Saturday, June 6, 2020

शराब के कारण एक भाई की हुई हत्या और दूसरा भाई बन गया हत्यारा

शराब के कारण एक भाई की हुई हत्या और दूसरा भाई बन गया हत्यारा 

शराब सरकार के लिये भरती है खजाना तो कई परिवार को कर देती है बर्बाद

हत्या के आरोपी को कुरई पुलिस ने किया 05 घण्टे में गिरफ्तार

सरकार किसी भी राजनैतिक दल की हो वह शराब से ही राजस्व का खजाना भरने को महत्वपूर्ण स्थान देती है, इसका प्रमाण पूरा देश ने देशव्यापी संकट के समय देख लिया है और वर्तमान समय में भी यदि हम देखे तो आवश्यक सामग्री की दुकानों को खोलने का समय शराब की दुकान से कम दिया गया है। वहीं हम बात करें सरकार में बैठे अर्थशास्त्रियों बुद्धिजीवियों की तो कोई भी आज तक शराब के अलावा राजस्व जुटाने का विकल्प नहीं खोज पाये है। सरकार के लिये शराब राजस्व जुटाने का साधन है वहीं नशामुक्ति अभियान चलाने वाले इसे मानवीय पतन, मानवीय क्षति, परिवारिक विवाद, आर्थिक बर्बादी के साथ मानव की असमय मृत्यू का कारण भी मानते है। देश हो या प्रदेश विकास की गति में तो आगे बढ़ रहा है लेकिन शराब व अन्य नशा जैसी प्रवृत्ति बढ़ने से कहीं न कहीं सामाजिक पतन का कारण भी बन रहा है। सिवनी जिले के कुरई थाना अंतर्गत हरहरपुर ग्राम में एक ही परिवार के दो सगे भाई के बीच विवाद का कारण एक भाई के द्वारा अत्याधिक शराब का सेवन करना बना । जिसमें एक भाई की मृत्यू हो गई तो एक भाई का जीवन जेल की सलाखों की पीछे गुजारने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।  

सिवनी। गोंडवाना समय।
कुरई पुलिस थाना अंतर्गत ग्राम हरहरपुर निवासी कुसुमबाई पति स्व. टेकचन्द डहेरिया द्वारा पुलिस को 5 जून 2020 को सूचना दी गई कि उसके पुत्र राजकुमार की हत्या उसके दूसरे पुत्र रामकुमार ने कर दी है कि सूचना पर पुलिस थाना कुरई में अपराध क्रमांक 200/2020 धारा 302 भा.द.वि.का कायम कर विवेचना में लिया गया।
घटना की सूचना पुलिस अधीक्षक सिवनी श्री कुमार प्रतीक एवं अति. पुलिस अधीक्षक श्री कमलेश खरपुसे को मिलने पर पुलिस अधीक्षक द्वारा निर्देशित कर तत्काल कुरई थाना प्रभारी के. एस. मरावी के नेतृत्व में में टीम गठित कर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु प्रयास प्रारंभ किये गये।

आरोपी घटना के बाद से ही था फरार 

कुरई थाना प्रभारी अपनी टीम के साथ घटना स्थल ग्राम हरहरपुर पहुंचे। जहां मृतक का शव घर में रखा पाया गया। शव का निरीक्षण करने पर मृतक की नाक से खून निकल रहा था और मुंह पर चोट के निशान थे। वहीं आरोपी घटना के बाद से ही फरार था। पुलिस अधीक्षक के निदेर्शानुसार फॉरेंसिक टीम छिन्दवाड़ा के द्वारा घटना स्थल पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण कर तकनीकी सहायता हेतु साइबर सेल की मदद ली जाकर आरोपी की तलाश के प्रयास प्रारंभ किये गये।

आरोपी को पैदल नागपूर जाते हुये पुलिस ने पकड़ा 

उप निरीक्षक रोहित ककोड़िया एवं उनकी टीम द्वारा गांव की घेराबन्दी कर मुखबिर की सूचना पर गांव के बाहर ही आरोपी रामकुमार डहेरिया जो कि पैदल ही नागपुर की  ओर जा रहा था, उसे हिरासत में लिया गया। हिरासत में लेने के बाद पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा बताया गया कि मृतक राजकुमार प्रतिदिन शराब पीकर घर आता था और परिवार के लोगों के साथ अपशब्दों का प्रयोग कर मारपीट करता था। इसकी इस आदत के कारण मृतक की पत्नी एक साल पहले भी घर छोड़कर चली गई थी। 

मृतक अत्याधिक शराब पीकर प्रतिदिन करता था विवाद 

हत्या की घटना को अंजाम देने वाले रामकुमार डेहरिया ने पुलिस को पूछताछ के दौरान यह भी बताया कि 4 जून 2020  को शाम के समय मृतक राजकुमार शराब पीकर घर आया था और बहन के साथ मारपीट करने लगा। रात में जब वह 9 बजे में घर आया तो मृतक मुझसे भी लड़ाई झगड़ा करने लगा। इस दौरान झुमालामी होने लगी तब मैंने राजकुमार को हाथ मुक्के से सिर मुँह नाक में मारा जिससे राजकुमार की नाक में चोट लगने से खून निकलने लगा और उसकी मौत हो गई। यह देखकर में डर गया और वहां से भाग गया।

आरोपी को पकड़ने में पुलिस ने किया सराहनीय कार्य 

हत्या करने वाले आरोपी रामकुमार पिता स्व.टेकचन्द डहेरिया उम्र-34 साल, निवासी-हरहरपुर, थाना-कुरई को घटना के बाद ही गिरफतार करने में कुरई पुलिस थाना प्रभारी के. एस. मरावी, उप निरीक्षक रोहित ककोडिया, उप निरीक्षक दामिनी हेड़ाऊ, प्रधान आरक्षक 261 राजकुमार कुमरे, आरक्षक 572 ओमकार परतेती एवं आरक्षक 107 कमलेश राहंगडाले, सैनिक 50 प्रकाश जंघेला ने सराहनीय कार्य किया है। 

No comments:

Post a Comment

Translate