Saturday, December 5, 2020

सहकारी समितियों ने दिया अल्टीमेटम, नागरिक आपूर्ति निगम करें उपार्जन केंद्रों में सर्वेयर की व्यवस्था

सहकारी समितियों ने दिया अल्टीमेटम, नागरिक आपूर्ति निगम करें उपार्जन केंद्रों में सर्वेयर की व्यवस्था

सौंपा ज्ञापन, सर्वेयर की नियुक्ति न होने तक धान खरीदी कार्य बंद


सिवनी। गोंडवाना समय। 

जहां एक ओर किसान अपनी मेहनत की उपज धान को विक्रय करने के लिये आतुर है वहीं नागरिक आपूर्ति निगम और सहकारी समितियों के बीच में तालमेल नहीं बन पाने एवं सहकारी समिति के खरीदी केंद्र प्रभारियों द्वारा खरीदी केंद्र में किसान व उनके बीच में होने वाली वास्तविक स्थिति से अवगत कराते हुये उनके द्वारा पूर्व में ही मांगों व किसानों की समस्याओं से अवगत कराया गया है। वहीं शासन प्रशासन द्वारा खरीदी केंद्र प्रभारियों की मांगों को गंभीरता से नहीं लेने और खरीदी केंद्रों में धान क्रय करने के बाद गोदामों से धान के वापस खरीदी केंद्र भेजे जाने के मामले में बीते दिनों ही कान्हीवाड़ा में किसानों ने सड़क जाम कर हंगामा भी किया था। जहां पर भारतीय जनता पार्टी के विधायक ने धान की गाड़ी क्यों वापस लौटी है इसका भी खुलासा किया था। इसके बाद भी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों की कार्यप्रणाली के चलते खरीदी केंद्र प्रभारियों ने अब धान खरीदी का कार्य बंद रखे जाने का ऐलान कर दिया है।  

पुन: ज्ञापन सौंपकर समस्याओं से कराया अवगत 


म.प्र.सहकारिता कर्मचारी महासंघ सिवनी के जिलाध्यक्ष वंशीलाल ठाकुर के नेतृत्व में खरीदी केंद्र प्रभारियों व किसानों की समस्याओं से पुन: अवगत कराते हुये 5 दिसंबर को ज्ञापन सौंपा है। वहीं विज्ञप्ति जारी कर बताया कि शासन प्रशासन द्वारा वर्तमान में सम्पूर्ण सिवनी जिले में धान उपार्जन कार्य हेतु बनाये गए 101 धान खरीदी केंद्रों में सहकारी समितियों के कर्मचारी विधिवत शासन की मंशा अनुरूप धान उपार्जन में अपनी सेवाएँ दे रहे हैं। 

धान को रिजेक्ट कर वापस खरीदी स्थलों में भेज दी गई है

आगे म.प्र. सहकारिता कर्मचारी महासंघ सिवनी के जिलाध्यक्ष श्री वंशीलाल ठाकुर ने बताया कि दिनाँक 2 दिसंबर 2020 से वर्तमान दिनाँक तक जिले में उपार्जित धान में से लगभग 5000 क्विंटल धान के परिवहन आदेश जारी हुए थे। इसी के तहत जिले के पृथक-पृथक उपार्जन केंद्रों से लगभग 45-50 ट्रकों के माध्यम से उपार्जन स्थल से धान ट्रकों में भरकर वेयर हाउस में जमा करने भिजवाई गई थी परंतु गोदाम स्तर पर मौजूद नागरिक आपूर्ति निगम एवं वेयर हाउस कापोर्रेशन के सर्वेयरों द्वारा पूरी की पूरी भेजी गई धान को रिजेक्ट कर वापस खरीदी स्थलों में भेज दी गई है। 

किसानों के आक्रोश का सामना कर रहे खरीदी प्रभारी व समिति कर्मचारी 

आगे म.प्र. सहकारिता कर्मचारी महासंघ सिवनी के जिलाध्यक्ष श्री वंशीलाल ठाकुर ने बताया कि धान खरीदी स्थल पर पहुँचने से खरीदी केंद्र प्रभारियों व खरीदी कार्य से जुड़े कर्मचारियों को बहुत अधिक समस्या का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही जिन विक्रेता किसानों की धान ट्रको में परिवहन कर भेजी गई थी उन किसानों को जब खरीदी केंद्र प्रभारी द्वारा धान खरीदी स्थल पर वापस आने के उपरांत किसानों को बुलाकर वापस ले जाने को कहा तो किसान आक्रोशित होकर खरीदी प्रभारी व समिति कर्मचारियों से अभद्रता पर उतारू हो गए, जिससे स्थल पर विवादास्पद स्थिति निर्मित हो गई। 

4 दिसंबर की बैठक में लिया यह लिया निर्णय 


इस प्रकार की घटना से खरीदी प्रभारी व कर्मचारियों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है। म.प्र. सहकारिता कर्मचारी महासंघ सिवनी के जिलाध्यक्ष श्री वंशीलाल ठाकुर द्वारा बताया गया कि ग्राम पंचायत लूघरवाडा प्राँगण में 4 दिसंबर 2020 को कर्मचारियों की आयोजित अहम बैठक में सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि जब तक नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा जिले के प्रत्येक खरीदी केंद्रों में सर्वेयरों (गुणवत्ता निरीक्षक) की नियुक्ति नहीं की जाती तब तक जिले के किसी भी उपार्जन केंद्र में धान खरीदी का कार्य नही किया जायेगा। 

सर्वेयरों को एक अधिकृत प्रपत्र दिया जाए

म.प्र. सहकारिता कर्मचारी महासंघ सिवनी के जिलाध्यक्ष श्री वंशीलाल ठाकुर ने बताया कि इसके साथ ही यदि हमारी माँग अनुसार जिले के प्रत्येक खरीदी केंद्रों में सर्वेयरों (गुणवत्ता निरीक्षक) की नियुक्ति की जाती है तो सर्वेयरों द्वारा उपार्जन स्थल में किसान की पास की गई धान परिवहन के दौरान गोदाम में मौजूद सर्वेयरों द्वारा धान रिजेक्ट नहीं की जानी चाहिए। समिति में नान द्वारा नियुक्त सर्वेयरों को एक अधिकृत प्रपत्र दिया जाए, जिसमें सर्वेयर केंद्र पर उनके द्वारा पास की गई धान का सम्पूर्ण विवरण स्व हस्ताक्षरित उल्लेखित करे ताकि उपार्जन स्थल से जब धान का परिवहन गोदाम में जमा करने हेतु किया जाए तो यह सर्वेयर द्वारा पास धान का प्रपत्र भी ट्रक चालान के साथ संलग्न कर परिवहन के दौरान भेजा जा सके। 

सहकारिता समिति कर्मचारी संघ आत्मीय खेद व्यक्त किया 

म.प्र. सहकारिता कर्मचारी महासंघ सिवनी के जिलाध्यक्ष श्री वंशीलाल ठाकुर ने बताया कि जिले के जिन खरीदी केंद्रों में आज दिनांक तक धान खरीदकर सुरक्षित रखी हुई है, उसका गुणवत्ता निरीक्षण कराने के उपरांत ही परिवहन कराया जाना सुनिश्चित किया जावें। खरीदी नहीं होने की स्थिति में किसान एवं आम जनता को होने वाली परेशानियों की पूर्णत: जवाबदारी नागरिक आपूर्ति निगम सिवनी एवं शासन प्रशासन की होगी। जिसका म.प्र. सहकारिता समिति कर्मचारी संघ आत्मीय खेद व्यक्त करता है। 

नॉन और वेयर हाऊस कार्पोरेशन का आपसी सामंजस्य कराय जाये 

महासंघ के जिलाध्यक्ष सहित समस्त सहकारिता कर्मचारियों द्वारा संयुक्त हस्ताक्षर से कलेक्टर सिवनी सहित अन्य वरिष्ठ संबंधित अधिकारियों को दिनाँक 5 दिसंबर 2020 को ज्ञापन सौंपकर माँग की है कि  जिले के प्रत्येक धान उपार्जन केंद्र पर सर्वेयर की नियुक्ति (नागरिक आपूर्ति निगम एवं वेयर हाउस कापोर्रेशन का आपसी सामंजस्य स्थापित कराकर) यथाशीघ्र नागरिक आपूर्ति निगम सिवनी के माध्यम से करका कष्ट करें ताकि जिले में धान खरीदी का कार्य सुचारू तौर पर पुन: प्रारम्भ हो सकें।


No comments:

Post a Comment

Translate