Tuesday, February 4, 2020

कुरई ब्लॉक से जनजाति वर्ग को जिला पंचायत सदस्य का प्रतिनिधित्व नहीं देने पर गोंगपा ने दर्ज कराई आपत्ति

कुरई ब्लॉक से जनजाति वर्ग को जिला पंचायत सदस्य का प्रतिनिधित्व नहीं देने पर गोंगपा ने दर्ज कराई आपत्ति 

छपारा के वार्ड 12 और घंसौर के वार्ड नंबर 17 को जनजाति के लिये किया जाये आरक्षित  

सिवनी। गोंडवाना समय। 
गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने जिला पंचायत सदस्यों और नगर पालिका परिषद सिवनी में हुये आरक्षण की कार्यवाही को लेकर आपत्ति दर्ज कराते हुये मुख्य निर्वाचन आयोग दिल्ली/भोपाल, राष्ट्रपति, राज्यपाल, 
प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री सहित कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा है। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के जिला अध्यक्ष रामेश्वर तुमराम द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में उन्होंने आगामी समय में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में 
आरक्षण के तहत अनुसूचित जनजाति के जिला पंचायत सदस्य में प्रतिनिधित्व समाप्त कर वार्ड कम किये जाने पर आपत्ति दर्ज कराने एवं नगर पालिका परिषद सिवनी में परिसीमन के दौरान अनुसूचित जनजाति 
के वार्डों में आरक्षण पर पुर्नविचार किये जाने को लेकर पुर्नविचार कर न्यायोचित कार्यवाही को लेकर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के द्वारा ज्ञापन सौंपा गया है। 

घंसौर ब्लॉक में सामान्य से किया जाये आदिवासी 

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी सौंपे गये ज्ञापन में यह उल्लेख किया गया है कि अनुसूचित ब्लॉक घंसौर, कुरई, छपारा में जिला पंचायत व जनपद पंचायत सदस्यों के आरक्षण प्रक्रिया में सिवनी जिले में अनुसूचित जनजाति 
वर्ग का कुछ वार्डों में तो प्रतिनिधित्व ही समाप्त कर दिया गया है, जबकि अनुसूचित क्षेत्र में संवैधानिक प्रावधान के अनुसार अनुसूचित जनजाति का प्रतिनिधित्व आवश्यक है। इस आधार पर घंसौर ब्लॉक में वार्ड नंबर 17 को सामान्य कर दिया गया है। जिससे अनुसूचित जनजाति वर्ग का प्रतिनिधित्व समाप्त कर दिया गया अत: वार्ड नंबर 17 को अनुसूचित जनजाति के लिये आरक्षित किया जाये।

कुरई में जिला पंचायत सदस्य नहीं बनेगा आदिवासी 

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में उल्लेख किया है कि कुरई ब्लॉक जो कि अनुसूचित ब्लॉक है कुरई ब्लॉक में पेशा एक्ट लागू होता है वहां पर अनुसूचित जनजाति का जिला पंचायत सदस्य के आरक्षण में एक भी सीट नहीं है जिससे कुरई ब्लॉक में जिला पंचायत से आरक्षण में जनजाति वर्ग का प्रतिनिधितव ही समाप्त कर दिया गया है, कुरई ब्लॉक में दो सीट है वार्ड नंबर 7 ओबीसी एवं वार्ड नंबर 8 ओबीसी महिला के लिये आरक्षित कर दिया गया है, जिसके कारण अनुसूचित जनजाति वर्ग का प्रतिनिधित्व समाप्त हो गया है।

छपारा ब्लॉक में भी जिला पंचायत सदस्य को लेकर आपत्ति

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में यह उल्लेख किया गया है कि इसी तरह छपारा ब्लॉक भी अनुसूचित ब्लॉक है वहां पर भी जिला पंचायत सदस्य का वार्ड नंबर 12 को सामान्य कर दिया गया है। इससे 
अनुसूचित जनजाति का प्रतिनिधित्व समाप्त हो गया है। इस तरह से घंसौर, कुरई, छपारा में अनुसूचित जनजाति वर्ग का प्रतिनिधित्व जहां पर पेशा एक्ट लागू होता है वहां पर समाप्त कर दिया गया है इस पर 
पुर्नविचार कर इन वार्डों को अनुसूचित जनजाति के लिये आरक्षित किया जाने की न्यायोचित कार्यवाही करने की मांग किया है। 

नगर पालिका में परिसीमन व आरक्षण पर दर्ज कराई आपत्ति


गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा सिवनी नगर पालिका परिषद में किये गये परिसीमन के पश्चात वार्डों के आरक्षण में भी अनुसूचित जनजाति वर्ग का प्रतिनिधित्व कुछ वार्डों में समाप्त किया गया है एवं जहां पर अनुसूचित जनजाति वर्ग की जनसंख्या या मतदाता ज्यादा है उन वार्डो को अन्य वर्गों में जोड़ दिया गया है। इसके साथ ही जहां पर अनुसूचित जनजाति वर्ग की जनंसख्या व मतदाता कम है वहां पर अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिये आरक्षित कर दिया गया है। नगर पालिका परिषद सिवनी में 24 वार्डों से बढ़ाकर परीसीमन करते हुये 36 वार्ड करते हुये आरक्षण की कार्यवाही तो कर दी गई है लेकिन परिसीमन की स्थिति स्पष्ट नहीं की गई है। जिससे यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है कि कौन सा मोहल्ला, टोला, क्षेत्र किस वार्ड में जुड़ा हुआ है। 

रानी दुर्गावती वार्ड हुआ अनारक्षित महिला

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में यह उल्लेख भी है कि नगर पालिका परिषद सिवनी में हुये परिसीमन व आरक्षण की कार्यवाही के बाद जिस तरह से वार्डों के आरक्षण किया गया उसमें यह जानकारी सामने आई है कि नगर पालिका परिषद सिवनी के अंतर्गत रानी दुर्गावती वार्ड जो कि अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिये आरक्षित था उसे अनारक्षित महिला के लिये आरक्षित किया गया है जिससे अनुसूचित जनजाति वर्ग का प्रतिनिधित्व समाप्त कर दिया गया है।

No comments:

Post a Comment

Translate