Wednesday, September 15, 2021

तेंदुए के हमले से मोहगांव की रंजीता बैगा की मृत्यु

तेंदुए के हमले से मोहगांव की रंजीता बैगा की मृत्यु

मौके पर पहुंचा वन व पुलिस विभाग का अमला 

20 हजार की दी गई आर्थिक राहत सहायता राशि 


अजय नागेश्वर संवाददाता
उगली। गोंडवाना समय।

सिवनी जिले के अंतर्गत विकासखंड केवलारी के पुलिस थाना उगली वन परिक्षेत्र परियोजना बरघाट वन विकास निगम उगली के अंतर्गत बीट क्रमांक 714 ग्राम पंचायत खैरी के अंतर्गत ग्राम मोहगांव की रहने वाली रंजीता गिलरिया बुधवार की सुबह गांव की अन्य महिलाओं के साथ लकड़ी बीनने के लिये गई थी। लकड़ी बीनने के बाद लघुशंका के लिए मृतक महिला झाड़ियों की तरफ चले गई तभी हिंसक प्राणी की दहाड़ने की आवाज सुन महिला ने बचाव के लिए आवाज लगाई। 

घटनास्थल पर ही हुई महिला की मृत्यू 


अन्य साथी महिला व एक अन्य पुरुष ने जाकर देखा तो तब तक तेंदुए ने महिला का शिकार कर लिया था व घटनास्थल पर ही रंजीता गिलरिया की मृत्यु हो गई। ये घटना सुबह लगभग 7.30 बजे की बताई जा रही है। गोविंद नामक व्यक्ति ने साथी महिलाओं के साथ इसकी जानकारी ग्राम मोहगांव में आकर ग्रामीणों को बताई। इसके बाद गांव के जागरूक नागरिकों ने संबंधित अधिकारी, वन विभाग व पुलिस थाना उगली को सूचना दी, ‌उसके बाद दल बल के साथ वन व पुलिस विभाग का अमला घटनास्थल पर पहुंचा।

मृतक महिला के पति की रीछ के हमले से हुई थी मृत्यु


हम आपको बता दें कि लगभग दो-तीन वर्ष पहले रीछ के हमले से मृतक महिला के पति मोहबत सिंह गिलरिया जाति बैगा की मृत्यु हो गई थी। मृतक महिला के परिवार में एक 15 वर्षीय पुत्र है, एक लड़की थी जिसकी गत वर्ष शादी हो गई।

पोस्टमार्टम कर शव को परिजनों को सौंपा गया

शव बरामद कर पंचनामा बनाया गया। उसके बाद पोस्टमार्टम कर शव को परिजनों को सौंप दिया गया। तात्कालिक आर्थिक सहायता वन विभाग के द्वारा नगद 20 हजार रुपए दी गई। उसके बाद शव का अंतिम संस्कार किया गया।

ग्रामीणों को जंगल के नजदीक न जाने व पंचायत को मुनादी करने की बात कही गई 


इस संबंध में गोंडवाना समय ने डी.एम.वी.सी.मेश्राम बरघाट से बात की तो उन्होंने कहा मृत महिला के परिजन के साथ हमारे विभाग की शोक संवेदना है। संबंधित अधिकारियों को उक्त क्षेत्र की मानीटरिंग कर ग्रामीणों को जंगल के नजदीक जाने से मना करने व पंचायत को मुनादी करने की बात कही। मृतक महिला के परिजन को तात्कालिक सहायता 20 हजार रुपए देकर विभागीय कार्यवाही जल्दी करने के लिये कहा गया।

वन व पुलिस विभाग के अधिकारी रहे मौजूद

मौके पर वन विभाग के डीएम वी. सी मेश्राम बरघाट, एसडीओ केवलारी, एस.के बनवाले, जे.एल. जम्भारे, डी.एम रामटेके, एच.एल.दाहिया, एस.एस भारद्वाज उगली थाना प्रभारी, सी.एल सिंगमारे व वन विभाग का स्टाफ एवं ग्रामीणजन रहे मौजूद।

No comments:

Post a Comment

Translate