Tuesday, March 15, 2022

4000 की रिश्वत लेते हुये हितेश देशमुख को लोकायुक्त टीम ने रंगेहाथ पकड़ा

4000 की रिश्वत लेते हुये हितेश देशमुख को लोकायुक्त टीम ने रंगेहाथ पकड़ा 

आधार सेंटर संचालक से 5000 रूपये प्रतिमाह मांग रहा रिश्वत


सिवनी। गोंडवाना समय। 

भ्रष्टाचार किस तरह शिष्टाचार छिंदवाड़ा जिले में बना हुआ है इसकी पोल कुछ विभाग के कर्मचारी रंगेहाथों रिश्वत लेते हुये लोकायुक्त की टीम के शिंकजे में कसते हुये नजर आने से साफ दिखाई दे रहा है। सरकार सुशासन की बात रही है वहीं विभागों में बिना भ्रष्टाचार और रिश्वत के काम नहीं हो रहे है।


आवेदक राजिव प्रसाद शिव के द्वारा लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत की गई थी कि एसडीएम कार्यालय छिंदवाड़ा में आरोपी हितेश देशमुख, सहायक प्रबंधक, गवर्नेस सोसायटी, छिंदवाड़ा द्वारा आधार मेल आईडी बंद कराने की धमकी दी जा रही थी वहीं आधार सेंटर का भौतिक सत्यापन कराये जाने के नाम पर 5000 हजार रूपये प्रतिमाह की मांग की जा रही थी। 

छिंदवाड़ा में कुछ दिनों के अंतराल में दूसरी बार लोकायुक्त ने की कार्यवाही 

इस पर लोकायुक्त जबलपुर की टीम में सहायक प्रबंधक हितेश देशमुख को 4000 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुये रंगेहाथों पकड़ा है। बीते कुछ दिनों पहले ही छिंदवाड़ा के ही जनजाति विकास विभाग की महिला कर्मचारी को भी रंगे हाथों रिश्वत लेते हुये पकड़ा गया था। वहीं लोकायुक्त टीम द्वारा दिनांक 14 मार्च 2022 को स्थान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, कार्यालय,  छिंदवाड़ा आधार सेण्टर का भौतिक सत्यापन करने एवं अधार मेल आई डी बंद करा  देने की धमकी देते हुए हर माह 5000 रुपया की मांग की गई ,आवेदक द्वारा रिपोर्ट करने पर आरोपी  हितेश देशमुख को 4000 रुपया लेते हुए पकड़ा। लोकायुक्त ट्रैप टीम में निरीक्षक सुरेखा परमार, निरीक्षक स्वप्निल दास, निरीक्षक भूपेंद्र दीवान एवं अन्य लोग शामिल रहे। 

No comments:

Post a Comment

Translate