Thursday, May 13, 2021

डॉ अमित जैन को कोरोना महामारी से पूरे ब्लाक को मुक्त कराने की चुनौती के साथ मिली केवलारी बीएमओ की जिम्मेदारी

डॉ अमित जैन को कोरोना महामारी से पूरे ब्लाक को मुक्त कराने की चुनौती के साथ मिली केवलारी बीएमओ की जिम्मेदारी


सिवनी। गोंडवाना समय।

कोरोना महामारी संकट के समय लम्बे समय से स्वाथ्य व्यवस्था में सुधार को लेकर जिला प्रशासन, स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग, जनप्रनिधि, कर्मचारी संगठन व समाजसेवक मिलकर निरंतर प्रयास कर रहे है। वहीं स्वास्थ्य विभाग में जहां चिकित्सकों व स्टाफ की कमी को पूरा करने के लिये भर्ती प्रक्रिया भी की जा रही है।
        


वहीं केवलारी सामुदाायिक स्वास्थ्य केंद्र में बीएमओ का प्रभार दिये जाने के लिये निर्णय जिला प्रशासन, सीएमएचओ द्वारा व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र केवलारी के विभागीय चिकित्सा कर्मचारियों के अधिकारियो की मांग पर स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ क्षेत्रिय नागरिकों को दिये जाने के लिये निर्णय लिया गया है।

इसके तहत डॉ ए के लखरा के स्थान पर डॉ अमित जैन को केवलारी सिविल अस्पताल और पूरे ब्लाक के स्वाथ्य सेवाए की जिम्मेदारी दी गई है। 

पाण्डिया छपारा में हुई थी डॉ अमित जैन की पहली पोस्टिंग

हम आपको बता दे कि जवाहर लाल नेहरु मेडिकल कालेज वर्धा से पास आउट होने वाले डॉ अमित जैन की पांडिया छपारा में मेडिकल आॅफिसर के रूप में पहली पोस्टिंग हुई थी। लम्बे समय से अस्पताल में डॉक्टर के नही होने से पांडिया छपारा क्षेत्र में स्वास्थ सुविधाओं की स्थिति चिंताजनक थी।
        अधिकांशतय: पाण्डिया छपारा के क्षेत्रिय ग्रामीणों को इलाज के लिए पड़ोसी जिला बालाघाट जाना पड़ता था। वहीं पाण्डिया छपारा में डॉ अमित जैन पदस्थ होने के बाद से क्षेत्रीय ग्रामीणों को उपचार में सुविधा मिल रही थी वहीं वे हर समय मरीजो के उपचार के लिए उपलब्ध रहते थे। 

        वहीं वे कोरोना संक्रमण के दौरान दूरस्थ इलाको में भी अपनी टीम के साथ कोरोना समय में बीमारी के रोकथाम, बचाव के उपाय व जांच आदि कार्यों में पहुंचते थे यह उनकी पाण्डिया छपारा स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत आने वाले ग्रामीण अंचलों में जनता में अपनी अलग विशेष पहचान बनाने में कामयाब रहे। 

विधायक के प्रयास से प्रारंभ हुआ कोविड केयर अस्पताल में मरीज हो रहे स्वस्थ्य 


विधानसभा क्षेत्र केवलारी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र केवलारी में पूर्व बीएमओ डॉ अमृत कुमार लखरा के कार्यकाल में कोरोना संक्रमण के बाद पूरे ब्लाक में स्वाथ्य व्यवस्था को लेकर चिंता थी।  जिसे क्षेत्र के विधायक श्री राकेश पाल ने विधायक निधी से कोरोना महामारी को देखते हुए 20 बेड का कोविड केयर आस्पताल  प्रारंभ किया था जिसका प्रभार डॉ अमित जैन को दिया गया।
            उक्त जिम्मेदारी को डॉ अमित जैन ने अपनी टीम के साथ कम समय में भर्ती मरीजो का अच्छा इलाज करके स्वाथ्य लाभ दे कर घर वापस पहुंचाया और अभी भी यह कार्य सतत जारी है। 

कलेक्टर ने किया था केवलारी अस्पताल का निरीक्षण 


हम आपको बता दे कि जहां पूर्व बीएमओ डॉ अमृत कुमार लकरा बीते 1 माह से  अस्वस्थ्य है एवं उनके जगह पर प्रभार डॉ ग्लोरिया लाकरा को दिया गया था लेकिन उन्होंने पारिवारिक कारणों से बीएमओ का प्रभार नहीं लिया था।
      

 
 वहीं बीते कुछ दिन पहले ही जिले के मुखिया डॉ राहूल हरिदास फटिंग और केवलारी अनुविभगीय अधिकारी श्री अमित सिंह ने सिविल अस्पताल केवलारी की कमान डॉ अमित जैन को सोप दिया है। इसके बाद मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा केवलारी बीएमओ का प्रभार डॉ अमित दिया गया है। 

विभागीय चिकित्सका कर्मियों में उत्साह, ग्रामीणों को उपचार सुविधा की बढ़ी उम्मीद

अब डॉ अमित जैन  केवलारी के साथ साथ पूरे ब्लाक में किल कोरोना अभियान टीकाकरण और अन्य स्वाथ्य कार्यो को जिम्मेदारी  जिले के स्वाथ्य अधिकारियो के मार्गदर्शन में कार्य करेंगे। पहली प्राथमिकता डॉ अमित जैन के समक्ष चुनौती के रूप में कोरोना महामारी से पुरे ब्लाक को मुक्त कराना होगी।

         वहीं सभी स्वाथ्य सुविधाओ का संचालन अच्छे से हो लोगो को स्वाथ्य लाभ मिल सके। इन सब बातो को ध्यान में रख कर कार्य करना होगा। कम समय में अपने जोश जूनून और मानव सेवा भाव रखने वाले  डॉ अमित जैन को प्रभारी बीएमओ बनाये जाने पर केवलारी, उगली, पांडिया छपारा क्षेत्र के विभागीय चिकित्सकीय कर्मचारी में उत्साह है और ग्रामीणों में उपचार को लेकर नई उमंग जागी है।    

मेरी पहली प्राथमिकता कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकना है       

वहीं जब गोंडवाना समय ने डॉ अमित जैन, प्रभारी खंड चिकित्सा अधिकारी, सिविल अस्पताल केवलारी से चर्चा की तो उन्होंने कहा कि मेरी पहली प्राथमिकता कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकना है, इसके लिए टेस्टिंग उपचार और टीकाकरण इस पर जयादा जोर रहेगा। डॉ अमित जैन ने सभी ब्लाक के नागरिकों से अपील किया है कि अधिक संख्या में टीका लगवाये और किसी भी प्रकार का बुखार के लक्षण होने पर जाँच करा कर उपचार कराये। 


No comments:

Post a Comment

Translate