Saturday, May 2, 2020

आईपीएफ महिला मंडल ने कोतवाली बालाघाट एंव तिरोड़ी एसडीओपी को मास्क बनाकर किया भेंट

आईपीएफ महिला मंडल ने कोतवाली बालाघाट  एंव तिरोड़ी एसडीओपी को मास्क बनाकर किया भेंट 

बालाघाट। गोंडवाना समय। 
कोरोना महामारी से भारत देश  ही नहीं बल्कि अन्य कई  देश इस समय कड़े संघर्ष कर रहे है। जिसमें हमें अपने देश के साथ सहयोगी रूप में खड़ा होना होगा और जितना हो सके मानव धर्म के लिए सेवा करना हमारा परम कर्तव्य है, इस पर विचार कर कार्य करना होगा। 
आईपीएफ महिला मंडल बालाघाट की टीम ने इसी बात को ध्यान में रखते हुए, घर में बैठे बैठे मानव सेवा करने की सोची, जिसमें अपने ही ग्रुप की सिलाई करने वाली महिलाएँ बालाघाट से रीना धुर्वे, भरवेली  से कविता उइके, रामशिला मरकाम, कौशल्या उइके, गीता इनवाती के द्वारा मास्क बनवा कर कोतवाली बालाघाट टी.आई  विजय सिंह परस्ते को रीना बिसराम धुर्वे, रमा तेकाम, नीलू महेन्द्र मसराम, यशोदा हेमंत ठाकुर जरूरतमंदों तक पहुँचाने हेतु भेंट दिया गया इसी तरह तो वहीं  कोतवाली बालाघाट सब इंसपेक्टर दीप्ति सिंघोरे ने टीम को सेनेटाइज भेंट किया। 

मास्क के साथ सामग्री भी दी भेंट 

वही कटंंगी एसडीओपी श्री जगन्नाथ मरकाम को ज्योति मरकाम ने मास्क भेंट किया। वही रीना धुर्वे ने अपनी शादी की सालगिरह पर भी बीते 19 अप्रैल  को भी बिसराम धुर्वे के माध्यम से अप्रैल को थाना प्रभारी कोतवाली बालाघाट तक भी मास्क पहुँचाया था। इसी प्रकार आईपीएफ महिला मंडल अपनी यथाशक्ति कोरोना महामारी  के समय सहयोग प्रदान कर रही है। बीते 22 अप्रैल को जिला प्रशासन  बालाघाट द्वारा बनाया गया खाद्यान्न बैंक में भी सूखा अनाज प्रदान किया गया था। इस कार्य में महत्वपूर्ण विशेष सहयोगी के रूप में महिलाएँ रेखा  इड़पाचे, रंजीता उइके, रेखा सैय्याम, रश्मि उर्सेंडी, निर्मला ठाकुर, कादम्बिनी मरकाम, पूनम कोड़ापे, प्रिंसी मर्सकोले अपनी भूमिका निभा रही है। 

No comments:

Post a Comment

Translate