Saturday, December 25, 2021

मनीराम काकोड़िया जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी का गोंगपा से नहीं हुआ है निष्कासन-अमान सिंह पोर्ते

मनीराम काकोड़िया जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी का गोंगपा से नहीं हुआ है निष्कासन-अमान सिंह पोर्ते

प्रदेश संगठन को बिना विश्वास में लिये निष्कासन कर प्रेसवार्ता करने वाले गोंगपा पदाधिकारियों को प्रदेश अध्यक्ष ने दी हिदायत 


घंसौर/सिवनी। गोंडवाना समय।

त्रिस्तरीय पंचायतीराज के चुनाव में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का सिवनी जिले में पूर्व से ही अच्छा खासा प्रभाव रहा है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में सिवनी जिले में घंसौर ब्लॉक के जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक 17 में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के समर्थित प्रत्याशी को लेकर आरोप-प्रत्यारोप लगाये जाने के साथ साथ गोंगपा के पदाधिकारियों द्वारा प्रेस-वार्ता के माध्यम से प्रदेश व राष्ट्रीय संगठन को बिना विश्वास में लिये एवं बिना अधिकार के ही प्रदेश व संभाग के पदाधिकारियों के निष्कासन करने की कार्यवाही की गई, जिसे मीडिया के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया गया।
        


इस मामले को गंभीरता से लेकर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी प्रदेश अध्यक्ष तिरू अमान सिंह पोर्ते ने मीडिया के माध्यम से निष्कासन की कार्यवाही करने वाले गोंगपा पदाधिकारियों को हिदायत दिया है कि गोंगपा पदाधिकारी अपने पद अनुरूप अपने अधिकारों का प्रयोग करें। 

गोंगपा को मजबूत करने के लिये मध्यप्रदेश में कार्यकर्ताओं को जोड़ने का कार्य कर रहा हूं-अमान सिंह पोर्ते 

दैनिक गोंडवाना समय से चर्चा करते हुये गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष तिरू अमान सिंह पोर्ते ने बताया कि घंसौर ब्लॉक में जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रहे मनीराम काकोड़िया का गोंडवाना गणतंत्र पार्टी से कोई निष्कासन नहीं किया गया है। घंसौर ब्लॉक में प्रेसवार्ता लेकर गोंगपा के जिन पदाधिकारियों ने मनीराम काकोड़िया की निष्कासन की कार्यवाही का बयान दिया है एवं प्रचार-प्रसार करवाया है।
            उन्हें मेरे द्वारा हिदायत दी गई है कि वे अपने पद अनुसार, पद के कर्तव्य के अनुसार एवं संगठन के दिशा निर्देश व नीति नियम के अनुसार अधिकारों के तहत संगठन के हित में कार्य करें। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी को मेरे द्वारा मध्य प्रदेश में मजबूत करने के लिये एक एक कार्यकर्ता को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है न कि तोड़ने का कार्य किया जा रहा है।
            इसलिये मेरे द्वारा घंसौर ब्लॉक में जिला पंचायत सदस्य चुनाव के दौरान प्रत्याशी को लेकर मनीराम काकोड़िया के निष्कासन के संबंध में मीडिया में बयान देने वाले पदाधिकारियों को संगठन के हित में कार्य करने के लिये निर्देश दिये गये है।
        वहीं गोंगपा प्रदेश अध्यक्ष ने सोशल मीडिया में पोस्ट कर सभी गोंगपा पदाधिकारियों को सूचित किया है कि प्रदेश व संभाग के किसी भी पदाधिकारियों का निष्कासन नहीं किया गया है। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के छवि धूमिल करने का प्रयास न करने की हिदायत भी प्रदेश अध्यक्ष तिरू अमान सिंह पोर्ते ने दिया है। 

क्या शक्ति सिंह सिसोदिया ने दिया था मनीराम काकोड़िया को समर्थन ?


सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार जिला पंचायत सदस्य के चुनाव को लेकर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के समर्थित प्रत्याशी बनाये जाने को लेकर 10 दिसंबर 2021 को गोंगपा घंसौर ब्लॉक की बैठक में लगभग 100 से अधिक कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक 17 से चुनाव लड़ने के लिये मनीराम काकोड़िया के नाम पर शक्ति सिंह सिसोदिया ने समर्थन दिया था।
        

 इसके बाद 15 दिसंबर को भी गोंगपा घंसौर ब्लॉक की मीटिंग हुई थी जिसमें जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक 17 से गोंगपा का समर्थित प्रत्याशी के रूप में मनीराम काकोड़िया का नाम प्रस्तावित किया गया था। इस दौरान शक्ति सिंह ठाकुर ने अपने वक्तव्य में यह भी कहा था कि मैं दादा हीरा सिंह मरकाम जी के आंदोलन को सफल बनाने के लिये कार्य करूंगा।
        सूत्र यह भी बताते है कि 16 दिसंबर को फिर अचानक अपने 10-20 समर्थको को बुलवाकर शक्ति सिंह सिसोदिया ने अपने नाम का प्रस्ताव करवा लिया लेकिन उस दौरान घंसौर ब्लॉक के पदाधिकारी व कार्यकर्ता पर्याप्त संख्या में मौजूद नहीं थे। अब इस बात में कितनी सत्यता है ये घंसौर ब्लॉक में 10 दिसंबर, 15 दिसंबर और 16 दिसंबर को आयोजित हुई बैठक में शामिल कार्यकर्ता व पदाधिकारी ही जानते है।
        वहीं हम आपको बता दे कि दादा हीरा सिंह मरकाम जी ये अक्सर कहते थे कि एक बात, एक बाप ऐसा क्यों कहते थे ये गोंगपा के सच्चे कार्यकर्ता व पदाधिकारी ही अच्छे तरह से जानते है।

No comments:

Post a Comment

Translate