Friday, September 11, 2020

पोषण माह गतिविधियाँ के संचालन में सिवनी जिला मध्य प्रदेश में प्रथम

पोषण माह गतिविधियाँ के संचालन में सिवनी जिला मध्य प्रदेश में प्रथम 

महिला एवं बाल विकास विभाग सिवनी जिले की आगंनवाड़ी केंद्रों में चला रहा पोषण माह अभियान 


सिवनी। गोंडवाना समय। 

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी धुर्वे द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि शासन के निदेर्शानुसार सम्पूर्ण सितम्बर माह पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग के निर्देशन में सम्पूर्ण जिले में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन कर आमजनों को इस महत्वपूर्ण अभियान से जोड़कर जागरूक किया जा रहा है। 

प्रथम सप्ताह में स्वास्थ्य जांच व पोषण देखभाल की दी जानकारी 


जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी धुर्वे ने बताया कि पोषण माह अभियान में प्रथम सप्ताह गर्भवती एवं धात्री महिलाओं का पोषण और परिवार की भूमिका पर आधारित गतिविधि के तहत जिले की समस्त आंगनवाड़ी केन्द्रों में गर्भवती एवं धात्री माताओं को सही समय पर स्वास्थ्य जांच एवं पोषण देखभाल हेतु परिवारों की भूमिका के बारे में समझाईस दी गई है। 

द्वितीय सप्ताह में ऊपरी आहार के लाभ व कुपोषण की दी जा रही जानकारी 


इसी प्रकार द्वितीय सप्ताह में 6 माह से 2 वर्ष के बच्चों का सही समय पर ऊपरी आहार की शुरूआत और भ्रांतिया पर आधारित गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है। जिसमें बच्चों के बजन लेने की गितविधि के साथ ही परिवारजनों को स्तनपान के साथ-साथ ऊपरी आहार की शुरूआत करने के लाभ एवं कुपोषण से दूर रहने के बारे में समझाईश दिया जा रहा है।

इस सम्पूर्ण गतिविधियों की मॉनिटरिंग भारत सरकार के जन आंदोलन पोर्टल के माध्यम से की जाती है। वर्तमान में पोषण माह गतिविधियों का सुचारू संचालन करने से सिवनी जिला प्रदेश में प्रथम स्थान पर है। 

कलेक्टर ने की पोषण आहार प्रदर्शनी की सराहना 


कलेक्टर डॉ राहूल हरिदास फटिंग द्वारा 10 सितंबर को धनौरा विकासखंड की आंगनबाड़ी केन्द्र धनौरा पहुंचकर पोषण माह तहत की जा रही गतिविधियों का भी अवलोकन कर पोषण आहार प्रदर्शनी की सराहना की।

कलेक्टर ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को पोषण आहार के प्रति जनजागरूकता फैलाते हुए कुपोषण को दूर करने की दिशा में कार्य करने हेतु निर्देशित किया।  

ऊपरी आहर की शुरूआत कब और कैसे करें


महिला बाल विकास के द्वारा पोषण माह के अंतर्गत जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी धुर्वे एवं परियोजना अधिकारी श्री शशांक शेखर सिंह ठाकुर के निर्देशानुसार सेक्टर सुपरवाईजर मनीषा कुमरे के द्वारा कलारबांकी में पोषण माह कार्यक्रम के दौरान गर्भवती माता के संतुलित आहार, सही समय पर ऊपरी आहार की शुरूआत के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। इसके साथ ही कोरोना महामारी से बचाव तथा सुरक्षा के लिये मास्क के उपयोग व अन्य उपाय के संबंध में जानकारी दी गई। 

पोषण आहार को लेकर डोर-टू-डोर संपर्क


कलेक्टर डॉ राहूल हरिदास फटिंग के निर्देशन में एवं महिला बाल विकास विभाग के अंतर्गत जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी धुर्वे के मार्गदर्शन में महिला सशक्तिकरण विभाग के अंतर्गत परियोजना अधिकारी महरून मरावी के मार्गदर्शन में पोषण आहार माह के अंतर्गत आंगनवाड़ी केन्द्रों में जच्चा-बच्चा के पोषण आहार को लेकर मार्गदर्शन दिया जा रहा है।

परियोजना अधिकारी श्रीमति मरावी ने बताया कि उनके द्वारा आंगनवाड़ी के केंद्रो में जाकर महिलाओं के पोषण आहार को लेकर ना केवल मार्गदर्शन दिया जा रहा है वरन प्रसव के दौरान महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए किन-किन चीजों का भोजन में समावेश करना चाहिए।
         

इस बात की जानकारी दी जा रही है। साथ ही बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए एवं कुपोषण से बचाने के लिए किन-किन चीजों की सावधानी रखनी चाहिए।

उन्हें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि कोई बीमारी इस दौरान जच्चा-बच्चा को प्रभावित ना कर सके। आपने आगे बताया कि वर्तमान में लगातार कोविड-19 बीमारी के दौरान महिलाओं को किन बातों का ध्यान रखना है।

किस तरह इस बीमारी से निजात पाना है। इसके संबंध में भी आंगनवाड़ी सहायिकाओं को भी मार्गदर्शन दिया जा रहा है। 

 

No comments:

Post a Comment

Translate