Tuesday, April 19, 2022

रेल्वे के अवैद्य कब्जे के खिलाफजयस ने तहसील का घेराव कर रेल्वे लाइन ब्लॉक की चेतावनी दी

रेल्वे के अवैद्य कब्जे के खिलाफजयस ने तहसील का घेराव कर रेल्वे लाइन ब्लॉक की चेतावनी दी


रतलाम। गोंडवाना समय। 

रतलाम जिले के रावटी तहसील के गांवों में रेल्वे लाइन के आसपास किसानों की निजी कृषी भूमि पर कब्जा करने के खिलाफ जयस (जय आदिवासी युवा संगठन) ने तहसील कार्यालय का घेराव कर तत्काल अवैद्य अतिक्रमण हटवाने के लिए कलेक्टर के नाम तहसीलदार रावत को ज्ञापन दिया। जय आदिवासी युवा संगठन के संस्थापक अध्यक्ष कमलेश्वर डोडियार ने बताया कि क्षेत्र के आदिवासी किसान सदियों से खेती करते आ रहे हैं और निजी जमीन पर भूमाफियाओं के साथ मिलीभगत कर भ्रष्ट रेल्वे कर्मचारियों और कथित ठेकेदारों ने दुर्भावनावश खेतों में खंबे गाड़कर अवैद्य अतिक्रमण कर लिया है। जिसके पश्चात तहसीलदार को शिकायत करने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई, इसलिए प्रदर्शन किया। 

आगामी दिनों में रेल्वे लाइन रोककर पटरियों पर धरना प्रदर्शन करेंगे


कमलेश डोडियार ने आगे यह भी बताया कि भूमाफियाओं, ठेकेदारों व भ्रष्ट कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए अवैद्य अतिक्रमण हटाने में राजस्व विभाग आनाकानी करता है तो आगामी दिनों में रेल्वे लाइन रोककर पटरियों पर धरना प्रदर्शन करेंगे। अकड़िया, घुघड, खंदन और गुजरपाडा के किसानों ने बताया कि आए दिन कथित ठेकेदार लोगों से अवैद्य वसूली करते है और धमकाते है। तहसीलदार रावटी ने आगामी सप्ताह में रेल्वे विभाग के अवैद्य अतिक्रमण को हटाने का आश्वासन दिया। तहसील घेराव और ज्ञापन के दौरान जयस के कार्यालय प्रभारी दिनेश गरवाल, हूमजी गामड़, हिंदुसिंह, रतन दांगी, पारिया ताड़, गोविंद भेरुघटी, चंदू मेडा, मुकेश, गौरीशंकर सहित बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Translate