Tuesday, March 2, 2021

सरकार कर रही कर्मचारियों का आर्थिक शोषण, बजट से कर्मचारी जगत में निराशा

सरकार कर रही कर्मचारियों का आर्थिक शोषण, बजट से कर्मचारी जगत में निराशा




सिवनी। गोंडवाना समय।
मध्यप्रदेश शासन के वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा द्वारा 2 मार्च 2021 को बजट पेश किया गया लेकिन सरकारी कर्मचारियों के लिए बजट में किसी भी प्रकार का कोई प्रावधान नहीं रखा गया है। जिसके कारण कर्मचारी जगत में भारी निराशा एवं आक्रोश व्याप्त हो गया है जबकि कोरोना में जहां कर्मचारियों  का 5 परसेंट डी ए को फ्रीज कर दिया गया वहीं कर्मचारियों एक वेतन वृद्धि भी रोक दी गई है, जिसके कारण कर्मचारियों को महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है। 

कर्मचारियों में अत्यधिक निराशा व सरकार के प्रति आक्रोश  

मध्य  प्रदेश सरकार के वित्त मंत्री द्वारा पेश किये गये बजट के बाद प्रतिक्रिया देते हुये श्री श्रवण कुमार डहरवाल, प्रदेश संयोजक राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संगठन मध्य प्रदेश एवं जिला अध्यक्ष मध्य प्रदेश राज्य कर्मचारी एवं प्रांतीय शिक्षक संघ सिवनी ने जारी बयान में कहा गया कि सरकार द्वारा लगातार कर्मचारियों का आर्थिक शोषण किया जा रहा है जिसके कारण समस्त कर्मचारी जगत अब आक्रोशित होकर आंदोलन करने पर विचार करने लगे है। इस बजट से सरकारी कर्मचारियों को निश्चित तौर पर रोके गए डी ए एवं अन्य वेतन वृद्धि के साथ-साथ ग्रह भत्ता जो कि जो कि छठे वेतनमान के आधार पर दिया जा रहा है उसे निश्चित तौर पर ही सातवें वेतनमान के आधार पर देने की सभी कर्मचारी राह देख रहे थे परंतु अब जबकि बजट पेश हो चुका है जिसमें कर्मचारियों के लिए कुछ भी नहीं है। जिससे समस्त संवर्ग के कर्मचारियों में अत्यधिक निराशा है एवं सरकार के प्रति आक्रोश भी  है। 

आंदोलन हेतु तैयार रहने का किया आग्रह

प्रदेश राज्य कर्मचारी संगठन के जिला अध्यक्ष श्रवण कुमार डहरवाल, जिला सचिव अनिल अनिल राजपूत, संघ के प्रेमगगन सनोडिया, ज्ञान लाल साहू, मनीष तिवारी, अविनाश तिवारी, रघुवीर चौधरी, विजय बिसेन, राजेंद्र मांडवे, संजय करवेति, दौलतराम वर्मा, मनीराम वैष, गोविंद उइके, राजेश तिवारी, तान सिंह पटेल, मुकेश ठाकुर, पंतलाल मरार्पा, कृष्ण कुमार गोलानी ,मनोज यादव, अनिल डहरवाल, राजकुमार बघेल लक्ष्मी राजपूत एवं प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष मिश्रा  निंदा की गई है एवं बजट को कर्मचारियों का शोषण करने वाला बताया गया है एवं आंदोलन हेतु तैयार रहने का आग्रह किया गया है। 

No comments:

Post a Comment

Translate