Saturday, May 15, 2021

बसंल सकलेचा अस्पताल की खुली लूट, 40 प्रतिशत अधिक राशि लेने के बाद भी अधिकारी दे रहे छूट

बसंल सकलेचा अस्पताल की खुली लूट, 40 प्रतिशत अधिक राशि लेने के बाद भी अधिकारी दे रहे छूट 

कोरोना संक्रमित मरीजों से लूटपाट व मनमानी को नहीं रोक पा रही सरकार  


सिवनी/भोपाल। गोंडवाना समय। 

मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा समीक्षा बैठकों में बार-बार निजी अस्पतालों के द्वारा ली जाने वाले शुल्क को लेकर हिदायत दी जा रही है कि शासन द्वारा निर्धारित पैकेज के अनुसार ही निजी अस्पताल कोरोना संक्रमित मरीजों से उपचार की राशि ले वहीं अधिक राशि लेने पर कार्यवाही करने के साथ ही संबंधित मरीज को वापस दिलाये जाने की बात भी उन्होंने कहा है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में  स्थित बंसल सकलेचा अस्पताल के द्वारा कोरोना संक्रमित मरीज से पैकेज से अधिक 40 प्रतिशत राशि ली गई है। जिसे जांच में स्थानीय प्रशासन ने भी पाया है परंतु इसके बाद भी 40 प्रतिशत अधिक राशि को मरीज को वापस बंसल सकलेचा अस्पताल नहीं दे रहा है वहीं इस मामले में भोपाल के तसहीलदार श्री संतोष मुदगल भी बसंल सकलेचा अस्पताल से मरीज को राशि वापस दिलाने की बजाय अस्पातल के बचाने का प्रयास कर रहे है। वहीं सीएम हेल्प लॉइन में दर्ज शिकायत को विलोपित कराकर बंद कराने का प्रयास किया जा रहा है। 

9 दिन भर्ती व उपचार पर 2 लाख 16 हजार 113 रुपए ले लिये 

श्री मनीष कुमार शेन्डे से बंसल कोरोना सकलेचा अस्पताल भोपाल में 17 अप्रैल 2021 को कोरोना संक्रमित होने के कारण भर्ती हुये थे । जहां पर वे 9 दिनों तक भर्ती रहे इस दौरान बंसल कोरोना सकलेचा अस्पताल द्वारा श्री मनीष कुमार शेन्डे से 2 लाख 16 हजार 113 रुपए की राशि लिया गया। जबकि शासन द्वारा निर्धारित पैकेज के अनुसार उनसे ज्यादा राशि ली गई तो उन्होंने इसकी शिकायत सी एम हेल्प लॉइन में 8 मई 2021 को दर्ज कराया था। 

40 प्रतिशत राशि अधिक लिये जांच में प्रमाणित हुआ 

सीएम हेल्पलॉइन में शिकायत दर्ज होने के बाद जब जांच की गई तो जांच में यह पाया गया कि बसंल सखलेचा अस्पताल द्वारा कोविड बीमारी में पैकैज से अधिक राशि वसूल की गई। इस संबंध में जांच करते हुये बसंल अस्पताल से इसका कारण के संंबंध में रिपोर्ट लिया गया तो उन्होंने जवाब प्रस्तुत किया कि सामान्य इलाज की तुलना में शासन के निर्देशानुसार निर्धारित पैकेज से अधिक 40 प्रतिशत राशि ली गई है। जांच में उक्त बात प्रमाणित पाई गई। 

तहसीलदार बुला रहे मरीज को भोपाल 

हम आपको बता दे कि कोरोना संक्रमित मरीज मनीष कुमार शेन्डे ने बसंत सकलेचा अस्पताल द्वारा पैकेज से अधिक 40 प्रतिशत राशि लिये जाने की सीएम हेल्प लॉइन में शिकायत दर्ज कराया तो उसके बाद जांच में भी 40 प्रतिशत राशि प्रमाणित पाया गया है। इस संबंध में तहसीलदार श्री संतोष मुदगल के द्वारा मरीज को भोपाल बुलाया जा रहा है। जबकि 40 प्रतिशत राशि मरीज के खाते में भी डलवाई जा सकती है। जबकि वहीं इस मामले में शासन प्रशासन को पैकेज से अधिक राशि वसूलने वाले अस्पतालों पर कड़ी कार्यवाही करना चाहिये लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। शासन प्रशासन के अधिकारी निजी अस्पतालों का बचाव करने में ज्यादा दिलचस्पी दिखा रहे है। यही स्थिति बसंत सकलेचा अस्पताल के मामले में भी प्रयास किया जा रहा है। वहीं इस संंबंध में जानकारी लेने के लिये जब तहसीलदार श्री संतोष मुदगल को गोंडवाना समय द्वारा उनके मोबाईल नंबर 9479884832 पर फोन लगाया गया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। 

No comments:

Post a Comment

Translate