Sunday, April 24, 2022

पीएम आवास के हितग्राही सम्मारू इनवाती के खाते में 1 साल से नहीं डली लेंटर हाईट की तीसरी किस्त, हितग्राही परेशान

पीएम आवास के हितग्राही सम्मारू इनवाती के खाते में 1 साल से नहीं डली लेंटर हाईट की तीसरी किस्त, हितग्राही परेशान

प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने में सरकार के ही अधिकारी बन रहे रूकावट

ग्राम पंचायत रतनपुर के कोपीझोला का मामला 


ग्राउंड जीरो से
अजय, संजय एवं सुरेश की रिपोर्ट
उगली/कोपीझोला। गोंडवाना समय।

्रप्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नाम से संचालित लोककल्याणकारी योजना प्रधानमंत्री आवास योजना की चर्चा चाहे केंद्र सरकार हो मध्यप्रदेश सरकार हो जब भी कोई कार्यक्रम का आयोजन होता है तो सत्ताधारी दल के संवैधानिक पदों पर विराजमान जनप्रतिनिधि के साथ साथ संगठन के पदाधिकारी अपने भाषण में जरूर बखान करते है। हालांकि प्रधानमंत्री आवास योजना वास्तव में लोक कल्याणकारी योजना है जिसने गरीब अमीर के फर्क को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाया है। इसके साथ ही ग्रामीण अंचल हो शहरी क्षेत्र में पक्के मकान बनाने का क्रम निरंतर जारी है। इसके बाद भी कुछ ऐसे मामले जरूर सुनने व देखने में आते है जहां प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हितग्राही परेशान होते नजर आते है इसके पीछे प्रमुख रूप से जिम्मेदार विभागीय अधिकारी कर्मचारी व क्षेत्रीय कर्मचारी जवाबदार रहते है लेकिन वे अपनी जवाबदारी से पल्ला झाड़ते हुये जरूर नजर आते है। इसी के चलते पूरी प्रधानमंत्री आवास योजना पर ही प्रश्न खड़ा होने लगता है। ऐसे मामलों में सरकार को विशेष रूप से निगरानी करने की आवश्यकता है। 

समय पर लाभ लेने से वंचित किया जा रहा है


हम आपको बता दे कि सिवनी जिले के जनपद पंचायत केवलारी के उप तहसील उगली के अंतर्गत ग्राम पंचायत रतनपुर के वन ग्राम कोपीझोला के रहने वाले श्री सम्मारू इनवाती ने गोंडवाना समय को बताया कि 1 साल हो गए मेरे खाते में प्रधानमंत्री आवास योजना की तीसरी किस्त नहीं डली है। लेंटर हाइट तक का काम पूरा हो जाने के बाद भी, हम लेंटर करने में असमर्थ हैं, क्योंकि 1 साल हो गए तीसरी किस्त नहीं डली है। हमें शासन की अच्छी योजना होने के बाद भी समय पर लाभ लेने से वंचित किया जा रहा है। 

छदामी इनवाती के नाम से आया था मकान, उनकी मृत्यु के बाद पुत्र का खाता दिए थे तब से नहीं आई एक भी किश्त

दरअसल पूरा मामला यह है कि मकान श्री छदामी इनवाती के नाम से आया था। वहीं 2 किस्त छदामी इनवाती खाते में आई और उसके बाद उनकी मृत्यु हो गई। स्वर्गीय श्री छदामी इनवाती की मृत्यु के बाद उनके पुत्र सम्मारू इनवाती का खाता क्रमांक व अन्य दस्तावेज ग्राम पंचायत को दिया गया लेकिन 1 साल बीत गए अभी तक उनके खाते में लेंटर हाईट की किस्त नहीं आई। उन्होंने आगे कहा अच्छा हुआ पूरा मकान नहीं तोड़े थे, नहीं तो बरसात में बहुत ज्यादा दिक्कत होती। श्री सम्मारू इनवाती ने शासन प्रशासन व संबंधित विभाग के अधिकारियों से जल्द से जल्द समस्या का निराकरण करने की मांग की है।

No comments:

Post a Comment

Translate