Monday, February 8, 2021

गोड़ी रीति रिवाज से विवाह कर दिया आर्थिक बचत व अपव्यय रोकने का संदेश

गोड़ी रीति रिवाज से विवाह कर दिया आर्थिक बचत व अपव्यय रोकने का संदेश 

बड़ादेव ठाना बड़तूमा मकरोनिया जिला सागर में हुआ संपन्न हुआ गोड़ी रीति से विवाह 

गोंड समाज महासभा के पदाधिकारियों की उपस्थिति में विवाह हुआ संपन्न 


सागर। गोंडवाना समय।
बड़ादेव ठाना बड़ातूमा, मकरोनिया जिला सागर में 7 फरवरी दिन रविवार को गोंड़ी रीति रिवाज से तिरुमाल वीर सिंह दीवार एवं आरती कुट्टी का विवाह कार्यक्रम बड़ी सादगी पूर्ण से संपन्न हुआ। विवाह  गोंडी भूमका जय सिंह टेकाम, मोहर सिंह, भरत सिंह भाटी, ईमरात जगेत, बारेलाल, दादा जालम सिंह जगेत सहित गोंडी भूमकाओं के द्वारा कार्यक्रम संपन्न किया गया। 

दोनों पक्षों रिश्तेदार-नातेदार एवं समस्त उपस्थित सगा समाज की रही उपस्थिति


गोंडी रीति रिवाज परंपरा से आयोजित विवाह आयोजन के संबंध में जानकारी देते हुये श्री राजेश सोयाम जिला सचिव, गोंड समाज महासभा जिला सागर ने बताया कि गोंड़ी रीति रिवाज से विवाह में उपस्थित सगा समाज के अलावा गोंड समाज महासभा सागर के जिला अध्यक्ष प्रहलाद सिहं उईके, छतरपुर जिला अध्यक्ष गजराज सिंह उईके, नगर कमेटी उपाध्यक्ष दौलत सिंह उईके, जिला कोषाध्यक्ष विश्राम सिंह, राजेश सिंह सोयाम जिला सचिव, छोटे सिंह युवा अध्यक्ष नगर, कमलेश मरकाम जिला अध्यक्ष युवा प्रकोष्ठ, विशाल सिंह, मोनू सिंह, जाहर सिंह, कैलाश मर्सकोले, मातृ शक्ति संघ से मालती मरकाम अध्यक्ष कौशल्या देवी, सचिव राखी सिंह टेकाम, आशा बाई एवं दोनों पक्षों की रिश्तेदार-नातेदार एवं समस्त उपस्थित सगा समाज की विशेष उपस्थिति में गोंडी रीति रिवाज से विवाह बड़ी धूम-धाम से संपन्न हुआ ।

बड़े-बजुर्गों ने दिया शुभाशीष    


गोंडी रीति रिवाज परंपरा से आयोजित विवाह आयोजन के संबंध में जानकारी देते हुये श्री राजेश सोयाम जिला सचिव, गोंड समाज महासभा जिला सागर ने बताया कि गोंड़ी रीति रिवाज से विवाह में उपस्थित सगाजन व गोंड समाज महासभा के पदाधिकारियों ने नवयुगल जोड़ी को सुखमय दाम्पत्य जीवन की मंगल कामनाओं सहित शुभाशीष प्रदान की और ऐसे ही सादगी पूर्ण वैवाहिक आदि कार्यक्रम संपन्न कर अपव्यय रोकने, आर्थिक बचत करने का संदेश दिया।


No comments:

Post a Comment

Translate