Tuesday, December 8, 2020

12 दिनों से दमनकारी कानून के खिलाफ किसान कर रहे आंदोलन-कांग्रेस

12 दिनों से दमनकारी कानून के खिलाफ किसान कर रहे आंदोलन-कांग्रेस 

शांति पूर्ण रहा बंद घंसौर कहानी क्षेत्र, घंसौर तहसीलदार को कांग्रेस ने सौंपा ज्ञापन


घंसौर। गोंडवाना समय।
 

केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए बनाए गए तीन कानून के विरोध में भारत बंद के अंतर्गत विरोध प्रदर्शन किया गया एवं  इसी कड़ी में 8 दिसंबर 2020 को सुबह से ही ब्लाक कांग्रेस कमेटी घंसौर के द्वारा  राष्ट्रपति, राज्यपाल के नाम घंसौर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें अंकित किया गया कि 12 दिनों से भारत सरकार के द्वारा किसानों के लिए दमनकारी कानून को लेकर देश का अन्नदाता किसान अपनी मांगों को लेकर राजधानी दिल्ली में शांतिपूर्ण ढंग से अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत है। वहीं सरकार की ओर से अभी तक किसान हित में कोई फैसला नहीं किया जा रहा है। कांग्रेस पार्टी की ओर से 8 दिसंबर 2020 को भारत बंद किसानों के समर्थन में किया गया, सरकार द्वारा जो कानून लागू किए जा रहे हैं उनका कांग्रेस पार्टी विरोध कर रही है। 

3 काले कानून को रद्द करने की मांग 


वहीं कांग्रेस द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में 1. किसान उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा विधेयक), 2. किसान सशक्तीकरण और संरक्षण विधेयक, 3. सेवा और आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक इन तीन काले कानून को रद्द करने हेतु प्रदेश कांग्रेस पार्टी के आवाहन में जिला कांग्रेस कमेटी जिला अध्यक्ष राजकुमार खुराना, लखनादौन विधायक योगेंद्र सिंह बाबा के दिशा निर्देश अनुसार ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र पटेल एवं जिला पंचायत सदस्य चित्रलेखा नेताम सिवनी के नेतृत्व में भारत बंद के दौरान नगर घंसौर में कमानिया गेट, पुराना बस स्टैंड, न्यू बस स्टैंड, एसबीआई रोड, खेरमाई चौक बंद का शांतिपूर्ण ढंग से आवाहन किया गया, जिसे व्यापक जन समर्थन मिला। ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र पटेल, जिला पंचायत सदस्य सिवनी श्रीमती चित्रलेखा नेताम, विनोद जैन, अशोक मिश्रा, अकलेश जैन बंटी, राजेश दुबे,  सुधीर सिंह सांरग, विनोद नेमा, राजेश नामदेव, सुधीर सिंह सिसोदिया, सुमित जैन, विजय उइके, धनंजय मिश्रा, शिवम सोनी, संकल्प दीक्षित, विनोद तिवारी, आशीष जैन रामकुमार यादव मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Translate