Thursday, March 26, 2020

शहर के साथ ही महाराष्ट्र वार्डर पर पैदल आ रहे मजदूरों तक पहुंचाया भोजन

शहर के साथ ही महाराष्ट्र वार्डर पर पैदल आ रहे मजदूरों तक पहुंचाया भोजन 

मानव सेवा के समर्पित युवाओं की इस प्रयास को गोंडवाना समय का सेवा जोहार  

सिवनी। गोंडवाना समय। 
कोरोना वायरस को लेकर लॉक डाऊन के बाद संकट की घड़ी में जरूरतमंद लोगों को भोजन पहुंचाने का काम
बदलेंगे सिवनी की सोच रखने वाले मानव सेवा को प्राथमिकता देने वाले युवाओं के द्वारा भोजन पहुंचाने का काम शहर में किया जा रहा है।
इस नेक कार्य में भोजन पहुंचाने का काम सिवनी के युवाओं की एक टीम कर रही है।

महाराष्ट्र से पैदल आ रहे मजदूर में महिलाएं व बच्चे भी शामिल 

वहीं सिवनी जिले से सबसे ज्यादा संख्या में मजदूर वर्ग रोजगार की तलाश में और अपने परिवार का पालन पोषण करने महाराष्ट्र के नागपूर व बड़े शहरों में जाते है। चूंकि पूरे देश में लॉक डाऊन होने के बाद विशेषकर ग्रामीण अंचलों से अन्य शहरों में मजदूरी करने पहुंचे मजदूर वर्ग को अपने अपने घरों में लौटना पड़ रहा है। वहीं आवागमन के साधनों के थम जाने से मजूदर वर्गों को पैदल अपने घर आना पड़ रहा है। 

भोजन लेकर पहुंचे महाराष्ट्र वार्डर 

सिवनी जिले के मजदूर वर्ग जो कि महाराष्ट्र से अपने घरों में पैदल वापस आ रहे है। वहीं महाराष्ट्र बॉर्डर की तरफ से पैदल आ रहे सैकड़ों मजदूरों तक 25 मार्च 2020 को युवाओं की एक छोटी टीम ने सिवनी से भोजन पहुंचवाया। उनका यह भी प्रयास है कि वे अगले दिन से महाराष्ट्र बॉर्डर पर ही भोजन की व्यवस्था बन जाए। इन लोगों में बड़ी संख्या में महिलाएँ और बच्चे भी हैं, जो कि बड़े ही कठिन परिश्रम से अपने अपने घरों तक पहुंचने के लिये पैदल सफर कर रहे है उन्हें इस कठिन घड़ी में इन्हें शक्ति प्रदान करने की भी प्रार्थना भी कर रहे है। 

इन नंबरों पर कर सकते है संपर्क 

वहीं बदलेंगे सिवनी की सोच से पहले मानव सेवा को प्राथमिकता में रखने वाले युवाओं ने अपील भी किया है कि
सिवनी शहर में कही भी भोजन भेजना हो तो वे इन नंबरों पे कॉल कर संपर्क कर सकते है। 7999569962, 7828596857, 7999017785, 8770445580

No comments:

Post a Comment

Translate