Wednesday, February 9, 2022

धान खरीदी की तिथि खत्म होने के बाद भी उगली खरीदी केंद्र में रात के अंधेरे में कैसे हो रही हैं खरीदी

धान खरीदी की तिथि खत्म होने के बाद भी उगली खरीदी केंद्र में रात के अंधेरे में कैसे हो रही हैं खरीदी

किसानों के नाम पर फायदा उठाकर पुराने प्रभारियों ने लाखों करोड़ों का कमाया लाभ 

ये हुनर आपने सीखा कहां से?




अजय नागेश्‍वर संवाददाता

उगली। गोंडवाना समय।

जनपद पंचायत केवलारी के उप तहसील उगली के धान खरीदी केंद्र में रात के अंधेरे में धान खरीदी का कारोबार चल रहा है। गोंडवाना समय के उगली संवाददाता ने अपने मोबाइल फोन से इसका वीडियो बनाया है। इस संबंध में जब अगले दिन गोंडवाना समय संवाददाता ने प्रभारी मैडम से चर्चा किया तो उन्होंने बताया कि धान खरीदी नहीं चल रही है।


किसी ने गलती से बारीक धान तौला दिया था तो उन्होंने मोटा धान देकर बारिक धान को वापस ले गए हैं। यह कहना गलत नहीं होगा कि प्रभारी मैडम के द्वारा सफेद झूठ बोला जा रहा है। वहीं अब सवाल यह खड़ा हो रहा है कि खरीदी की अंतिम तिथि खत्म होने के बंद भी धान कैसे खरीदी जा रही है। वहीं प्रभारी मैडम से भी सवाल है कि आपने ये हुनर सीखा कहां से? 

किसानों के पंजीयन के नाम पर व्यापारियों ने लाभ कमाया


क्षेत्रीय व्यापारियों की तो चांदी ही चांदी रही और इसी केंद्र में नहीं अन्य केंद्रों मे भी प्रतिवर्ष ऐसा ही होता है। क्षेत्रीय व्यापारियों ने कईयो किसानों का पंजीयन बटोर कर सेटिंग से किसानों के नाम पर लाभ कमाए हैं। इस बार खरीदी समूह के द्वारा की गई थी और यह काम उनके लिए नया था। फिर यह हुनर उन्होंने सीखा कहां से? सूत्र तो यह भी बताते हैं कि पहले जो धान खरीदी करते थे उन्होंने ही यह हुनर समूह वालो को सिखाया है। समूह के साथ-साथ पुराने प्रभारियों ने भी किसानों के नाम पर फायदा उठाकर लाखों करोड़ों का लाभ कमाया है?


No comments:

Post a Comment

Translate