Thursday, June 11, 2020

आज के युवाओ में कोयापुनेम जानने की ललक, समाज में फैली भ्रांतियों को करेंगे दूर

आज के युवाओ में कोयापुनेम जानने की ललक, समाज में फैली भ्रांतियों को करेंगे दूर

शहरी जनजाति सगाओ का ग्रामीण जनजाति सगाओ की मान्यता से भिन्न क्यों ?

लेखिका - रायताड़ अनामिका पुट्टे 
जिला अध्यक्ष -गोंडवाना स्टूडेंट्स यूनियन जबलपुर
कोयापुनेम जैसे-जैसे लोगों के जीवन में जुड़ रहा लोगों की भावना कोयापुनेम की ओर बढ़ रही हैं। प्रकृति से जुड़ा हर पहलु हमें कोयापुनेम की ओर प्रभावित करता हैं। हम आज अपनी संस्कति, परंपरा को बचाने की बात तो करते हैं परन्तु समाज में फैली अलग-अलग भ्रान्ति को दूर करने के लिए हम असफल हो रहे है। हमें सोचना होगा कि समाज को आधुनिकता की पटल में लाने के लिये रचनात्मक कार्य करना होगा। 

हमारी पारम्परिक संस्कृति का सम्मान करना हमारा दायित्व है

अच्छी शिक्षा और बेहतर जीवन के लिये वर्तमान की जनरेसन को समझाने की आवश्यकता है। वही हमारी पारम्परिक संस्कृति का सम्मान करना हमारा दायित्व है। आज के पढ़े लिखे युवा और कोयापुनेम के जानकार के द्वारा हमारी गौरवशाली व्यवस्था को हमारे न जानने वाले सगाओ तक पहुंचाने की आवशयकता है क्योंकि आज भी शहरी जनजाति सगाओ का ग्रामीण जनजाति सगाओ की मान्यता से भिन्न है। जिसके फलस्वरूप एकता की मिशाल अलग-अलग नजर आ रहा है क्यों ? 

जहाँ कोयापुनेम की नींव मजबूत बनेगी

जनजातियों की अपने ऐतिहासिक, पुरातात्विक, यथार्थवादी, प्राकृतिक, वैज्ञानिक, तथ्यपरख, बौद्धिक, मौलिक, एवं पुरखों की महान विरासत से प्राप्त आदिम सामाजिक संस्कारों को धारण रखने की अवधारणा को एक करना हमारा मकसद है। आधुनिक परिवेश में भी प्रकृति की तरह अटल नैतिक एवं सैद्धांतिक विकासक्रम की 
आवश्यकता है। जहाँ कोयापुनेम की नींव मजबूत बनेगी। आज के युवाओ में बढ़ती समझदारी और जिम्मेदारी की भार, नये एवं आधुनिक सोच का स्थापित होना, पुनेम के प्रति जानने समझने की ललक है। 

विकसित होने की गति थोड़ी धीमी है

हमारे समाज की सफलता एवं यहाँ विकसित हो रही आधुनिकता सोच को दशार्ता है। आज हम दुनिया के तमाम जनजाति सगाओ के साथ कदम से कदम मिलकर चल रहे है, पर अगर देखा जाये तो हमारे विकसित होने की गति अपेक्षा से थोड़ी धीमी है। गति के धीमा होने के कई कारण है, जिनकी चर्चा हम आगे करेंगे। बरहाल मेरी कलम यही रूकती है। सेवा सेवा सेवा जोहार 
लेखिका - रायताड़ अनामिका पुट्टे 
जिला अध्यक्ष -गोंडवाना स्टूडेंट्स यूनियन जबलपुर

No comments:

Post a Comment

Translate