Monday, September 28, 2020

मुख्यमंत्री के वक्तव्य से संपूर्ण वन कर्मचारी कर रहे अपमानित महसूस, 1 अक्टूबर को मुख्यमंत्री के नाम सौंपेंगे ज्ञापन

मुख्यमंत्री के वक्तव्य से संपूर्ण वन कर्मचारी कर रहे अपमानित महसूस, 1 अक्टूबर को मुख्यमंत्री के नाम सौंपेंगे ज्ञापन 

वन कर्मचारियों व अधिकारियों की बदौलत वन व वन्य प्राणी सुरक्षित, लगातार प्रदेश को मिल रहा टाईगर स्टेट का दर्जा


सिवनी। गोंडवाना समय। 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा दिये गये उदबोधन तथा कथित वचन नाकेदार और रेंजर वनों में रहने वाले आदिवासियों पर अन्याय करते हैं एवं जबरदस्ती उनके बकरा-बकरी, मुर्गा-मुर्गी उठा लेते हैं व उन्हें प्रताडित करते हैं रेंजर-डेंजर है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के इस वक्तव्य से संपूर्ण वन कर्मचारी जगत हतप्रभ होकर व्यथित, असंतुष्ट तथा अपने आप को अपमानित महसूस कर रहा है। जिसको लेकर आगामी 1 अक्टूबर 2020 को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जायेगा। 

वनाधिकार कार्यक्रम के तहत दिया था वक्तव्य

उक्त बात की जानकारी मध्यप्रदेश के सिवनी जिले के म.प्र. वन कर्मचारी संघ शाखा सिवनी के अध्यक्ष श्री नरेन्द्र कुमार ठाकुर ने देते हुये बताया कि 19 सितम्बर 2020 को व अधिकार अधिनियम 2005 एवं संशोधित नियम 2006 के संबंध में जनजाति संग्रहालय भोपाल में आयोजित उत्सव के दौरान मुख्यमंत्री के द्वारा दिये गये उदबोधन तथा कथित वचन नाकेदार और रेंजर वनों में रहने वाले आदिवासियों पर अन्याय करते हैं एवं जबरदस्ती उनके बकरा-बकरी, मुर्गा-मुर्गी उठा लेते हैं व उन्हें प्रताड़ित करते हैं रेंजर-डेंजर है। 

अम्बेडकर चौक में कोविड-19 के दिशा निदेर्शों का पालन कर होंगे एकत्रित 

मुख्यमंत्री के इस वक्तव्य से संपूर्ण वन कर्मचारी जगत हतप्रभ होकर व्यथित, असंतुष्ट तथा अपने आप को अपमानित महसूस कर रहा है। जबकि वन अधिकारी एवं कर्मचारी रातदिन सतत रूप से वनों एवं वन्य प्राणियों की सुरक्षा में लगा रहा है तथा खुली शासकीय संपदा की सुरक्षा करता है। वन अधिकारियों, कर्मचारियों की अथक मेहनत एवं प्रयासों से ही मध्यप्रदेश में सबसे अधिक वन क्षेत्र है एवं लगातार टाइगर स्टेट का दर्जा प्राप्त हो रहा है।
         म.प्र. वन कर्मचारी संघ मुख्यमंत्री के इस वक्तव्य की घोर निंदा करता है। श्री नरेन्द्र ठाकुर ने बताया कि प्रांत अध्यक्ष म.प्र. वन कर्मचारी संघ भोपाल निर्मल तिवारी के निदेर्शानुसार 1 अक्टूबर 2020 को दोपहर 2 बजे मुख्यमंत्री म.प्र. शासन भोपाल के नाम से कलेक्टर सिवनी के माध्यम से ज्ञापन प्रस्तुत किया जायेगा। कर्मचारी संघ शाखा सिवनी ने सभी वन अधिकारियों, कर्मचारियों से अपील करते हुए कहा है कि कलेक्टर सिवनी को ज्ञापन सौंपने के लिए डॉ० बाबा साहब अम्बेडकर चौक में उपस्थित होकर अधिकारी, कर्मचारी कोविड-19 के दिशा निदेर्शों का पालन करें।

No comments:

Post a Comment

Translate