Monday, March 1, 2021

आरक्षण व प्रतिनिधित्व हमारा जन्म सिद्ध अधिकार, सुप्रीम कोर्ट में मध्य प्रदेश अजाक्स एससी, एसटी वर्ग को अधिकार दिलाने कर रहा संघर्ष-जे एन कंसोटिया

आरक्षण व प्रतिनिधित्व हमारा जन्म सिद्ध अधिकार, सुप्रीम कोर्ट में मध्य प्रदेश अजाक्स एससी, एसटी वर्ग को अधिकार दिलाने कर रहा संघर्ष-जे एन कंसोटिया

सिवनी जिला मुख्यालय में अजाक्स के संभागीय सम्मेलन में प्रदेश भर से पहुंचे अधिकारी-कर्मचारी 


विवेक डेहरिया संपादक/मोरश्वर तुमराम प्रबंध संपादक
सिवनी। गोंडवाना समय। 

संभाग स्तर पर पहली बार सिवनी जिला मुख्यालय में संभागीय अजाक्स अधिवेशन का आयोजन सिवनी जिला मुख्यालय में स्थित अंबेडकर प्रतिमा के सामने स्थित राशि लॉन में 28 फरवरी 2021 दिन रविवार को किया गया। अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में उठाये गये प्रमुख विषयों में प्रमुख रूप से वर्तमान परिपेक्ष्य में आरक्षण एवं संविधान की प्रसंगिकता, निजीकरण के दुष्परिणाम, पुरानी पेंशन बहाली पर चर्चा, बेकलाग एवं पदोन्नति पर विचार विमर्श, यू.पी.एस.सी. में पीछे के दरवाजे से आई.ए.एस.पदों की भर्ती, अधिकारी एवं कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं व समाधान पर अतिथि वक्ताओं के द्वारा विचार व्यक्त किया गया।


संभागीय अधिवेशन को सिवनी जिला मुख्यालय में सफलता पूर्वक संपन्न कराने के लिये बीते 7 फरवरी 2021 को ही विशेष बैठक आयोजित कर रणनीति बनाई गई थी उस आधार पर सिवनी जिले में निवास करने वाले प्रांतीय, संभागीय, जिला, ब्लॉक के पदाधिकारियों ने एकता के साथ मिलकर तैयारी किया था जिसकी झलक कार्यक्रम की सफलता के रूप में दिखाई दिया। 

अंबेडकर जी व रानी दुर्गावती प्रतिमा पर किया माल्यार्पण


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स के जिला अध्यक्षा श्री संतकुमार मर्सकोले ने मांगपत्र के प्रमुख विषयों से प्रांतीय पदाधिकारियों को अवगत कराया। केवलारी तहसील अध्यक्ष श्री ओमकार तिलगाम ने 12 जून 2016 में मुख्यमंत्री द्वारा एससी एसटी वर्ग के छात्रों को एमबीबीएस, आईआईटी व अन्य शैक्षणिक संस्थानों में नि:शुल्क प्रवेश दिए जाने की बात कहा था लेकिन आय का बंंधन होने के कारण हमारे वर्ग के छात्र-छात्राएं प्रवेश नहीं ले पा रहे हैं इसलिए आय का बंधन समाप्त कराया जाए।

कार्यक्रम में महिला प्रकाष्ट की प्रांतीय अध्यक्ष श्रीमति निर्मला पाटिल ने भी अपना संदेश दिया। कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति के साथ समाज की स्थिति को लेकर युवाओं ने गीत भी गाया।

कार्यक्रम स्थल में पहुंचने से पहले मुख्य अतिथियों के द्वारा डॉ बाबा साहब अंबेडकर जी की प्रतिमा पर एवं रानी दुर्गावती प्रितमा स्थल पर पहुंच कर माल्यार्पण किया गया। संभागीय अधिवेशन को सफल बनाने में सिवनी जिला सहिंत संभाग के पदाधिकारियों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया। 

प्रजातंत्र में महत्वपूर्ण होता है प्रतिनिधित्व 


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में मुख्य अतिथि श्री जे एन कंसोटिया अवर मुख्य सचिव मध्य प्रदेश शासन भोपाल एवं प्रांतीय अध्यक्ष अजाक्स ने कहा कि संविधान में दिये गए मौलिक अधिकार, एससी, एसटी को आरक्षण का दिया गया अधिकार हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है। प्रजातंत्र में प्रतिनिधित्व महत्वपूर्ण होता है बिना प्रतिनिधित्व के प्रजातंत्र शून्य होता है।
        आरक्षण में हमें प्रतिनिधित्व का अधिकार दिया गया है इसलिए प्रतिनिधित्व हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है। श्री जे एन कंसोटिया ने आगे कहा कि समाज में सद्भाव होना चाहिए, समाज के लोगों को मिलकर समाज को विकास की ओर ले जाना चाहिए। उन्होंने शिक्षा की स्थिति बताते हुए कहा कि आजादी के पहले हमारे वर्ग के  लोग 1 प्रतिशत ही शिक्षित थे जो वर्तमान समय में लगभग 65 प्रतिशत तक पहुंच गया है वहीं महिलाएं की स्थिति शून्य से बढ़कर समान की स्थिति में पहुंच गई हैं। 

नौकरी का प्रतिशत कम इसलिए समाज को स्वरोजगार से जोड़ें


आगे श्री जे एन कंसोटिया ने कहा कि हमें राजनैतिक स्वतंत्रता तो मिली है लेकिन आर्थिक व समाजिक स्वतंत्रता नहीं मिली है। हमारे समाज के 1 प्रतिशत वर्ग ही अच्छी स्थिति पर है वहीं 99 प्रतिशत अच्छा भोजन पाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। हमारे वर्ग के श्रमिकों की स्थिति भी ठीक नहीं है शहरी क्षेत्र में निवास करने वाले कमजोर वर्ग के सिर्फ मजदूरी पर ही आश्रित हैं। उन्हें निजी क्षेत्र में काम तो दिया जा रहा है परंतु मुनीम या मैनेजर कोई नहीं बना रहा है।
        श्री जे एन कंसोटिया ने कहा कि सरकारी क्षेत्र में 2 प्रतिशत ही नौकरी मिलने की संभावना हमारे वर्ग के लिए नजर आ रही है इसलिए हमें हमारे वर्ग के लोगों को स्वरोजगार के क्षेत्र में आगे लाना होगा उन्हें इसका लाभ दिलाने के लिए हम सबको मिलकर प्रयास करना होगा।
         इसी तरह उन्होंने आरक्षण को लेकर मध्य प्रदेश अजाक्स के द्वारा किये जा रहे प्रयास के संबंध में उन्होंने बताया कि सुप्रीम कोर्ट में मध्य प्रदेश अजाक्स एसटी एससी वर्ग के आरक्षण के लिए सबसे बड़ी लड़ाई लड़कर संघर्ष कर रहा है। उन्होंने सबको यही संदेश दिया कि हमें शिक्षित रहना है, संगठित रहना है और हमारे अधिकारों के लिए व समाज के विकास के लिए संघर्ष करने के लिए हमेशा तैयार रहना है।   

गांव ही हमारा भविष्य इसलिए सुरक्षित रखें जमीन-सी एल धुर्वे


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष श्री सी एल धुर्वे ने अपनी बात रखते हुए जयपाल मुण्डा जी के महत्वपूर्ण इतिहास से मौजूद लोगों को अवगत कराया। इसके साथ ही जय भीम, जय सेवा, जय जौहार शब्द का प्रयोग अभिवादन के रूप में प्रयोग करने से समाज मेें एकता स्थापित होती है।
        वहीं उन्होंने आगामी समय मेें गांव ही हमारा भविष्य होगा इसके लिए गांव में जमीन को सुरक्षित रखने का संदेश दिया। श्री सी एल धुर्वे ने आगे कहा कि आरक्षण को समाप्त करने के लिए आउटसोर्स से भर्ती की जा रही है हमें स्वरोजगार पर विशेष ध्यान देना होगा। गांव की आवश्यक सामग्री जो शहरों में बिकती है उस पर हमें एकाधिकार कर करना होगा जिससे हमारी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी साथ में हमारे लोगों को रोजगार भी मिलेगा। 

अजाक्स के प्रांतीय कार्यालय भवन के लिए करें सहयोग-अजय सोनकर


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री अजय सोनकर ने कहा कि अजाक्स का जन्म 1993 में हुआ था। वहीं उन्होंने अजाक्स के  प्रदेश कार्यालय जो कि पूरी पारदर्शिता के साथ 3 मंजिला भवन के रूप में बन रहा है उसके  लिए सहयोग पूरे मध्य प्रदेश अजाक्स के पदाधिकारियों से सहयोग करने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि आरक्षण को लेकर नियत ठीक नहीं है पूर्व में 12 जुलाई 2016 को अजाक्स संगठन के द्वारा दिखाई गई एकता की ताकत को पुन: दिखाने के लिए तैयार रहने क ी बात कहा। उन्होंने बताया कि शिविल जज में 27 प्रतिशत से 12 प्रतिशत किये जाने पर अजाक्स द्वारा माननीय उच्चन्यायालय में अजाक्स द्वारा पिटिशन लगाया गया है।

मेरी नौकरी व सैलरी समाज की थी-पी एस खोब्रागढ़ें


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में महाराष्ट्र से जनवरी 2021 में सेवानिवृत हुए इंजीनियर पी एस खोब्रागढ़ें ने कहा कि मध्य प्रदेश में एसटी, एससी वर्ग के आरक्षण के लिए अधिकारों की लड़ाई लड़ने के लिए आईएएस अधिकारी अजाक्स का नेतृत्व कर रहे हैं यह बहुत अच्छी बात है।
        इसके साथ ही उन्होंने समाज को संदेश दिया कि उन्हें इंजीनियर की नौकरी नहीं मिली थी बल्कि बाबा साहब की वजह से समाज को नौकरी मिली थी इसलिए मेरी नौकरी व सैलरी समाज की थी। उन्होंने समाज के लोगों से आहवान किया कि आप संघर्ष करते रहें आने वाले समय में उलगुलान, क्रांति आयेगी जिससे समाज में समता, संप्रभुता स्थापित होगी। वहीं उन्होंने समाज को मांगने वाला नहीं देने वाला समाज बनाने का आहवान किया।  

अजाक्स के मध्य प्रदेश में हैं 1 लाख 90 हजार अधिकारी कर्मचारी-डॉ वर्मा


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन मेंं ग्वालियर से पहुंचे अजाक्स के प्रदेश सचिव डॉ वर्मा ने कहा कि में समस्याओं पर नही समाधान पर बात करूंगा। वहीं उन्होंने कहा कि हर समस्या की जड़ राजनीति में है संविधान में इलेक्शन और सिलेक्शन का महत्व बताते हुए वोट से राजा व शासक बनने के लिए वोट का सहीं उपयोग करने की बात कहा इसके साथ ही कलम की ताकत का एहसास भी कराया।
        मध्य प्रदेश में अजाक्स के लगभग 1 लाख 90 हजार अधिकारी कर्मचारी हैं इसके बाद भी कुछ लोग स्थानांतत्रण और पोस्टिंग को लेकर डरें हुए रहते हैं। वहीं उन्होंने समाज को नशा आदि व्यसनों से दूर रह कर बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि हम जिस विभाग में नौकरी करते हैं उसी विभाग में हमारे वर्ग के किसी साथी के साथ अन्याय अत्याचार होता है तो सब मिलकर अन्याय से बचाने में साथ दें। 

अजाक्स थाना में एसटी एससी वर्ग का हो अधिकारी


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में जबलपुर अजाक्स जिला अध्यक्ष श्री योगेश चौधरी ने कहा कि हमारा आरक्षण समाप्त न हो इसके लिए हमें एकजुटता के साथ कार्य करना होगा। उन्होंने अजाक्स थाना में हमारे वर्ग का ही अधिकारी होना चाहिए इसके लिए अजाक्स के प्रांतीय पदाधिकारियों से कार्यवाही कराने की बात कहा। जिससे हमारे वर्ग के लोगों की सुनवाई अजाक्स थाना में आसानी से हो सके।
        कार्यक्रम में अजाक्स नरसिंहपुर के जिला अध्यक्ष श्री जे एस धुर्वे ने कहा कि जिले से मिलने वाली समस्याओं का समाधान कराने में प्रांतीय पदाधिकारी सहयोग करें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पुरानी पेंशन को बाहाल करवाया जाए एवं नई पेंशन व्यवस्था को समाप्त किया जाए। 

गांव तक अजाक्स को पहुंचाना होगा


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स कटनी के जिला अध्यक्ष श्री सोहन लाल चौधरी ने कहा कि हमारे द्वारा प्रदेश के निर्देशों का हमेशा पालन किया जाता है। वहीं उन्होंने बताया कि अजाक्स को ग्रामीण क्षेत्रों में एसटी एससी वर्ग की समस्याओं क ा समाधान कराने के लिए गांव तक अजाक्स को पहुंचाना होगा। हम समाज की जिम्मेदारी को समझें क्योंकि संविधान व आरक्षण खतरे में है।
        अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स छिंदवाड़ के जिला अध्यक्ष एस बी इनवाती ने कहा कि बेकलाग के पदों को तत्काल भरे जाने के लिए प्रदेश स्तर पर कार्य करने की आवश्यकता है। वहीं उन्होंने आगे कहा कि एट्रोसिटी एक्ट प्रकरण पंजीवद्ध होने की सूचना व स्कूटनी अजाक्स के जिला अध्यक्ष को दी जावे इसके लिए प्रांतीय पदाधिकारी सभी जिलों में अनुमोदन कराने का प्रयास करें। इसके साथ ही रोस्टर प्रणाली में भी अजाक्स के जिला अध्यक्ष को अनुमोदित कराने की बात भी कहा।

नक्सलवाद, पांचवी अनुसूची व अनुकंपा नियुक्ति का उठाया मुद्दा


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स बालाघाट जिला अध्यक्ष श्री घनश्याम परते ने कहा कि देश में आरक्षण को लेकर स्थिति विपरीत होती जा रही है निजीकरण को बढ़ावा दिया जा रहा है। बेकडोर से एंट्री हो रही है इसके साथ ही उन्होंने 2 अप्रेल को 2018 को किये गए आंदोलन के दौरान बनाए गए प्रकरण को समाप्त कराने में प्रांतीय पदाधिकारियों से सहयोग की अपेक्षा व्यक्त किया। उन्होंने परामर्शदात्री की बैठक प्रतिमाह होना चाहिए इसके लिए भी प्रयास किया जावे। उन्होंने बालाघाट जिले में नक्सलवाद की कार्यवाही को लेकर वेकशूर लोगों को नक्सली का नाम देकर कार्यवाही किये जाने पर सवाल उठाया।
        अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स मंडला के जिला अध्यक्ष आर के चौधरी ने कहा कि अजाक्स जो आवाज उठाता है उसे प्रदेश सरकार सुनती है इसी तरह का संगठन देश में भी होना चाहिए। उन्होंने अनुकंमा नियुक्ति के लिए अनारक्षित वर्ग से भर्ती  करने के लिए प्रयास करने की बात कहा।
            अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में अजाक्स डिंडोरी के जिला सचिव श्री बिहारी लाल परस्ते ने कहा कि डिंडोरी जिले में अजाक्स कार्यालय के लिए भवन की मांग कई बार की जा चुकि है लेकिन अधिकारियों द्वारा नहीं दिया जा रहा है।
        इसके साथ ही उन्होंने करंजिया विकासखंड में बाबा साहब व बिरसा मुण्डा की प्रतीमा स्थापना के भूमि पूजन करने के पश्चात कुछ लोगों द्वारा किये जा रहे विरोध की जानकारी भी दिया। उन्होंने प्रदेश के 23 हजार गौ सेवकों की समस्याओं से भी अवगत कराया। डिंडोरी जिले में पलायन की समस्या के साथ ही पारंपरिक ग्राम सभा पांचवी अनुसूची के संवेधानिक प्रावधान को अमल में लाये जाने के लिए प्रयास करने की बात  कहा। 

जिस घर में बुद्ध पहुंचेगें वहां धम्म अपने आप पहुंचेगा-गगन मलिक


अजाक्स के संभागीय अधिवेशन में व बुद्ध भगवान की प्रतिमा वितरण कार्यक्रम में पहुंचे फिल्म कलाकार श्री गगन मलिक ने संदेश देते हुए कहा अभी हम एक तालाब के रूप में हैं हमें समुद्र में जाना होगा तब कुछ बदलाव हो सकता है इसके साथ ही हमें जमाने के साथ चलना होगा।

फिल्म कलाकार श्री गगन मलिक ने आगे कहा कि बाबा साहब ने अपने दम पर पढ़ाई किया था न कि आरक्षण के बल पर किया था। देश में हमें मजबूत संगठन बनाना होगा हमें लेने की नहीं देने की आदत बनाना होगा। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि बुद्ध की प्रतिमा वह लोगों को इसलिए वितरण कर रहे हैं कि जिस घर में बुद्ध पहुंचेगें वहां धम्म अपने आप पहुंचेगा। 


No comments:

Post a Comment

Translate