Thursday, June 11, 2020

कोयतूर भारत के युवा, पुरखों की बताये रास्ते में चल, लक्ष्य कोई दूर नहीं

कोयतूर भारत के युवा, पुरखों की बताये रास्ते में चल, लक्ष्य कोई दूर नहीं

आपके विचार गोंडवाना समय अखबार 
लेखक-राहुल परधान 
जिला महासचिव-
गोंडवाना स्टूडेंट्स यूनियन बालाघाट
सफलता, कामयाबी या जीत नाम कोई भी हों इन सबका अर्थ एक ही हैं। इन्हें हासिल करना बहुत ही गर्व की बात होती हैं। सफलता हासिल करके ही लोग इतिहास रचते हैं लेकिन इस कामयाबी का फायदा तभी हैं जब इसकी खुशी मनाने वाले साथ हों। हमें आपसी भेदभाव भुलाकर, प्रेम व सद्भाव से कोयतूर भारत राष्ट्र निर्माण की नींव डालना होगा। कोयतूर समुदाय के रीति-नीति, संस्कृति, रूढ़ी एवं परम्परा का संरक्षण, पेन पुरखो की जानकारी और उनके बताये रास्ते पर चलकर लक्ष्य हासिल कर सकें।

क्रांति परिश्रमी विचारकों और परिश्रमी कार्यकतार्ओं से पैदा होती है


क्रांति परिश्रमी विचारकों और परिश्रमी कार्यकतार्ओं से पैदा होती है। एक क्रांतिकारी युवा को अध्ययन-मनन को अपनी जिम्मेदारी बना लेना चाहिए। गोंडवाना स्टूडेंट्स यूनियन के तृतीय राष्ट्रीय अधिवेशन की अवसर पर क्रांतिकारी युवाओ एवं जीएसयू परिवार की उत्साह के लिये चंद लाइन समर्पित करता हूँ। 

ये तो बस शुरूआत हैं
तुम्हें आगे बढ़ते जाना हैं,
हासिल करने हैं लक्ष्य कई
तुमको इतिहास रचाना हैं।

अपने समुदाय के प्रति ईमानदार, निष्ठावान,और समझदारी कितनी महत्वपूर्ण है

मानव की प्रज्ञा, मन एवं मानवीय चेतना वो सब कर सकती हैं, जो इन संकटो और चुनौतियों को दूर करने के लिए आवश्यक हैं। यदि आप बुद्धिमान हो, विद्वान हो परन्तु अपने समुदाय के प्रति ईमानदार, निष्ठावान,और समझदारी कितनी महत्वपूर्ण है, जिसका नेतृत्व कर पाना बड़ी चुनौती हैं। बुद्धि की भरपाई के लिए ईमानदार और निष्ठावान होना अत्यंत आवश्यक हैं। गलत को गलत कहने की क्षमता आप में नही हैं, तो आपकी प्रतिभा व्यर्थ हैं।

जो गिरा हैं वो उठा हैं,
जो उठा हैं वो चला हैं,
जो चला हैं वो बढा हैं,
और जो बढा हैं, 
उसी ने इतिहास गढा हैं।

संदेश-नारी राष्ट्र की निमार्ती हैं, 

महिलाओं की प्रगति ही किसी समाज के विकास का निर्धारण करती हैं। नारी राष्ट्र की निमार्ती हैं, राष्ट्र का हर नागरिक उसकी गोद में पलकर आता हैं। नारी को जागृत किए बिना राष्ट्र का विकास संभव नही। हम सभी को मातृशक्तियो के प्रति सम्मान करना और शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ावा देना चाहिए। जिससे आने वाली पीढ़ियो को अच्छा भविष्य और महिलाओं के लिए समाज और देश में व्याप्त कुरीतियों का दमन हों सकें।
लेखक-राहुल परधान 
जिला महासचिव-
गोंडवाना स्टूडेंट्स यूनियन बालाघाट

No comments:

Post a Comment

Translate