Tuesday, July 20, 2021

महंगाई चरम पर फिर भी कर्मचारियों और अधिकारियों के डी ए और 2 वेतन वृद्धि पर सरकार ने लगाई रोक

महंगाई चरम पर फिर भी कर्मचारियों और अधिकारियों के डी ए और 2 वेतन वृद्धि पर सरकार ने लगाई रोक

अधिकारियों और कर्मचारियों को सजा के तौर पर सरकार ने 2 वेतन वृद्धि रोककर भारी अन्याय किया 

अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा ने दिया ज्ञापन


सिवनी। गोंडवाना समय। 

आज महंगाई जो कि विगत वर्षों की तुलना में चरम पर आ गई है परंतु सरकार लगातार कर्मचारियों अधिकारियों के साथ अन्याय कर रही है। आज जहां पेट्रोल, डीजल एवं खाद्य पदार्थों की कीमतें लगातार बढ़ रही है, वहीं कर्मचारियों के साथ विगत 2 वर्षों से अन्याय किया जा रहा है। 

केंद्र का 28% तो राज्य सरकार दे रही 12 प्रतिशत 


कोरोना की आड़ में सरकार द्वारा अधिकारी और कर्मचारियों की दो वेतन वृद्धि रोक ली गई है एवं महंगाई भत्ता जो कि आज केंद्र का 28% कर दिया गया है, वहीं राज्य सरकार द्वारा मात्र 12% दिया जा रहा है जिससे अब अधिकारियों और कर्मचारियों में अत्यंत आक्रोश व्याप्त है। शासन के नियम अनुसार किसी अधिकारी कर्मचारी को कोई सजा दी जाती थी तब उनकी वेतन वृद्धि रोकी जाती थी परंतु अब  बिना कोई कारण के ही अधिकारियों और कर्मचारियों को सजा के तौर पर सरकार ने 2 वेतन वृद्धि एवं दिए रोककर भारी अन्याय किया है ।

20 व 23 जुलाई के ज्ञापन के बाद नहीं सुनवाई तो 29 को सामुहिक अवकाश पर रहेेंगे

इसी संदर्भ में संघ के श्रवण कुमार डहरवाल द्वारा बताया गया है कि कर्मचारी अधिकारी संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर 20 जुलाई 2021 को प्रथम चरण का ज्ञापन मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौान एवं मुख्य सचिव के नाम दिया गया है। यदि फिर भी सरकार द्वारा अधिकारियों कर्मचारियों की मांग पूरी नहीं की जाती है तो आगामी 23 जुलाई 2021 को प्रांतीय शिक्षक संघ के नेतृत्व में एवं 24 तारीख को पुन: संयुक्त मोर्चा के तत्वाधान में ज्ञापन दिया जाएगा यदि फिर भी सरकार द्वारा अधिकारी कर्मचारियों की मांगों पर उचित निराकरण नहीं होता है तो 29 जुलाई 2021 को समस्त अधिकारी कर्मचारी निगम मंडल नगरी निकाय के कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर रहे कर अपना विरोध प्रदर्शन करेंगे। 

ज्ञापन सौंपते समय ये पदाधिकारी रहे मौजूद 

कर्मचारियों द्वारा पुरानी पेंशन बहाल करने एवं पदोन्नति प्रक्रिया पुन: अबिलंब प्रारंभ करने के लिए भी ज्ञापन सौंपा गया। संयुक्त मोर्चा के समस्त पदाधिकारी एवं जिला अध्यक्ष ज्ञापन के समय उपस्थित थे। जिनमें श्री श्रावण कुमार डहरवाल, श्री विपनेश जैन, श्री नरेंद्र मिश्रा, महेंद्र पांडेय, अरुण सैनी, बीपी राजपाल, नरेंद्र ठाकुर, अर्पित मिश्रा, शिव शंकर, एमआर फारुख खान, श्री अविनाश पाठक, श्री अनिल शर्मा, श्री विजय शुक्ला, श्री अशोक वर्मा, श्री प्रेमगगन सनोडिया, श्री नरेंद्र मिश्रा, प्रदुम चतुवेर्दी, इंद्र कुमार सनोडिया, श्री कपिल बघेल, श्री चित्तौड़ सिंह कुशराम, मनीष मिश्रा, मुकेश ठाकुर, रविंद्र ठाकरे, रघुवीर चौधरी, दिनेश हनुमंते, साजिद खान, राजेंद्र सिंह बघेल, पंतललाल मर्रापा, तानसिंह पटेल, मनीराम वैश्य, परशुराम देशमुख, सेवकराम बेलवंशी, पीयूष जैन, संत कुमार मर्सकोले, सुधीर धुर्वे, मनोज तिवारी, डी के मॉल, शारदा राहंगडाले, सरिता धुर्वे, ब्रज सिंह, बनवारी लाल चंद्रवंशी, सुख दयाल मर्सकोले शामिल हुये। 

ये कर्मचारी संघठन रहे मौजूद 

ज्ञापन में कर्मचारी संघ में भी शामिल रहे जिनमें राजपत्रित संघ मध्यप्रदेश, शासकीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ, लघु वेतन कर्मचारी संघ, महेंद्र पंड्या मध्य प्रदेश कर्मचारी कांग्रेस, मध्य प्रदेश राज्य कर्मचारी संघ, मध्य प्रदेश जनजाति पिछड़ा वर्ग अधिकारी कर्मचारी संघ, मध्य प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ, मध्य प्रदेश लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ, मध्यप्रदेश वन कर्मचारी संघ, मध्यप्रदेश राजस्व निरीक्षक संघ, मध्यप्रदेश पटवारी संघ, मध्यप्रदेश वाहन चालक यांत्रिकी संघ, मध्यप्रदेश शिक्षक कांग्रेस, मध्यप्रदेश अध्यापक, मध्यप्रदेश डिप्लोमा इंजीनियरिंग संघ, तृतीय कर्मचारी संघ, निगम मंडल कर्मचारी महासंघ, मध्यप्रदेश पंचायत सचिव संगठन, मध्यप्रदेश तहसीलदार संघ, मध्य प्रदेश चिकित्सा अधिकारी संघ, मध्यप्रदेश मुख्य कार्यपालन अधिकारी संघ, मध्यप्रदेश नगर पालिका नगर निगम अधिकारी कर्मचारी संघ, मध्यप्रदेश संविदा अधिकार, आंदोलन प्रबंधन समिति, मध्यप्रदेश स्थाई कर्मचारी मध्य प्रदेश समय पाल कर्मचारी संघ, मध्य प्रदेश पेंशनर एसोसिएशन संघ, मंडी बोर्ड कर्मचारी संयुक्त मोर्चा, बैंक कर्मचारी संघ संयुक्त मोर्चा, मध्यप्रदेश सहायक शिक्षक संघ, मध्यप्रदेश समग्र शिक्षक संघ, शासकीय अध्यापक संघ, राज्यशिक्षक कांग्रेस, राज्य निर्माण विभाग कर्मचारी संघ,मध्य प्रदेश कर्मचारी कांग्रेस संघ के अध्यक्ष एवं सदस्यगण भी ज्ञापन कार्यक्रम में सम्मिलित हुऐ ।

No comments:

Post a Comment

Translate