Saturday, February 1, 2020

अवैध रेत परिवहन रोकने के लिये दो-तीन स्थानों पर नाके करें स्थापित

अवैध रेत परिवहन रोकने के लिये दो-तीन स्थानों पर नाके करें स्थापित  

भोपाल। गोंडवाना समय।
खनिज साधन मंत्री श्री प्रदीप जायसवाल ने खनिज अधिकारियों एवं रेत ठेकेदारों की संयुक्त बैठक में कहा कि खदान संचालन के लिए समस्त कार्रवाई शीघ्र पूरी करें। उन्होने कहा कि प्रदेश में रेत नियम-2019 के अन्तर्गत निविदा की कार्रवाई पूर्ण हो चुकी है। सभी ठेकेदार एलओआई संबंधी समस्त औपचारिकाएँ पूरी करें। मंत्री श्री 
जायसवाल ने बताया कि वर्तमान में पंचायतों की खदानें नवीन ठेकेदारों के नाम जारी करने के लिये राज्य शासन द्वारा निर्देश जारी किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि राज्य खनिज निगम के नाम पर उपलब्ध वैधानिक स्वीकृति की कार्यवाही पर्यावरण स्वीकृति कि लिए सिया में प्रचलन में है। 

रेत ठेकेदारों की समस्याओं का शीघ्र होगा निराकरण 

मंत्री श्री प्रदीप जायसवाल ने रेत ठेकेदारों से अपेक्षा की कि वे अपने जिले के ठेके के संचालन तथा वैधानिक अनुमतियाँ प्राप्त करने तथा अनुबंध आदि के संबंध में समस्त सुझाव लिखित में दें। उन्होने कहा कि यदि अत्यन्त आवश्यक हो, तो रेत का अवैध परिवहन रोकने के लिये जिला प्रशासन के सहयोग से ऐसे दो-तीन स्थानों पर नाके अवश्य स्थापित करें। मंत्री श्री प्रदीप जायसवाल ने कहा कि खनिज ठेकेदारों की समस्याओं का शीघ्र निराकरण किया जाएगा। 

32 जिलों द्वारा जमा हुई उच्चतम बोली की राशि 

प्रमुख सचिव श्री नीरज मंडलोई ने कहा कि सभी ठेकेदार एलओआई शीघ्र प्राप्त करें। राज्य खनिज निगम के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री दिलीप कुमार ने बताया कि अभी तक 32 जिलों द्वारा उच्चतम बोली की राशि जमा की जा चुकी है। शेष होशंगाबाद, सीहोर, रायसेन, अशोकनगर, मंडला एवं डिण्डोरी जिलों द्वारा भी यह राशि जल्द ही जमा की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

Translate