Friday, February 21, 2020

भारिया जनजाति बाहुल्य ग्रामों की समस्याओं की सूची 10 दिन के अंदर करें तैयार-कमल नाथ

भारिया जनजाति बाहुल्य ग्रामों की समस्याओं की सूची 10 दिन के अंदर करें तैयार-कमल नाथ 

छिंदवाड़ा। गोंडवाना समय। 
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने छिंदवाड़ा के होटल द करन में भारिया समाज को संबोधित करते हुये कहा कि समाज के उन्नति के लिये प्रयत्नशील रहे। जो भी समस्यायें है उन्हें अवगत कराते रहे, अपनी आवाज उठाते रहे ताकि उनका निराकरण यथाशीघ्र किया जा सके। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों से कहा कि 10 दिन के अंदर अलग-अलग गांवों की समस्याओं की सूची बनाये। ताकि उनका निराकरण कर सके और भारिया जनजाति का विकास किया जा सके। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि आज के बच्चे समझदार है। पातालकोट में पहले के लोग अनेक समस्याओं से जूझते हुये अपना जीवन गुजारा और अपने गांव की रक्षा की। अब पुराने अभावग्रस्त परिस्थितियों को छोड़कर विकास की ओर आगे बढ़ने का समय है। 

भारिया जनजाति के विकास में मुख्यमंत्री कमल नाथ का अहम योगदान 

कार्यक्रम के पूर्व भारिया जनजाति समाज की संयोजक श्रीमती इंदिरा भारती और अन्य वरिष्ठ नागरिकों ने भारिया जनजाति की समस्या व उनके उत्थान के बारे में बताया और कहा कि भारिया जनजाति के विकास में मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ का अहम योगदान है। यह बात एक-एक भारिया बच्चा जानता है। भारिया समाज के कार्यक्रम के दौरान जिले के सांसद श्री नकुल नाथ, प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री सुखदेव पांसे, मुख्यमंत्री के ओ.एस.डी. श्री संजय श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री के उप सचिव श्री अनुराग सक्सेना, म.प्र.बार ऐसोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष श्री गंगाप्रसाद तिवारी सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Translate