Tuesday, April 27, 2021

समाज सेवी मोहन परोहा की प्रेरणादायक पहल के बाद मुस्लिम समाज ने मस्जिद को कोविड सेंटर बनाने दिया प्रस्ताव

समाज सेवी मोहन परोहा की प्रेरणादायक पहल के बाद मुस्लिम समाज ने मस्जिद को कोविड सेंटर बनाने दिया प्रस्ताव

4 माह के लिये भवन उपलब्ध कराकर स्वास्थ्य विभाग की निगरानी व स्टाफ के सहयोग से हो संचालित 

समाजसेवी मोहन परोहा ने शासन को स्वयं के खर्चे पर 100 बिस्तर का कोविड सेंटर बनाने किया आग्रह 

बरघाट। गोंडवाना समय। 

कोरोना वायरस संक्रमण प्रभावित मरीजों की संख्या सिवनी जिले में 1000 को पार कर गई है। वहीं बरघाट ब्लॉक में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही हैं। ऐसी स्थिति में स्वास्थ्य केंद्रों में उपचार हेतु बेड की कमी को लेकर बरघाट नगर में जनहितेषी कार्यों के लिये सदैव अग्रणी भूमिका निभाने वाले समाज सेवी श्री मोहन परोहा ने प्रेरणादायक पहल की है।
        


उन्होंने मानव सेवा के क्षेत्र में आगे हाथ बढ़ाकर प्रशासन को कदम से कदम मिलाकर चलने के लिये निर्णय लेते हुए बरघाट मे 100 बिस्तर का कोविड सेंटर बनाने व उसमें आने वाला समस्त व्यय को स्वयं वहन करने की जिम्मेदारी लेते हुए नि:शुल्क रूप से दवाई उपलब्ध कराने का प्रशासन से आग्रह किया है।

100 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर बनाने हेतु प्रतिबद्ध हूं 

इस सबंध में समाज सेवी श्री मोहन परोहा द्वारा एसडीएम को पत्र लिखकर उन्होंने मानव सेवा के क्षेत्र में प्रेरणादायक पहल करते हुये आग्रह पत्र में लिखा है कि कोरोना की दूसरी लहर के चलते संक्रमण के लगातार बढ़ रहे है। जिसके कारण बरघाट क्षेत्र के नागरिक भी इस समय कोविड-19 महामारी से जूझ रहे है। यहां इस महामारी से संक्रमित नागरिकों का उपचार हेतु कोविड केयर सेंटर नहीं है, जो कि इस परिस्थिति में अत्यंत आवश्यक है। इसके लिये समाज सेवी श्री मोहन परोहा ने शासन प्रशासन को विश्वास दिलाया कि वे एक 50 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर वहीं जरूरत पड़ने पर 100 बिस्तरों का भी किया जा सके को तुरंत बनवाने के लिये प्रतिबद्ध हूँ।

ये सुविधाएं देने को है तैयार 

समाज सेवी श्री मोहन परोहा ने यह कहा है कि कोविड केयर सेंटर में वे अपनी तरफ से सुविधाएं भी देने को तैयार है जिसमें कम गंभीर मरीजों व के लिए 50-100 बिस्तर एवं अन्य जरूरी सुविधाएँ, दवाइयाँ  (कुछ नि:शुल्क दवाइयाँ भी), टेलीफोन व वीडियो कॉल के माध्यम  से जबलपुर एवं अन्य बड़े शहरों के सीनियर डॉक्टर उपलब्ध रहेंगे, सिर्फ अति आवश्यक परिस्थितियों में आॅक्सिजन सप्लाई का भी प्रयास रहेगा। 

सिवनी, नागपुर, जबलपुर नहीं जाना पड़ेगा

इसके साथ ही समाजसेवी श्री मोहन परोहा ने प्रशासन को अवगत कराते हुये लिखे गये आग्रह पत्र में अवगत कराते हुये उल्लेख किया है कि कोविड-19 सेंटर में उनके द्वारा यथासंभव सभी प्रकार की सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिये उन्होंने प्रशासन से अनुरोध किया है कि इसके लिये सरकारी भवन, स्कूल आदि प्रदान करें या उसमें स्थान निर्धारित करें जिसमें  3-4 महीने के लिए एक अच्छा सा कोविड केयर सेंटर बनाया जा सके। साथ ही स्थानीय बीएमओ के दिशा निर्देशन में कोविड केयर सेंटर हेतु आवश्यक स्टॉप उपलब्ध करावे ताकि शासकीय चिकित्सकों की नियमित निगरानी में मरीज स्वास्थ्य लाभ ले सके। इसके साथ ही कोविड-19 स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में नियमित रूप से मरीजों का निरीक्षण करें और डाटा संधारित करें। बरघाट नगर में इस सुविधा से कम गंभीर लोगों को सिवनी, नागपुर, जबलपुर नहीं जाना पड़ेगा। आइसोलेशन व दवाई यहीं उपलब्घ होंगे। अनेक लोगों को सुविधा मिलेगी एवं जीवन रक्षा होगी।

विधायक ने लिखा प्रभारी मंत्री, कलेक्टर व सीएमएचओ को पत्र

वहीं समाज सेवी श्री मोहन परोहा के पत्र के आधार पर बरघाट विधायक श्री अर्जुन सिंह काकोड़िया ने प्रभारी मंत्री, कलेक्टर व सीएमएचओ को पत्र लिखकर कहा है कि कोविड-19 के जिला प्रभारी मंत्री रामकिशोर कांवरे की अध्यक्षता में 13 अप्रैल 2021 को कोविड़ के संबंध में जिले में बैठक सम्पन्न की गयी थी। बैठक के दौरान प्रभारी मंत्री द्वारा कहां गया था कि जिले के किसी भी मरीज को उपचार हेतु जिले से बाहर नहीं भेजा जायेगा उसका इलाज जिले में ही किया जायेगा। इसके लिए जिले के साथ-साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी कोविड मरीजों के इलाज के लिए बेड की व्यवस्था करनी पड़ेगी। 

    कोविड़ मरीजों के उपचार हेतु सरकार हर संभव मदद करेगी संसाधनों एवं धन की कोई भी कमी नहीं आने देंगे। इस संबंध में विधायक श्री अर्जुन सिंह काकोड़िया ने कहा था कि इस महामारी से निपटना आसान नहीं है। हमें जनता से भी मदद लेनी पड़ेगी क्योंकि समाज में ऐसे बहुत सारे लोग है जो इस तरीके के पुनित कार्यों में अपना सहर्ष सहयोग प्रदान करते हैं। समाज सेवी श्री मोहन प्रसाद परोहा जो कि वर्तमान में जबलपुर एवं मुंबई में कार्यरत रियल स्टेट डेवलपमेन्ट कम्पनी के एम.डी. है। इनके द्वारा बरघाट नगर में फिलहाल फर्स्ट फेस में 50 बिस्तरों का कोविड़ केअर सेन्टर की व्यवस्था एवं जरूरत पड़ने पर 100 बिस्तरों तक इसका विस्तार करने की अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की है। 

इस संबंध में शीघ्र ही कोविड़ सेन्टर हेतु भवन एवं आवश्यक स्टाफ की व्यवस्था कराया जावे ताकि तत्काल बरघाट नगर में एक सर्वसुविधायुक्त कोविड़ सेन्टर की स्थापना हो सके। जिला चिकित्सालय में कोविड मरीजों का भारी दबाव है मरीजों को बेड उपलब्ध नहीं हो पा रहें है। मरीज उपचार हेतु यहां-वहां भटक रहे है। सम्पन्न लोग अपना उपचार नागपुर-जबलपुर या अन्य स्थानों में जाकर करा लेते है परंतु निर्धन वर्ग के नागरिकों को समय से इलाज एवं डॉक्टरी सलाह न मिलने के कारण असमय मृत्यु हो रही है। उक्त कोविड़ केयर सेन्टर की स्थापना से ऐसी घटनाओं को रोकने में हम कामयाब होंगे।

मदिना मस्जिद में कोविड सेंटर में 20 बेड, आॅक्सीजन, चिकित्सक सहित अन्य सुविधायें करायेेंगे उपलब्ध


 बरघाट मुस्लिम समाज द्वारा बरघाट नगर मे क्षेत्रवासियों की मदद के लिये सभी सामाजिक बंधुओं द्वारा आपसी सहमति से शान्ति नगर बरघाट में स्थित मदीना मस्जिद को कोविट सेन्टर हेतु शासन को उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है गया है। इसके साथ ही हम कोविड सेन्टर में एक एम.बी.बी.एस. डॉक्टर रोजाना विजिट हेतु , 4 जेम्बो आक्सीजन सिलेन्डर, 2 नर्स 20 बेड भी उपलब्ध करायेंगे। इसके साथ ही अन्य सेवाएं जैसे बिजली, पानी, मरीज का भोजन, मरीज के साथ आये एक व्यक्ति का भोजन एवं साथ आये व्यक्ति के रुकने का इंतजाम सामाजिक बंधुओ द्वारा किया जाएगा। इसके साथ साथ सभी के प्रयास से शासन के निदेर्शानुसार जो भी आवश्यक सामग्री रहेगी वह उपलब्ध कराने का हर संभव प्रयास किया जाने की बात जिला कलेक्टर को लिखे गये पत्र में कही गई है।

कोरोना महामारी को आपसी एकता व सहयोग से करेंगे परास्त 

ऐसी स्थिति मे बीएमओ के दिशा निर्देशन में मदीना मस्जिद बरघाट में डाक्टरो और स्टाफ की नियमित निगरानी में स्वास्थ्य केंद्र बरघाट के अधिनस्थ कोविड सेंटर प्रारंभ करने की बात कही गयी है। बरघाट नगर में विपदा के समय समाज सेवक श्री मोहन परोहा के प्रेरणादायक पहल के बाद मुस्लिम समाज की हाथ बढ़ाकर की गई पहल क्षेत्रवासियों के लिये खुशी का पेगाम लाई है। बरघाट क्षेत्र के लिये जल्द से जल्द शासन की मदद से कोविड सेन्टर प्रांरभ हो जाता है तो वहां पर आवश्यक उपकरण या सेवाओं के माध्यम से सभी लोग मिलकर मानव सेवा में भूमिका निभाने का प्रयास करेंगे। वही एकता रूपी विश्वास के साथ किया गया प्रेरणादायक प्रयास कोरोना जैसी महामारी आपसी एकता व सहयोग से परास्त करेंगे।

No comments:

Post a Comment

Translate