Wednesday, May 20, 2020

पीएचई में 30 वर्षों से जमे तकनीकि अधिकारी, पेयजल समस्या निदान की मिली जिम्मेदारी

पीएचई में 30 वर्षों से जमे तकनीकि अधिकारी, पेयजल समस्या निदान की मिली जिम्मेदारी 

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग सिवनी में 30 वर्षों से पदस्थ है कई उपयंत्री

सिवनी। गोंडवाना समय। 
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग उपखंड सिवनी के अंतर्गत विकासखंड सिवनी में ग्रामीण क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था के लिये हैंड पंप, नल जल प्रदाय योजना के माध्यम से की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों के अधिकांश गांवों में फ्लोराइड युक्त पानी है, जो कि मानव स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा लगभग पिछले 30 वर्षों में फ्लोराइड मद से करोड़ों रुपए खर्च किया गया है। इसके बाद आज भी अधिकांश ग्रामीण क्षेत्रों में फ्लोराइड युक्त पानी पीकर ही ग्रामीणवासी अपना जीवन यापन कर रहे हैं। यही कारण हे कि ग्रामीण क्षेत्र में बहुत सी बीमारियों से ग्रामीणजन प्रभावित होते है। 

उपयंत्रियों का स्थानांतरण नहीं हो पा रहा आखिर क्यों ?


वहीं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में पदस्थ अधिकारी कर्मचारी एवं फील्ड में काम करने वाले अधिकांश तकनीकि अधिकारी कर्मचारी सिवनी जिले में ही पिछले लगभग 30 वर्षों से एक ही स्थान पर पदस्थ है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के पदस्थ उपयंत्री स्थानीय जनप्रतिनिधियों से गहरी पेठ बनाकर सरकार सत्ता को साधने में कामयाब हो जाते है। वहीं शासन प्रशासन भी 30 वर्षों से एक ही स्थान पर जमे हुये उपयंत्रियों का स्थानांतरण करवा नहीं पा रहा है आखिर क्यों ? ऐसा प्रतीत होता है कि इन अधिकारी कर्मचारियों को शासन का संरक्षण प्राप्त है। 

30 वर्षों से जमे बैठे तकनीकि अधिकारी जांच का विषय 


ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की व्यवस्था सुचारू रूप संचालित करने के लिये 30 वर्षों से एक ही स्थानों पर जड़े जमाकर बैठे हुये उपयंत्रियों का स्थानांतरण करना चाहिये तभी पेयजल व्यवस्था में सुधार हो सकता है। वहीं शासन के लिये भी यह जांच का विषय है कि कैसे 30 वर्षों से एक ही स्थान पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में उपयंत्री व कर्मचारी जमे हुये इनका स्थानांतरण क्यों नहीं किया जा रहा है। 

कंट्रोल रूम का ये है नम्बर 07692220560 

कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय खण्ड सिवनी द्वारा जानकारी दी गई कि ग्रीष्मकाल में ग्रामीण क्षेत्रों में सुव्यवस्थित पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु खण्डस्तरीय कंट्रोल रूम का गठन किया गया है। जिसका नम्बर 07692220560 है। जिस पर ग्रामीणजन पेयजल समस्याओं को लेकर शिकायत कर सकेंगे । उक्त कंट्रोल रूम का प्रभारी मानचित्रकार श्री एन.के.बंसोड़ को नियुक्त किया गया है तथा तिथिवार कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। 

ग्रीष्मकालीन पेयजल समस्या के निदान हेतु कंट्रोल रूम का हुआ गठन 

ग्रीष्मकाल में ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाली पेयजल समस्याओं के त्वरित निराकरण हेतु लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा खण्डस्तरीय कंट्रोल रूम का गठन किया गया है । जिसका नम्बर 07692- 220560 है। जिस पर ग्रामीणजन पेयजल समस्याओं को लेकर शिकायत कर सकेंगे । इसी तरह ग्रामीणजन उपखण्डस्तरीय कार्यालय में कार्यरत संबंधित सहायक यंत्री एवं उपयंत्री को भी पेयजल समस्या एवं हैण्डपंप संधारण हेतु सीधे सम्पर्क कर सकते हैं। संबंधित कर्मचारी /अधिकारी द्वारा शिकायतों का त्वरित निराकरण किया जाएगा। कार्यक्षेत्रवार अधिकारी/कर्मचारी निम्नानुसार है सम्पूर्ण सिवनी एंव कुरई विकासखण्ड के लिए सहायक यंत्री श्री ए.एस. अवस्थी 947956235, सिवनी विकाखण्ड के लिए उपयंत्री श्री आर.जी.गभने 7648825267, उपयंत्री श्री टी.सी.निमजे 7692951095, कुरई विकाखण्ड के लिए श्री सुनील उपाध्याय 9425843473 एवं उपयंत्री श्री दिनेश आर्मो 9039778316, सम्पूर्ण छपारा एंव धनौरा सहायक यंत्री श्री आलोक जैन 9425176037 एवं धनौरा विकासखण्ड के लिए उपयंत्री श्रीमति ज्ञानेश्वरी उईके 8989624811, छपारा विकासखण्ड उपयंत्री श्री दीपक धुर्वे 7089662104, सम्पूर्ण लखनादौन एंव घंसौर विकासखण्ड के लिए सहायक यंत्री श्री दिनेश खरे 9425434745, लखनादौन विकासखण्ड के लिए उपयंत्री श्री भुवनेश्वर गौतम 7566345485 लखनादौन विकासखण्ड के लिए उपयंत्री कुमारी मनीषा उइके 7566090915, घंसौर विकासखण्ड के लिए उपयंत्री श्री अखिलेश उइके 8435864758 एवं उपयंत्री श्री बी.एल. हरिनखेडे़ 9425843252, सम्पूर्ण केवलारी एंव बरघाट विकासखण्ड के लिए सहायक यंत्री श्री ए.डब्लू.खान 9425445793 तथा उपयंत्री श्री एस. के कोरी 9407815748 को केवलारी विकासखण्ड तथा श्रीमति उपयंत्री इमलेश्वरी कावरे(देशमुख) 9479629312 से बरघाट विकासखण्ड के अंतर्गत आने वाले ग्रामों की पेयजल एवं हेण्डपंप संबंधी समस्या हेतु सम्पर्क कर सकते हैं। 

No comments:

Post a Comment

Translate