गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Thursday, May 14, 2020

ऐसे ही नहीं मिली आलोक को संगठन के जिला अध्यक्ष की कमान

ऐसे ही नहीं मिली आलोक को संगठन के जिला अध्यक्ष की कमान 

छात्र आंदोलन, संगठन की सफलतम जिम्मेदारी के बाद मिला सम्मान 

सिवनी। गोंडवाना समय।
छात्रों व बेरोजगार युवक-युवतियों के लिये संघर्ष कर शैक्षणिक व स्वरोजगार आंदोलन की भट्टी में तपकर, धरातल समस्याओं के विषयों को गंभीरता से लेकर जमीन पर काम करते हुये, दिखावा कम, काम ज्यादा, प्रचार भी कम और छात्रों की समस्या रही हो या अन्य राजनैतिक आंदोलनों में हमेशा फोटो सेशन के मामले में पीछे रहकर विपरीत परिस्थितियों में समाधान कराने में अपनी अग्रणी भूमिका निभाकर, विरोध के समय भी मुस्कुराता हुआ चेहरा के रूप में दिखाई देने वाले आलोक दुबे को भारतीय जनता पार्टी जिला सिवनी के जिला अध्यक्ष का दायित्व सिवनी जिले के वरिष्ठ भाजपा नेतृत्व की सहमति के उपरांत प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री विष्णुदत्त शर्मा ने ऐसे ही नहीं सौंप दिया है।
       
 संगठन का प्रमुख दायित्व आलोक दुबे को दिये जाने के पीछे मूल कारणों में भारतीय जनता पार्टी के निष्ठावान, साधारण कार्यकर्ता के रूप निरंतर सक्रिय रहने वाले श्री आलोक दुबे पार्टी की ओर से मिलने वाली हर जिम्मेदारियों का निर्वाहन बड़ी ईमानदारी करते रहे है। उनकी निष्ठा, समर्पण भाव एवं भाजपा के वरिष्ठ तथा कनिष्ठ कार्यकर्ताओं के प्रति आदरभाव के कारण ही वरिष्ठ नेताओं एवं साधारण कार्यकर्ताओं के दिलों में अपनी  निर्विवाद एवं सर्वस्वीकार व्यक्तित्व वाले नेता के रूप में पहचान बनाने के कारण ही सौंपा गया है।

प्रहलाद पटेल ने की थी प्रशंसा तो सांसद रामनरेश त्रिपाठी ने बताया था कुशल नेतृत्वकर्ता

विद्यार्थियों के हक, अधिकार व उनकी समस्याओं का समाधान कराने के लिये विद्यार्थी जीवन से ही राजनैतिक क्षमताओं का लोहा मनवाने वाले श्री आलोक दुबे अखिल भारीतय विद्यार्थी परिषद के विभिन्न दायित्वों का निर्वाहन करते हुये भारतीय जनता पार्टी की सक्रिय राजनीति में कदम बढ़ाते हुये अग्रसर है।                          विद्यार्थी जीवन की छात्र राजनीति के कुशल नेतृत्व के कारण ही उनके साथ ग्रामीण व शहरी क्षेत्र से समर्पित युवा टीम हमेशा साथ रहकर सक्रिय रही है। व्यवहार में सादगी कार्यकर्ताओं के प्रति प्रेम भाव के कारण उनके व्यापक संपर्क उन्हें मिलने वाली जिम्मेदारियों को सहजता से पूर्ण करने में सहायक रही है। जिम्मेदारियों को सहजता से पूर्ण करने एवं वरिष्ठों के प्रति आदरभाव के कारण वे वरिष्ठ एवं कनिष्ठजनो के बीच गहरी पैठ बनाने में सफल रहे है।
         विद्यार्थी परिषद द्वारा वर्ष 1998 के समय श्री आलोक दुबे के नेतृत्व में फीस वृद्धि के विरोध को लेकर छिंदवाड़ा विभाग में विद्यार्थियों का जो छात्र आंदोलन खड़ा हुआ था, उसका व्यापक असर रहा। जिसका लाभ भाजपा को लोकसभा चुनाव में प्राप्त हुआ।
           जिसकी सराहना पूरे प्रदेश में हुई थी और बालाघाट से उस समय निर्वाचित हुये सांसद प्रहलाद सिंह पटेल ने मुक्तकंठ से प्रशंसा की थी। सिवनी से निर्वाचित सांसद रामनरेश त्रिपाठी ने आलोक दुबे को भविष्य का कुशल नेतृत्वकर्ता बताया था जो अब स्पष्ट दिखाई दे रहा है।

स्वागत नहीं वरिष्ठों का आशीर्वाद लेने पहुंचे पहले 

श्री आलोक दुबे को भाजपा जिला अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी प्राप्त होते ही उन्होंने अपने स्वागत सत्कार के पूर्व ही जिले में निवासरत वरिष्ठ भाजपा नेताओं एवं समर्पित भाव से भाजपा के लिये काम करने वाले कार्यकर्ताओं के घर पहुँचकर वरिष्ठजनों का आशीर्वाद प्राप्त किया एवं कार्यकर्ताओं से पार्टी की मजबूती व जन-जन को जोड़ने के लिये कार्य करने की अपेक्षा व्यक्त किया।
             श्री आलोक दुबे निरंतर सक्रिय जमीनी कार्यकर्ता है, उन्होंने संगठन द्वारा दी जाने वाली समस्त जिम्मेदारियों को निभाते हुये सफलता के सोपान स्थापित किये है। हाल ही में वर्ष 2019 में हुए पार्टी के सदस्यता अभियान में सह जिला प्रभारी की भूमिका में रहते हुए रिकार्ड सदस्यता कराने में प्रमुख भूमिका निभाई है। भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष श्री वेद सिंह ठाकुर के कार्यकाल में श्री आलोक दुबे भाजपा के महत्वपूर्ण दायित्व निभा चुके है। 

रिकार्ड सदस्यता अभियान, चुनाव संचालन से हुई पार्टी की जीत

राजनैतिक क्षेत्र में छात्र राजनीति से वे बेहद लोकप्रिय नेतृत्व क्षमताओं का प्रदर्शन करते रहे है। जिले के महाविद्यालयो में अखिल भारतीय विद्यार्थी को व्यापक सम्मानजनक स्थिति में स्थापित करने के लिये उनकी भूमिका महत्वपूर्ण रही है। भाजपा की सक्रिय राजनीति में श्री आलोक दुबे अनेक जिम्मेदारियों का निर्वाहन करते रहे है।
         जुझारू व्यक्तित्व के धनी राष्ट्रीय नेता प्रहलाद पटेल, पूर्व सांसद रामनरेश त्रिपाठी,पूर्व सांसद श्रीमती नीता पटेरिया के साथ श्री आलोक दुबे निरंतर सक्रिय भूमिका में रहे है। पूर्व सांसद द्वय के. डी. देशमुख एवं बोध सिंह भगत के कार्यकाल में श्री आलोक दुबे सांसद प्रतिनिधि का दायित्व निभा चुके है।
           श्री आलोक दुबे युवा मोर्चा के कार्यकर्ता के रूप में भी युवा नेतृत्व का प्रतिनिधित्व कर चुके है, वे युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य रहते हुए छिन्दवाड़ा और बालाघाट जिले के प्रभारी रहे है। श्री आलोक दुबे वर्ष 2014 एवं वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में चुनाव संचालन समिति में प्रमुख जिम्मेदारी निभा चुके है तथा उन्होंने विधान सभा, नगर पालिका एवं पंचायत चुनावो में प्रभारी के विभिन्न दायित्वों का निर्वहन किया है।                   विभिन्न बड़ी बड़ी जिम्मेदारियों के साथ आलोक दुबे बूथ स्तर के भी आदर्श कार्यकर्ता माने जाते है, वे सदैव भाजपा द्वारा जारी व्यवस्था में पन्ना प्रमुख, पालक, संयोजक, वार्ड संयोजक पर विशेष जोर देकर कार्य करते है पिछले नगर पालिक चुनाव में वे 4 वार्डो के प्रभारी थे, जिनमे से तीन में भाजपा ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी ।

छात्र राजनीति की सक्रियता ने दी उन्हें पहचान

श्री आलोक दुबे ने जिला अध्यक्ष की घोषणा के बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सिवनी कार्यालय में जाकर स्वामी विवेकानंद जी एवं माँ सरस्वती के तेल चित्र में माल्यार्पण किया। ज्ञातव्य हो कि श्री आलोक दुबे लंबे समय तक अभाविप के छात्रनेता रहे है, उन्होंने कालेज इकाई अध्यक्ष, नगर अध्यक्ष जिला सह संयोजक, जिला संयोजक, विभाग प्रमुख, जैसे दायित्वों का निर्वहन किया है।

         
           वर्ष 2007 में सिवनी में हुए अभविप के प्रांतीय अधिवेशन के संयोजक थे। वही 2011 में यूथ अगेन्स्ट करप्शन नामक अभाविप की आंदोलन श्रंखला के जिला संयोजक की भूमिका में थे। अभाविप के अतिरिक्त वे अन्य अनुशांगिक संगठन जैसे सहकार भारती स्वदेशी जागरण मंच, विश्व हिंदू परिषद, संस्कृत भारती एवं अन्य संगठनों के अभियान में सक्रियता के साथ शामिल रहे।
       आलोक दुबे अपनी कुशल संगठन क्षमता के लिए भी जाने जाते है, उन्होंने न सिर्फ बड़ी संख्या में युवा एवं महिलाओं को पार्टी की रीति नीति से जोड़ा बल्कि उनको रोजगार व्यवसाय व स्वरोजगार में प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष  रूप से सुदृढ़ किया।
     
सामाजिक कार्यो में उनकी भूमिका सदैव अग्रणी रही है वे  नेहरु युवा केन्द्र, श्री महावीर व्यायाम शाला, पंचज विकास परिषद, महाकाल समिति जैसे सामाजिक संगठनों से जुड़े रहे है।
वर्ष 2018 में स्वदेशी अभियान का नेतृत्व करते हुए उन्होंने जिले भर में चीनी वस्तुओं के बहिष्कार से संबंधित विभिन्न कार्यक्रमो का संचालन किया।
          उनके नेतृत्व में फीस वृद्धि को लेकर आंदोलन, क्रिसेंट एलायंस मजदूर आंदोलन, वेलेंटाइन डे विरोध और भ्रष्टाचार के खिलाफ युवा जैसे बड़े आंदोलनो को आज भी लोग याद करते है। विशाल छात्र सम्मेलन, सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता, भूकम्प सहायता राशि संग्रहण जैसे रचनात्मक कार्यो ने उन्हें अलग पहचान दी। विगत 20 वर्षों में हुए सभी छात्रसंघ चुनाव में वे सबसे प्रमुख भूमिका में रहे है।

वर्तमान संकट के समय, समर्पण के साथ जुड़ने का किया आग्रह 

भारतीय जनता पार्टी की पंच निष्ठाओं से अभिभूत आलोक दुबे की कार्यशैली और कुशल संगठन क्षमता को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा ने उन्हें जिला अध्यक्ष पद का दायित्व सौंपा है।
       भाजपा जिला अध्यक्ष का पदभार ग्रहण के पश्चात श्री आलोक दुबे ने देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जे.पी. नड्डा, प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एवं प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा के निदेर्शानुसार कोरोना संक्रमण के समय भाजपा के जनजागरण अभियान सेवा कार्यो में कार्यकर्ताओं से अधिक समर्पण के साथ जुड़ने का आग्रह किया।

No comments:

Post a Comment

Translate