Monday, September 21, 2020

जयस को देशद्रोही कहने के विरोध में धरने पर समर्थन देने पहुंंचे कमलनाथ

जयस को देशद्रोही कहने के विरोध में धरने पर समर्थन देने पहुंंचे कमलनाथ 

संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर के बयान से शिवराज सरकार की बढ़ी परेशानी 


भोपाल। गोंडवाना समय।

आदिवासियों की संवैधानिक अधिकारों की लड़ाई संवैधानिक तरीके से लड़ने वाले जयस संगठन को वनाधिकार पट्टा वितरण कार्यक्रम के दौरान शिवराज सिंह चौहान सरकार कैबिनेट में शामिल संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने जयस को देशद्रोही कहकर संबोधित किया था।


इसकी जानकारी मिलते ही जयस संगठन से जुड़े हुये लोगों ने नाराजगी जाहिर किया था। वही मध्य प्रदेश में आदिवासी समाज संगठन के द्वारा संस्कृति मंत्री के बयान की निंदा की जा रही है। वहीं इस मामले में एफआईआर दर्ज कराने के लिये मध्य प्रदेश के अनेक जिलों में जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन को ज्ञापन व आवेदन दिया जा रहा है।

वहीं विधानसभा भवन के सामने गांधी जी की प्रितमा के समक्ष जयस के राष्ट्रीय संरक्षक मनावर विधायक डॉ हीरालाल अलावा सांकेतिक धरने पर बैठकर विरोध दर्ज कराया। 

समर्थन देने पहुंचे कमल नाथ 


जयस के राष्ट्रीय संरक्षक व विधायक डॉ हीरालाल अलावा के द्वारा सोमवार को विधानसभा भवन के सामने गांधी जी की प्रतिमा स्थल पर मध्य प्रदेश सरकार की संस्कृति मंत्री का त्यागपत्र लेने एवं कार्यवाही किये जाने की मांग को लेकर धरना पर बैठ गये थे। वहीं जयस के समर्थन में अब कांग्रेस पार्टी भी उतर गई है, पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ व कांग्रेस के विधायक भी डॉ हीरालाल अलावा का समर्थन करने एवं धरने पर बैठे रहे। इस दौरान डॉ हीरालाल अलावा ने शिवराज सिंह चौहान सरकार से संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर का त्यागपत्र लिये जाने और कार्यवाही किये जाने की मांग किया। 

आदिवासियों से माफी मांगे मुख्यमंत्री 


मध्यप्रदेश विधानसभा भवन के सामने जयस के राष्ट्रीय संरक्षक डॉ हिरालाल अलावा ने सांकेतिक धरना प्रदर्शन कर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी की केबिनेट मंत्री उषा ठाकुर को कैबिनेट मंत्री पद से बर्खास्त करने की मांग के साथ ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मंत्री उषा ठाकुर के बयान पर प्रदेश के 2 करोड़ आदिवासियों से माफी माँगने की मांग किया है। 

No comments:

Post a Comment

Translate