Thursday, December 3, 2020

शिक्षक संस्थाओं में शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करें,अनुपस्थिति की स्थिति में कठोर कार्यवाही की जावेगी

शिक्षक संस्थाओं में शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करें,अनुपस्थिति की स्थिति में कठोर कार्यवाही की जावेगी

कलेक्टर ने की जिले के प्राचार्यों से चर्चा, बेहतर परीक्षा परिणाम लाने के दिए निर्देश


सिवनी। गोंडवाना समय।
 

कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग द्वारा 3 दिसम्बर को आॅनलाईन व्ही.सी. के माध्यम जिले के समस्त शासकीय हाईस्कूल/हायर सेकेण्डरी विद्यालयों के प्राचार्यों की बैठक लेकर आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए गए। आॅनलाईन व्ही.सी. में जिला शिक्षा अधिकारी श्री जी.एस. बघेल, एडीपीसी आरएमएसए श्री महेश कुमार गौतम, सहायक संचालक शिक्षा श्री एस.एस. कुमरे, एपीसी-आरएमएसए श्री विपनेश जैन, कोआॅर्डिनेटर आईटी सेल श्री चुनेन्द्र कुमार बिसेन एवं जिले के समस्त शासकीय हाईस्कूल/हायर सेकेण्डरी विदयालयो के प्राचार्यो की आॅनलाईन उपस्थिति रही।

बिना मास्क के प्रवेश की अनुमति न देवे

कलेक्टर डॉ फटिंग द्वारा प्राचार्यों को निर्देशित किया गया कि विद्यालयों में डिजीलैप एवं सहमति के आधार पर चल रही कक्षा दसवीं एवं बारहवीं की संपर्क कक्षाओं में उपस्थित छात्र/छात्राओं का बोर्ड परीक्षा के मद्देनजर कोर्स को पूर्ण करावें। इसके साथ ही संस्था के मुख्य द्वार पर सैनिटाईजर एवं हाथ धोने के लिये साबुन, पानी आदि की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने संस्था में किसी भी पालक/विद्यार्थियों को बिना मास्क के प्रवेश की अनुमति न देने तथा विगत वर्ष के परीक्षा परिणामों में सुधार लाने हेतु निर्देशित किया। 

विद्यार्थियों को मार्गदर्शन नियमित रूप से दिया जावे

शासन के निदेर्शों के अनुरूप संस्था में आॅनलाईन कक्षायें एवं सहमति के आधार पर विद्यार्थियों को मार्गदर्शन नियमित रूप से दिया जावे। कलेक्टर डॉ फटिंग ने कहा कि उनके द्वारा संचालित संपर्क कक्षाओं का निरंतर औचक निरीक्षण किया जाएगा। शिक्षक संस्थाओं में शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करें,अनुपस्थिति की स्थिति में कठोर कार्यवाही की जावेगी। साथ ही विद्यालयों में कोविड- 19 के संक्रमण में सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुये विदयार्थियों के छोटे-छोटे समूह बनाकर प्रायोगिक कार्य किए जावे एवं प्राचार्यो को निर्देशित किया है कि प्रपत्र 04 एवं 05 नियमित रूप से प्रतिदिन संकलित कर विमर्श पोर्टल पर अपलोड की जावे।

पाठयक्रम की सूचना विद्यार्थियों को दी जावे

आॅनलाईन व्ही सी में जिला शिक्षा अधिकारी, प्राचार्यों से कहा कि बोर्ड द्वारा कम किए गए पाठयक्रम की सूचना विद्यार्थियों को दी जावे। साधन विहीन विद्यार्थियों को पालक की सहमति के आधार पर संपर्क कक्षाओं में आने के लिए प्रेरित किया जावे। जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा अतिथि शिक्षकों की व्यवस्था हेतु स्कूल शिक्षा विभाग अंतर्गत विकासखण्डों के प्राचार्यों को निर्देशित किया गया कि संस्था में शासन के नियम अनुरूप व्यवस्था की जावे। 13 दिसम्बर 2020 को आयोजित एनटीएसई की परीक्षा एवं दिव्यांग विदयार्थियों की जानकारी निर्धारित प्रपत्र में प्रेषित करने हेतु निर्देश दिए। अंत में जिला शिक्षा अधिकारी ने प्राचार्यों से कहा की संस्था में सभी शिक्षकों से तालमेल स्थापित कर पूर्ण मनोयोग से जिले का परीक्षा परिणाम उत्कृष्ट लाने कार्य करें।  

No comments:

Post a Comment

Translate