Sunday, January 24, 2021

राष्ट्रीय बालिका दिवस पर रजवाड़ा परिवार ने ली अनाथ व विकलांग बेटियों की विवाह की जिम्मेदारी

राष्ट्रीय बालिका दिवस पर रजवाड़ा परिवार ने ली अनाथ व विकलांग बेटियों की विवाह की जिम्मेदारी 

द ग्रेंड रजवाड़ा के संचालक मनीष अग्रवाल व विनित (मंटू) अग्रवाल ने किया पहल 


सिवनी। गोंडवाना समय। 

चाहे स्वयं रक्तदान करने की बात हो या रक्तदान शिविर का आयोजन, नेत्रदान अभियान हो या नेत्र परीक्षण शिविर व उपचार में भूमिका की बात हो, कोरोना संकट के समय घर घर जरूरतमंदों को पहुंचाने का कार्य हो, पर्यावरण को बचाने के लिये नि:शुल्क पौधे प्रदान करने का कार्य हो, ग्रीष्मकालीन अवसर पर शीतल पेयजल की सुविधा प्रदान किये जाने का कार्य हो, इसके साथ ही जिले व शहर में होने वाले सांस्कृतिक व सामाजिक गतिविधियों से जुड़े हुये प्रत्येक समाजिक सरोकार के कार्यों में द ग्रेंड रजवाड़ा के संचालक श्री मनीष अग्रवाल व विनित (मंटू) अग्रवाल का नाम हमेशा सक्रियता के साथ आता है। 

द ग्रेंड रजवाड़ा में होगा सामुहिक बालिका विवाह महोत्सव 


वहीं द ग्रेंड रजवाड़ा के संचालक श्री मनीष अग्रवाल व विनित (मंटू) अग्रवाल ने सामाजिक सरोकार की दिशा में कदम बढ़ाते हुये महत्वपूर्ण निर्णय राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर लिया है। हम आपको बता दे कि ऐसे निर्धन परिवार की बेटियां जो कि विकलांग व अनाथ है ऐसी बेटियों का विवाह द ग्रेंड रजवाड़ा परिवार द्वारा सामूहिक बालिका महोत्सव के माध्यम से प्रत्येक वर्ष 11 बालिकाओं का परंपरिक रूप से विवाह किया जावेगा। चाहे वह किसी धर्म, समुदाय और जाति क्यों ना हो उनके विवाह के लिए व्यवस्था,  वैवाहिक सामग्री उनकी धर्म, परंपरा व सामाजिक रीति रिवाज के अनुसार द ग्रेंड रजवाड़ा परिवार एवं स्वैच्छिक जन सहयोग द्बारा नि:शुल्क किया जायेगा।

कोतवाली पुलिस थाना में किया था पहल 

हम आपको बता दे कि 19 जनवरी 2021 को बालिका एवं महिला सम्मान कार्यक्रम जो कि कोतवाली पुलिस थाना प्रांगण सिवनी में आयोजित किया गया था। जहां पर समाजसेवी एवं द ग्रेंड रजवाड़ा संचालक श्री मनीष अग्रवाल द्वारा पहल करते हुये सिवनी कोतवाली पुलिस थाना प्रभारी श्री एम डी नागोतिया के माध्यम से मंच पर घोषणा करवाया था कि वह अनाथ व विकलांग बेटियों के नि:शुल्क विवाह कराने की जिम्मेदारी ले रहे है जिस पर कार्यक्रम में मौजूद जन समुदाय द्बारा द ग्रेड रजवाड़ा के संचालक श्री मनीष अग्रवाल के द्वारा की गई पहल का सभी ने प्रशंसा किया था। 

सामूहिक बालिका विवाह महोत्सव आयोजन समिति करेगी निर्णय 

इसके लिये पात्रता हेतु बालिकाओं के पुनीत कार्य में ये जरूर है कि वो सिवनी जिले से हो वो चाहे ग्रामीण हो या शहरी इसके लिऐ उन्हें सिवनी जिले के मूल दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा। वहीं इसके लिये 5 सदस्यो की कमेटी होगी उनके द्वारा दस्तावेजों की समीक्षा की जायेगी कि वह बालिका वास्तव में अनाथ, विकलांग और सिवनी जिले कि स्थाई निवासी है या नहीं। उक्ताशय की जानकारी देते हुये सामूहिक बालिका विवाह महोत्सव आयोजन समिति के संयोजक श्री लक्ष्मी कश्यप ने बताया कि इस कमेटी में महिला समाजिक संघठन की महिलाओ में वैश्य महासम्मेलन से  श्रीमती रितु दहीकर, मातृ शक्ति संघठन से श्रीमती सीमा चौहान, गूंज संस्था से श्रीमती मनीषा चौहान, आसरा की रसोई से रोज कुरैशी एवं पत्रकार बंधु श्री विपिन शर्मा शमिल होंगे। जिनके द्वारा बैठक कर विवाह की तिथि एवं आने वाले आवेदन पत्रों का शीघ्र ही प्रारूप बना कर प्रस्तुत किया जाएगा। 

No comments:

Post a Comment

Translate