीयन, चुनावी प्रक्रिया के बारे, इवीएम, ईवीपैक,सत्यता और विश्वसनियता से अवगत कराएंगे। मतदाताओं को जागरूक किया जाएगा कि हर एक वोट महत्वपूर्ण है और कोई मतदाता छूठे ना। जानकारी के मुताबिक सिवनी विकासखंड में 248 मतदान केन्द्र के बीएलओ को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मंगलवार को भी उन्ही बीएलओ को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

Translate