Saturday, November 20, 2021

रिछारिया बाबा मेला स्थल पर 52 गढ़ की शक्तियों के नाम से 52 कलश की होगी स्थापना

रिछारिया बाबा मेला स्थल पर 52 गढ़ की शक्तियों के नाम से 52 कलश की होगी स्थापना 

मनोकामना पूरी होने पर रिछारिया बाबा का दर्शन व पूजन करने पहुंचते हैं श्रद्धालु 

प्रति वर्ष अनुसार इस वर्ष भी होगा ऐतिहासिक रिछारिया मेले का आयोजन 


धनौरा/कहानी। गोंडवाना समय। 

आदिवासी विकासखंड धनौरा के ग्राम पंचायत ग्वारी में आयोजित होने वाला सबसे बड़ा ऐतिहासिक रिछारिया उत्सव को पिछले वर्ष कोरोना संक्रमण के तहत नहीं हो पाया था। हम आपको बता दे कि कार्तिक पूर्णिमा से रिछारिया बाबा मंदिर में बीते 79 सालों से 10 दिनों का विशाल मेला भरता आ रहा हैं। कोरोना संक्रमण के कारण पिछले साल मेले पर रोक लगा दी गई थी। रिछारिया मेला में जहां दूर-दूर से भक्तगण व दर्शकगण आते है तो वहीं कई प्रदेशों से व दूर-दूर से यहां दुकानदार पहुंचकर दुकान लगाकर जरूरत की सामग्री उपलब्ध कराते है।  

22 से 30 नवंबर तक होगा रिछारिया मेला का आयोजन-प्रेम सिंह सल्लाम 


रिछारिया बाबा जन कल्याण समिति के अध्यक्ष पूर्व जनपद सदस्य, प्रांतीय गोंडी धमार्चार्य, प्रेमसिंह सल्लाम जी ने बताया कि आदिवासी विकासखंड धनौरा के ग्राम पंचायत ग्वारी में बीते 79 वर्ष से करीब सात एकड़ क्षेत्रफल में आयोजित होने वाला मेला मैदान, जहां इस बार दूर दूर से आने वाले श्रद्धालुगणों के साथ साथ उनकी आवश्यकता की चीजों की पूर्ति करने के लिये दुकानदार भी नजर आयेंगे। श्रद्धालु मनोकामना पूरी होने पर रिछारिया बाबा का दर्शन व पूजन करने पहुंचते हैं।
            रिछारिया बाबा जन कल्याण समिति के अध्यक्ष पूर्व जनपद सदस्य, प्रांतीय गोंडी धमार्चार्य, प्रेमसिंह सल्लाम जी ने बताया कि इस वर्ष मेले का आयोजन दिनांक 22/11/2021से 30/11/2021 तक किया गया है। इस पावन अवसर पर रिछारिया बाबा जन कल्याण समिति धनोरा के द्वारा 52 गढ़ की शक्तियों के नाम से 52 कलश स्थापना किया जाना है तथा मेले के दौरान विभिन्न कार्यक्रम किया जाना है। हम समस्त व्यापारी बंधु, कलाकार, प्रियदर्शिनी, झूला, वालों से अपील करते है कि निर्धारित तिथि को ध्यान में रखते हुए अपनी जगह सुनिश्चित कर मेले को सफल बनाएं। 

No comments:

Post a Comment

Translate