Tuesday, January 28, 2020

भारतीय रेल अनेक स्टेशनों में उन्नयन कार्य कर रही है

भारतीय रेल अनेक स्टेशनों में उन्नयन कार्य कर रही है

 तमिलनाडु के सलेम जंक्शन को नया रूप दिया जा रहा है

नगालैंड में डिमापुर रेलवे स्टेशन में सुविधाएं बढ़ाने का विकास कार्य चल रहा है


नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
रेल मंत्रालय की आधुनिकीकरण योजना के तहत देशभर के अनेक रेलवे स्टेशनों में उन्नयन कार्य प्रगति पर है। इन स्टेशनों में से 
तमिलनाडु में सलेम जंक्शन और नगालैंड में डिमापुर रेलवे स्टेशन में आधुनिक यात्रा सुविधाओं को उन्नत किया जा रहा है और इन स्टेशनों को निखारा जा रहा है।
स्टेशन उन्नयन के तहत सलेम जंक्शन को चरणबद्ध तरीके से नया रूप दिया जा रहा है। इस स्टेशन को निखारने में अब तक लगभग 5 करोड़ रुपये खर्च किये जा चुके हैं। स्टेशन की इमारत को आज के समय के अनुरूप सुधारा गया है। स्टेशन का बाहरी क्षेत्र बढ़ाया गया है और परिसर की चहारदीवारी की ऊंचाई कम की गई है, ताकि उन पर पोस्टर इत्यादि न लगाए जा सकें। पहले चरण के दौरान सुगम यातायात को सुनिश्चित किया गया है। बसों, टैक्सियों, ऑटो और निजी वाहनों के लिए अलग-अलग लेन बनाई गई है। मौजूदा वाहन पार्किंग के निकट ऐप आधारित कैब के लिए स्थान बनाया गया है।  
महत्वपूर्ण अवसरों के मद्देनजर स्टेशन को प्रकाशित करने के लिए इमारत के सामने वाले हिस्से पर रोशनी का बंदोबस्त किया गया है। स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस जैसे महत्वपूर्ण राष्ट्रीय दिनों में राष्ट्रीय ध्वज के प्रतीक स्वरूप इमारत को तीन रंग की रोशनियों से सजाने की व्यवस्था की गई है।



एक नई पहले के तहत स्टेशन के चारों ओर हरित पट्टी और लम्बवत बगीचा बनाया गया है जिससे स्टेशन का दृश्य मनोहर हो गया है। सीढ़ियों के आसपास सुंदर दृश्यावलियां लगाई गई हैं। इसके अलावा एलईडी रोशनी वाले यात्री सुविधा बोर्ड लगाए गए हैं। दृष्टिबाधितों के लिए स्टेशन पर हर जगह ब्रेल बोर्ड भी लगाए गए हैं। स्टेशन पर बीएमआई क्योस्क, मसाज चेयर और पल्स क्योस्क लगाए गए हैं।
 इस समय ईरोड की तरफ जाने वाली सभी महत्वपूर्ण गाड़ियां प्लेटफार्म नम्बर 1 पर आती हैं। दोनों दिशाओं में चलने वाली अन्य गाड़ियां प्लेटफार्म नम्बर 3 और 4 पर और कुछ गाड़ियां प्लेटफार्म नम्बर 5 पर रुकती हैं। यात्रियों की सुविधा के लिये प्लेटफार्म नम्बर 5 पर निम्नलिखित सुधार किये गए हैं –
  • पूरे प्लेटफार्म के ऊपर नई डिजाइन वाली छत लगाकर प्लेटफार्म को नया रूप दिया जा रहा है।
  • प्लेटफार्म के दोनों छोरों पर शौचालय बनाए जा रहे हैं।
  • अतिरिक्त खान-पान स्टॉल लगाए जा रहे हैं।
  • अन्य प्लेटफार्मों को जोड़ने के लिए लिफ्ट की व्यवस्था की जा रही है।

परियोजना के तहत सभी प्लेटफार्मों को दुरुस्त करने के साथ स्टेशन में दूसरे प्रवेश द्वार को भी सुधारा जा रहा है। स्टेशन इमारत के सामने 15 फरवरी, 2020 तक एक स्मारक ध्वज लगा दिया जाएगा। हवाई अड्डे की शैली में रोशनी का बंदोबस्त भी किया जाएगा। उन्नयन कार्य जून, 2020 तक पूरा हो जाने की संभावना है।


उन्नयन कार्य शुरू किये जाने वाला अन्य रेलवे स्टेशन डिमापुर स्टेशन है, जो पूर्वोत्तर फ्रंटियर रेलवे के लूमडिंग डिविजन में आता है। नगालैंड में यह अकेला रेलवे स्टेशन है, जो लूमडिंग-डिब्रूगढ़ सेक्शन में आता है। यात्री आय के मामले में गुवाहाटी के बाद लूमडिंग डिविजन का यह दूसरा सबसे बड़ा स्टेशन है। इसलिए स्टेशन पर यात्री सुविधाओं और सेवाओं का बहुत महत्व है। स्टेशन में सुविधाओं में सुधार करने के लिए लगभग 2 करोड़ रुपये की लागत से विकास के कई काम किये जा रहे हैं। यात्रियों के बेहतर अनुभव के लिए स्टेशन को निखारा जा रहा है।

नगालैंड से यात्रा शुरू करने और वहां आने वाले रेल यात्रियों ने पूर्वोत्तर फ्रंटियर रेलवे द्वारा किए जाने वाले कामों की सराहना की है।
स्टेशन पर किये जाने वाले महत्वपूर्ण कार्य इस प्रकार हैं -
  • पार्किंग के लिए अलग स्थान और हरित पट्टी सहित चारो तरफ के क्षेत्र का उन्नयन।
  • अग्रभाग, पोर्टिको और भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र का उन्नयन।
  • यूटिएस बुकिंग काउंटर और प्रतीक्षा क्षेत्रों का उन्नयन।
  • नगालैंड की क्षेत्रीय छवि के अनुरूप प्रवेश द्वार का उन्नयन।
  • 60 सीटों वाले एसी प्रीमियम प्रतीक्षालय का प्रावधान, जहां कॉफी/स्नेक्स कार्नर, हरित लम्बवत बगीचा और 8 सीटों की क्षमता वाले बाल परिचर्या कक्ष की सुविधा रहेगी।
  • प्लेटफार्म नम्बर 1 में सुधार।
  • सभी रिटायरिंग रूमों की मरम्मत
  • पे एंड यूज शौचालयों का उन्नयन
  • स्मारक ध्वज लगाना
  • डिजिटल संग्रहालय की व्यवस्था


No comments:

Post a Comment

Translate