Saturday, September 26, 2020

जबलपुर मेडिकल में कोरोना से जंग जीतकर अपने घर पहुंचे रामेश्वर तुमराम

जबलपुर मेडिकल में कोरोना से जंग जीतकर अपने घर पहुंचे रामेश्वर तुमराम 




सिवनी। गोंडवाना समय।

बीते 8 सितंबर 2020 की रात्रि में समाजिक कार्यकर्ता रामेश्वर तुमराम का स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। जहां पर उनका 10 सितंबर 2020 को कोरोना परीक्षण किया गया था।


इसके बाद उन्हें जिला चिकित्सालय में ही आईसोलेशन वार्ड में उपचार किया जा रहा था। समाजिक कार्यकर्ता रामेश्वर तुमराम के स्वास्थ्य में सुधार न होने एवं सांस लेने में तकलीफ बढ़ने के कारण चिकित्सकों की सलाह पर उन्हें जबलपुर मेडिकल में 13 सितंबर 2020 को उपचार हेतु ले जाया गया था। 

जबलपुर मेडिकल से 14 दिनों में उपचार के बाद लौटे घर 


समाजिक कार्यकर्ता रामेश्वर तुमराम जबलपुर मेडिकल में 13 सितंबर 2020 से 26 सितंबर 2020 तक कुल 14 दिनों तक उपचार कराने के बाद स्वस्थ्य होकर अपने घर सिवनी लौटे है। इस दौरान उन्होंने बताया कि जबलपुर मेडिकल कॉलेज में उन्हें चिकित्सकों, स्टाफ व अन्य कर्मचारियों के द्वारा उचित देखभाल व उपचार में पूर्णतय: ध्यान दिया जाकर सेवा की जा रही थी। जिसका ही परिणाम है कि मैं स्वयं भी स्वस्थ्य होकर लौटा हूं। इसके लिये सामाजिक कार्यकर्ता रामेश्वर तुमराम ने मेडिकल के समस्त चिकित्सक, नर्स व सफाई कर्मचारी, वार्ड के अन्य कर्मचारी जो कोरोना वार्ड में उपचार के कार्य में अपनी सेवा दे रहे है, उनका सभी का उन्होंने आभार व्यक्त करते हुये धन्यवाद देकर लौटै है। 

सभी रहे सर्तक बुजुर्गों का बचाव आवश्यक 


स्वस्थ्य होकर लौटे रामेश्वर तुमराम ने बताया कि कोरोना की बीमारी में बचाव के लिये सभी को सर्तक व सुरक्षित रहने की आवश्यकता है। कोरोना की बीमारी के दौरान होने वाले उपचार में होने वाली समस्याओं को लेकर मेरा स्वयं का अनुभव है। वहीं बुजुर्गों के साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि यदि वे स्वयं अपने हाथों से कोई कार्य नहीं कर पाते है तो उनके लिये उपचार के दौरान अत्याधिक समस्या आती है। इसलिये कोरोना से बचाव में सभी सर्तक रहे साथ में बुजुर्गों का विशेष रूप से बचाव का ध्यान रखें। 


No comments:

Post a Comment

Translate