Wednesday, March 3, 2021

पुरानी पेंशन स्कीम से कर्मचारियों का भविष्य सुरक्षित इसलिये हमें नवीन पेंशन स्कीम से किया जाये मुक्त

पुरानी पेंशन स्कीम से कर्मचारियों का भविष्य सुरक्षित इसलिये हमें नवीन पेंशन स्कीम से किया जाये मुक्त 

धनोरा में प्रदेश स्तरीय पुरानी पेंशन अधिकार सम्मेलन संपन्न

प्रदेश भर से हजारों शिक्षक हुए शामिल


सिवनी/धनौरा। गोंडवाना समय।

कर्मचारियों की वर्ष 2005 से बंद की गई पुरानी पेंशन को पुन: बहाल किए जाने की मांग को लेकर देश भर में कर्मचारियों द्वारा आंदोलन किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में पुरानी पेंशन की बहाली हेतु धनोरा तहसील मुख्यालय में ट्राईबल वेलफेयर एसोसिएशन मध्य प्रदेश के तत्वाधान में पुरानी पेंशन बहाली अधिकार सम्मेलन का आयोजन ट्राईबल वेलफेयर एसोसिएशन के प्रांत अध्यक्ष श्री डी के सिंगौर, अध्यक्षता श्री परमानंद डेहरिया एवं श्री विपनेश जैन के मुख्य आतिथ्य में किया गया। पेंशन अधिकार सम्मेलन में सिवनी जिले के समस्त विकासखंड एवं सिवनी जिले के पड़ोसी जिले मंडला जिले के शिक्षक कर्मचारियों सहित प्रदेश भर से शिक्षकों ने भाग लिया। ट्राईबल वेलफेयर एसोसिएशन के प्रांतीय पदाधिकारी प्रांतीय आईटी सेल अध्यक्ष श्री विजय उपाध्याय, श्री सुरेश यादव प्रांतीय महासचिव, श्री संजय शुक्ला प्रांतीय उपाध्यक्ष, श्रीमती रश्मि मरावी की उपस्थिति में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

बीआरसी ने शैक्षणिक की दी जानकारी 


कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों द्वारा मां सरस्वती की पूजन वंदना के उपरांत कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों का स्वागत तहसील अध्यक्ष अमर सिंह बघेल ब्लॉक अध्यक्ष, ठाकुर सिंह मरकाम, संतोष बेदी के द्वारा किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में धनोरा बीआरसी श्री प्रकाश ठाकुर के द्वारा विकासखंड में चल रहे शैक्षणिक गतिविधियों के संबंध में उपस्थित मंच को जानकारी दी। इसके बाद ट्राईबल वेलफेयर एसोसिएशन सिवनी के जिलाध्यक्ष श्री चित्तौड़ सिंह कुशराम द्वारा ट्राईबल वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा अध्यापक शिक्षक संवर्ग के लिए दिए जा रहे कार्यों का उल्लेख किया एवं पुरानी पेंशन बहाली की मांग की। 

पुरानी पेंशन बहाली की लड़ाई आखिरी सांस तक लडेंगे


कार्यक्रम में उपस्थित नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम के प्रांतीय पदाधिकारी श्रीमती समशुननिशा के द्वारा अपने ओजस्वि भाषण से नवीन पेंशन स्कीम की कमियां तथा ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करने की मांग को पुरजोर तरीके से उठाया। र्वा 1995 से संघर्ष के साथी श्री महफूज खान द्वारा पुरानी पेंशन बहाली की लड़ाई आखिरी सांस तक लड़ने और सहयोग की बात कही गई। मंडला जिले से उपस्थित मंडला जिला अध्यक्ष श्री दिलीप मरावी एवं महिला जिलाध्यक्ष श्रीमती मीना साहू द्वारा महत्वपूर्ण बिंदुओं को रखते हुये पुरानी पेंशन बहाली हेतु अभियान चलाकर जागरूकता लाने का संदेश दिया गया। नेशनल मूवमेंट फार ओल्ड पेंशन स्कीम के जिला अध्यक्ष श्री कपिल सनोडिया द्वारा सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष करने हेतु साथियों को तैयार रहने का आह्वान किया। 

विधायक, सांसद नवीन पेंशन स्कीम के दायरे में क्यों नहीं 


कार्यक्रम के दौरान श्री प्रीतम यादव शिक्षक द्वारा नवीन पेंशन स्कीम के विरोध में स्वरचित गीत प्रस्तुत किया गया, जिसे सुनकर सभी लोग मंत्रमुग्ध हो गए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं नेशनल मूवमेंट फार ओल्ड पेंशन स्कीम के प्रांतीय कोषाध्यक्ष श्री विपनेश जैन जो कि 1995 से सिवनी जिले में अध्यापक संवर्ग के सर्वमान्य हितेषी के रूप में कार्य कर रहे हैं उन्होंने पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग की एवं कहा कि यदि नवीन पेंशन स्कीम इतनी अच्छी है तो विधायक, सांसद को भी नवीन पेंशन स्कीम के दायरे में क्यों नहीं लिया गया। उन्होंने कहा कि 62 वर्ष तक सरकारी सेवा देने के उपरांत सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों को मात्र 800,1000 के पेंशन की पात्रता है। यह उचित नहीं है इसलिये हमें नवीन पेंशन स्कीम से मुक्त किया जाये। 

पुरानी पेंशन कर्मचारियों के बुढ़ापे की लाठी 


सभा को नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम के प्रांत अध्यक्ष श्री परमानंद डेहरिया ने पुरानी पेंशन बहाली की मांग की। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे ट्राईबल वेलफेयर एसोसिएशन के प्रांत अध्यक्ष श्री डीके सिंगौर ने अपने उद्बोधन में कहां थी पुरानी पेंशन स्कीम से कर्मचारियों का भविष्य सुरक्षित है। पुरानी पेंशन कर्मचारियों के बुढ़ापे की लाठी है, सरकार नवीन पेंशन स्कीम से कर्मचारियों की गाढ़ी कमाई शेयर बाजार में लगा रही है जो कि गलत है। एक तरफ शासन कहता है की सट्टा खेलना कानूनन अपराध है वही हमारी गाढ़ी कमाई को शेयर बाजार में लगाकर सट्टा चला रही है। 

पेंशन नहीं तो वोट नहीं को अपनाना पड़ेगा


प्रांत अध्यक्ष श्री डीके सिंगौर ने कहा कि आने वाले समय में चाहे हमें अपने प्राणों की आहुति क्यों ना देना पड़े पर हम पुरानी पेंशन लेकर रहेंगे। उन्होंने पूरे देश के सभी कर्मचारी संगठनों से आह्वान किया कि सभी एक मंच पर आकर शासन की गलत नीति का विरोध करें और फिर भी यदि शासन नहीं मानता है तो पेंशन नहीं तो वोट नहीं को अपनाना पड़ेगा। सभा के उपरांत हजारों की संख्या में कार्यक्रम में उपस्थित हुए कर्मचारियों द्वारा कार्यक्रम स्थल से तहसील कार्यालय धनोरा तक गगनचुंबी नारों के साथ तहसीलदार धनोरा को प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया गया।

कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रमुख रूप से ये रहे मौजूद 

पेंशन अधिकार सम्मेलन कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रांतीय अध्यक्ष आईटी सेल श्री विजय उपाध्याय, कार्यकारी जिलाध्यक्ष श्री नीलेश जैन, तहसील अध्यक्ष धनोरा अमर सिंह बघेल, ब्लॉक अध्यक्ष श्री ठाकुर सिंह मरकाम, ब्लॉक अध्यक्ष श्री संतोष वेदी, सुनील कोरेती, हिरदे लाल कोरेटी, गणेश शिवहरे, हेमराज डेहरिया, लेखाश्वरी कोरेटी, बीना इनवाती, अंजू लता बोपचे, पवन पटेल, रामबगस शाक्यवार, कैलाश बकोड़े, घनश्याम चौधरी, ओमकार मरावी, करीम खान, ब्रजराज बघेल, चिंतामन सनोडिया, ब्रजमोहन सनोडिया, रघुवंशा पन्द्रे, सफीक खान, नंदकिशोर कटारे, रश्मि मरावी, राजेश तिवारी, राजकुमार राय, टीकाराम बकोडेÞ, कैलाश सेन, रघुराज पटेल, जितेंद्र तिवारी, कृष्ण कुमार श्रीवास्तव, गेंद लाल अहिरवार, अल्केश यादव, भोपाल सिंह चौहान, राजेंद्र सिंह, मोहम्मद खान, अहफाज खान, विजय सोनी, करण मरावी, राजकुमार चौहान, राजेंद्र मरावी, अरुणलता सहलाम आदि उपस्थित रहे। उक्त कार्यक्रम में पत्रकार श्री विनोद सोनी सहित अन्य पत्रकार भी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Translate