गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Tuesday, December 1, 2020

भूमिपूजन के बाद भी उगली उप-तहसील का अब तक कार्य नहीं हो पाया प्रारंभ

भूमिपूजन के बाद भी उगली उप-तहसील का अब तक कार्य नहीं हो पाया प्रारंभ 


अजय नागेश्वर संवाददाता
उगली। गोंडवाना समय।

विधानसभा क्षेत्र केवलारी में बीते 2 जुलाई 2019 को मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे पूर्व लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री एवं जिले के पूर्व प्रभारी मंत्री श्री सुखदेव पांसे द्वारा तहसील केवलारी के अंतर्गत ग्राम उगली पहुँचकर विकास कार्यों की सौगात दी गई थी। पूर्व प्रभारी मंत्री श्री सुखदेव पांसे द्वारा उगली पहुँचकर 85 लाख रुपये की लागत से बनने वाले उप-तहसील भवन का भूमि पूजन कर विकास की सौगात दी गई थी। 

लगभग 85 गांव के लोगों को मिलेगा लाभ 

उगली में उप-तहसील बनने से उगली क्षेत्र के लगभग 85 गांव के लोगों को लाभ मिलने वाला था लेकिन भूमिपूजन के इतने माह बाद भी जमीनी स्तर पर काम शुरू नहीं हुआ। वहीं उगली क्षेत्र के ग्रामीणों व किसानों को राजस्व से संबंधित कार्यों के लिये केवलारी जाना पड़ता हैं। ग्रामीजनों को खेती किसान व घरेलू कार्य को छोड़कर केवलारी आने-जाने में आर्थिक खर्च बढ़ता है वहीं समय की बबार्दी होती है वहीं श्रमिकों की तो कई बार 1 दिन की रोजी भी चली जाती है। 

भूमिपूजन के समय पक्ष व विपक्ष एक ही मंच पर था मौजूद 


मध्य प्रदेश में अब शिवराज सरकार है। कमलनाथ सरकार में प्रभारी मंत्री रहे श्री सुखदेव पांसे द्वारा उपतहसील का भूमिपूजन किया गया था। उस वादे को प्रदेश की शिवराज सरकार निभायेंगी या उगली की जनता को जनप्रतिनिधि यूं ही ठगते रहेंगे। उप-तहसील के भूमिपूजन में केवलारी विधायक श्री राकेश पाल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति मीना बिसेन, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री चंद्रशेखर चतुवेर्दी, पूर्व विधायक श्री रजनीश ठाकुर, कांग्रेस जिला अध्यक्ष श्री राजकुमार खुराना सहित अन्य जन प्रतिनिधियों की उपस्थिति भी रही थी। वहीं अब सरकार बदल गई है क्षेत्रिय विधायक श्री राकेश पाल की ओर उगली क्षेत्र की जनता विकास कार्यों को लेकर निहार रही है। 

उगली क्षेत्र की जनता कब तक छली जाएगी

गोंडवाना समय समाचार पत्र का चिंतन कांग्रेस, भाजपा या किसी जनप्रतिनिधि पर आरोप लगाना नहीं वरन यह एसास दिलाना है कि उगली की जनता कब तक छली जायेगी। कौन मसीहा बनकर उगली को विकास पथ पर लायेंगा। उप-तहसील का सपना कब पूरा होगा। इसलिये जागो उगली क्षेत्र के ग्रामीणों जागो पक्ष विपक्ष के जनप्रतिनिधिगण एकमत से चल पड़े तो उगली का विकास रुक नहीं पाएगा। अगर एक दूसरे पर आरोप लगाते रहे तो नीरज जी की वो पंक्तियां याद आती है। कारवां गुजर गया और हम खड़े-खड़े गुबार देखते रहे।



No comments:

Post a Comment

Translate