Tuesday, November 24, 2020

''तोर मया के चिन्हा'' एक परिवारिक छत्तीसगढ़ी फिल्म में बतौर प्ले बैक सिंगिंग करेगी गोंडवाना की लाड़ली ऋतिका सिंह श्याम

 ''तोर मया के चिन्हा'' एक परिवारिक छत्तीसगढ़ी फिल्म में बतौर प्ले बैक सिंगिंग करेगी गोंडवाना की लाड़ली ऋतिका सिंह श्याम 

फिल्म के निमार्ता निर्देशक ने कहा ऋतिका की आवाज बहुत ही कर्णप्रिय है, जिसे सुनकर ही मैंने इन्हें किया साइन 


छत्तीसगढ़। गोंडवाना समय। 

गोंडवाना की लाड़ली ऋतिका सिंह श्याम ने कन्हैया फिल्मस क्रियेशन में बनने वाली परिवारिक छत्तीसगढ़ी फिल्म में बतौर प्ले बैक सिंगिंग करने जा रही हैं। महज 18 वर्ष की उम्र में  सिंगिंग की दुनिया में अपनी पहचान बनाने जा रही हैं। इस फिल्म के निमार्ता निर्देशक श्री कन्हैया पटनिहा जी ने ऋतिका सिंह श्याम की प्रशंसा करते हुए  कहा ऋतिका की आवाज बहुत ही कर्णप्रिय है, जिसे सुनकर ही मैंने इन्हें साइन किया है। 

गीत की शूटिंग अमरकंटक के हरी भरी वादियों में होगी


बुद्ध देव सिंह श्याम ने गोंडवाना समय समाचार पत्र से चर्चा करते हुये बताया कि ''तोर मया के चिन्हा''  एक परिवारिक छत्तीसगढ़ी फिल्म है और एक खूबसूरत लव स्टोरी है। इस फिल्म की सबसे सुपरहिट गीतों में एक गीत मैंने उन्हें दिया है गीत के बोल हैं 'जइसे दीप मां है बाती ' यह गीत मेरा फेवरेट गीत है जिसे ऋतिका सिंह श्याम ने अपनी आवाज से सजाया है। इसे बतौर मेल सिंगर वीरेंद्र यदु ने गाया है। यह बेहतरीन जोड़ी है दर्शकों को बहुत पसंद आएगी। इस गीत की शूटिंग अमरकंटक के हरे भरे वादियों में होगी। इस गीत की रिकार्डिंग मध्यप्रदेश के जाने-माने स्टूडियो जानकी स्टूडियो नौरोजाबाद में हुई है। इस गीत के म्युजिक कम्पोजर ओम सर्राफ जी हैं जो दूरदर्शन मध्यप्रदेश के धारावाहिक सिरीयल में बैकग्राउंड म्युजिक कम्पोजर हैं और बड़ी बड़ी फिल्मों में भी म्युजिक दे रहे हैं। ऋतिका की आवाज की तारीफ उन्होंने की कहा ऋतिका की आवाज ने इस गीत को चार चांद लगा दिया है। हम सब उत्साहित हैं। 

बुद्ध देव सिंह श्याम हीरो के पिता शंकर के रोल में नजर आएंगे

ऋतिका सिंह श्याम गोंडवाना समाज के वरिष्ठ समाजसेवी, समाजसेवी, समाज सुधारक बुद्ध देव सिंह श्याम जी की सुपुत्री हैं। श्याम जी समाज सुधारक के साथ साथ संगीतकार भी हैं। यही कारण है कि ऋतिका सिंह श्याम के अंदर यह अलौकिक गुण मौजूद हैं। इन्होंने पहली संगीत की शिक्षा अपने पिता से लिया उसके बाद सरगुजा में स्वरांजली महाविद्यालय के प्राचार्य/ गुरूवर श्री विवेक मिश्रा जी के सानिध्य में क्लासिकल संगीत की शिक्षा ले रही हैं। खासबात यह भी है इस फिल्म  मोर मया के चिंहा में कि इस फिल्म में  इनके पिता बुद्ध देव सिंह श्याम जी हीरो के पिता शंकर के रोल में नजर आएंगे। यह इनकी दूसरी फिल्म है। इससे पहले वे एक फिल्म 'ईश्क मां हावय रिश्क' कर चुके हैं, जो संभवत: भी मई जून में रिलीज होने वाली है। इस फिल्म को लेकर सरगुजा संभाग में काफी उत्साह है।


No comments:

Post a Comment

Translate