गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Friday, February 12, 2021

छात्रवृत्ति, आवास भत्ता नहीं मिलने से एससी एसटी के विद्यार्थियों के शैक्षणिक अध्ययन पर मंडरा रहा संकट

छात्रवृत्ति, आवास भत्ता नहीं मिलने से एससी एसटी के विद्यार्थियों के शैक्षणिक अध्ययन पर मंडरा रहा संकट

छात्र छात्राओं की समस्याओं को लेकर गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर सौंपा ज्ञापन

छिदवाड़ा कलेक्टर के माध्मय से मुख्यमंत्री, जनजाति कल्याण व शिक्षा विभाग भोपाल के नाम सौंपा ज्ञापन 


अनिल उईके जिला संवाददाता
छिंदवाड़ा। गोंडवाना समय। 

अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के शैक्षणिक उत्थान की बातें बजट, भाषण, मीटिंग में सत्ता सरकार और संगठन के जिम्मेदारों के द्वारा अक्सर बताया जाता है लेकिन धरातल में सरकार के द्वारा अनुसूचित जाति जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों के शैक्षणिक उत्थान व कल्याण के लिये दिये जाने वाली योजनाओं का लाभ वास्तविकता में कितना व किस समय पर किस तरह मिल रहा है।
        यह अनुसूचित जाति जनजाति वर्ग हक अधिकारों के लिये संघर्ष करने वाले संगठनों के द्वारा सरकार को ध्यानाकर्षण कराने के लिये समय समय पर उठाई जाने वाली आवाज व सौंपे जाने वाले ज्ञापनों के माध्यम से ही समझ आता है।
        इसी तहर के वास्तविकता से मध्य प्रदेश सरकार को रूबरू कराने के लिये गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन छिंदवाड़ा ने शुक्रवार 12 फरवरी 2021 को जिला कलेक्ट्रेट पहुंचकर कलेक्टर छिंदवाड़ा के माध्यम से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री, आदिम जाति कल्याण विभाग भोपाल एवं राज्य शिक्षा विभाग भोपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। 

छात्रवृत्ति नहीं मिलने के साथ पोर्टल के बंद होने से परेशान 


गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में उन्होंने एससी एसटी के छात्र छात्राओं को विगत 3 वर्षों से स्कॉलरशिप नहीं मिलने से छात्रों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और स्कॉलरशिप पोर्टल बंद होने के कारण छात्र-छात्राएं अपनी स्कॉलरशिप फॉर्म नहीं भर पा रहे हैं। जिससे वह आवास भत्ता योजना एवं छात्रवृत्ति योजना का लाभ नहीं ले पा रहे है, जिससे उनको अपनी पढ़ाई को नियमित जारी रखने में परेशानी हो रही है। 

आवास भत्ता नहीं मिलने से नहीं दे पा रहे किराया 


इसके साथ ही अधिकांश छात्र-छात्रायें आर्थिक स्थिति से कमजोर होने के कारण अपनी पढ़ाई और रूम का किराया नहीं दे पा रहे हैं जिसके चलते उनकी पढ़ाई में बाधा उत्पन्न हो रही है उन्होंने शासन प्रशासन से गुहार लगाते हुए कहा है कि जल्द से जल्द स्कॉलरशिप और गृह आवास योजना का  पोर्टल चालू करने की मांग करते हुए कॉलेज फीस माफ करने की मांग की है। जिससे छात्र-छात्राओं की की रुकी हुई छात्रवृत्ति मिल सके। इसके साथ ही गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में मांग किया गया है कि समस्त आदिवासी छात्रावासों को जल्द से जल्द पुन: खोला जाए एवं छात्रों की शैक्षणिक अध्ययन की उत्तम व्यवस्था की जाए, जिससे वह अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति वर्ग के विद्यार्थी अपने शैक्षणिक अध्ययन को बिना किसा बाधा के सुचारु रुप से चालू रख सके।

सर्व सुविधा के साथ जल्द प्रारंभ कराया जाये छात्रावास 

गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन के द्वारा छिंदवाड़ा कलेक्टर के माध्मय से सौंपे गये 6 सूत्रीय ज्ञापन में उन्होंने मांग किया है जिसमें गृह आवास भत्ता की राशि तत्काल प्रदान करने की मांग, समस्त छात्रावासों को जल्द से जल्द खोला जाए और ट्राइबल का जो पोर्टल बंद हुआ है उसे चालू किया जाए। वहीं लगभग 3 सालों से स्कॉलरशिप एवं गृह आवास योजना की राशि अभी तक जिन छात्रों को नहीं मिली है उनकी समस्या की जानकारी लेकर तत्काल राशि प्रदान करें, इसके साथ ही प्रवेश शुल्क माफ करने की मांग किया है। 

छात्र-छात्राओं ने जताया आक्रोश


जिन छात्र-छात्राओं को शैक्षणिक अध्ययन करना चाहिये उन्हें अपने हक अधिकारों को लेने के लिये कलेक्ट्रेट कार्यालय के चक्कर लगाना पड़ रहा है उन्हें अपनी मांगों के लिये ज्ञापन सौंपना पड़ रहा है। सरकार, शासन, प्रशासन तक अपनी समस्याओं को पहुंचाने के लिये गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन के साथ पहुंचे छात्र-छात्रायें आक्रोश जताते हुये दिखाई दिये।  

ज्ञापन सौंपते समय ये रहे मौजूद 

गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन के द्वारा ज्ञापन सौंपते समय इस मौके पर छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय प्रभारी शिव रावेन तिरकाम, जिला अध्यक्ष अतुल राजा उईके, उपाध्यक्ष मिथुन धुर्वे, जिला संरक्षक संतराम तेकाम, कोषाध्यक्ष सुनील उईके, विधिक सलाहकार राजू उईके, पीजी कॉलेज छात्र अध्यक्ष आयुष वरकडे, अमित, आनंद, तुलसी धुर्वे, पीजी कॉलेज छात्रा अध्यक्ष सपना उइके, प्रियंका भलावी गर्ल्स कॉलेज छात्रा अध्यक्ष, रितु मालवीय एवं समस्त जीएसयू पदाधिकारी उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment

Translate