गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Tuesday, March 3, 2020

आवासीय छात्रों को बाजार मूल्य से कम कीमत पर मिलेगी गुणवत्तायुक्त खाद्य समाग्री

आवासीय छात्रों को बाजार मूल्य से कम कीमत पर मिलेगी गुणवत्तायुक्त खाद्य समाग्री 

बिहान द्वारा निर्मित 33 उत्पादों का छात्रावासों में होगा उपभोग

रायपुर। गोंडवाना समय।
राज्य शासन द्वारा महिलाओं को आर्थिक तौर पर सशक्त बनाने के लिए संचालित बिहान योजना से उच्च गुणवत्ता युक्त उत्पाद बाजार दर से कम कीमत पर छात्रावासों को उपलब्ध कराये जा रहे हैं। कोण्डागांव जिले की महिला स्व-सहायता समूहों के द्वारा निर्मित उत्पाद अब सीधे इन छात्रावासों को नियत दर पर उपलब्ध कराये जाएंगे। जिससे उत्पादों की दर बाजार कीमतों से भी कम होगी और जिले के छात्रावासों को एक समान उच्च गुणवत्ता की समाग्री थोक मूल्य पर प्राप्त होगी। भविष्य में आवश्यकतानुसार प्रतिमाह इनकी मात्रा भी बढ़ायी जायेगी। इससे जिले में स्व-सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं को न केवल रोजगार प्राप्त हो रहा है अपितु गुणवत्तापूर्ण खाद्य समाग्री से बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य एवं पोषण वृद्धि में भी सहायता हो रही है।
जिले के सभी 138 छात्रावासों एवं आश्रमों के लिए बिहान समूह द्वारा निर्मित दैनिक उपयोग की सामग्रियों के लिए अन्नपूर्णा भण्डार की स्थापना की गई है। जिला प्रशासन द्वारा 98 हजार की लागत से 9 प्रकार के दैनिक उपभोग के सामानों की सप्लाई की जा रही है। जिसमें धनिया, हल्दी, मिर्च, मसाले, राहर एंव मसूर दाल, चना, मटर, नहाने का साबुन, वाशिंग पाउडर शामिल हैं।

उड़द, कुल्थी, मूंग, फूलझाड़ू, कोदो, मण्डिया भी करेंगे सप्लाई  

आगामी दिनों में कुल 33 प्रकार की समाग्री जिनमें उड़द, कुल्थी, मूंग, फूलझाड़ू, कोदो, मण्डिया आदि समानो की आपूर्ति भी इन समूहों के माध्यम से की जायेगी। साथ ही हरी सब्जियों से लेकर चांवल एवं अन्य सभी जरूरत की समाग्रियां निकटतम गांवो में स्व-सहायता समूहों द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी जो इन ग्रामीणों की आय में वृद्धि के साथ उनके आत्म सम्मान में वृद्धि का माध्यम बनेंगे।

38 प्रकार की दैनिक उपभोग की सामग्रियों का किया जा रहा निर्माण 

वर्तमान में इन समूहों द्वारा चुड़ी डिजाईनिंग, एलईडी बल्ब, सेनेटरी पैड, साबुन, वाशिंग पाउडर, धनिया, हल्दी, चना, दाले, मसाले, वस्त्रर्, इंट, महुआ लड्डू, मसाला, अचार, जैविक खाद्, फिनाईल रॉटआयरन, बेलमेटल, आदि 38 प्रकार की दैनिक उपभोग की समाग्रियों का निर्माण किया जा रहा है। जिला प्रशासन द्वारा आगामी दिनों में जिले के सभी विकासखण्डों के चार-चार बड़े बाजारों का चयन कर बिहान समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों के विक्रय हेतु अलग दुकानों की व्यवस्था की जा रही है। इन बाजारों तक उत्पादों को पहुंचाने की व्यवस्था भी प्रशासन द्वारा की जायेगी

No comments:

Post a Comment

Translate