Friday, May 6, 2022

गोंड समाज के लोगो को सामूहिक रूप से लाठी-डंडों से पीट-पीटकर निर्मम हत्या किया जाना घोर निंदनीय-आर.एन. ध्रुव

गोंड समाज के लोगो को सामूहिक रूप से लाठी-डंडों से पीट-पीटकर निर्मम हत्या किया जाना घोर निंदनीय-आर.एन. ध्रुव

न्याय नहीं मिलने की स्थिति में स्थिति में संपूर्ण देश में गोंडवाना गोंड महासभा व अन्य जनजाति संगठन उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे


छत्तीसगढ़। गोंडवाना समय। 

मध्यप्रदेश में सिवनी जिले के विकासखंड कुरई अंतर्गत ग्राम सिमरिया में गोंड जनजाति व्यक्तियों को तथाकथित गौ रक्षकों के द्वारा गोवंशी गौ मांस तस्करी के नाम पर सामूहिक रूप से लाठी-डंडों से पीट-पीटकर निर्मम हत्या कर दी गई है। यह घटना घोर निंदनीय है। मध्यप्रदेश में जनजातियों पर अत्याचार, अनाचार, हत्या, बलात्कार जैसी घटनाएं निरंतर बढ़ती जा रही है जो कि समाज के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। इस घटना से संपूर्ण जनजाति समुदाय में भारी आक्रोश व्याप्त है।

 उक्त घटना की सीबीआई जांच कराई जावे

अखिल भारतीय गोंडवाना गोंड महासभा के राष्ट्रीय सचिव आर.एन. ध्रुव प्रांताध्यक्ष अनुसूचित जनजाति शासकीय सेवक विकास संघ छत्तीसगढ़ द्वारा महामहिम राज्यपाल मध्यप्रदेश शासन एवं मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शासन से मांग किये हैं कि मृतक परिवार के प्रति संवेदनशीलता दर्शाते हुए उक्त घटना की सीबीआई जांच कराई जावे। दोषियों को अतिशीघ्र कड़ी से कड़ी सजा दी जावे। तथाकथित गौ रक्षक संगठनों को प्रतिबंधित किया जावे। मृतक के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपये का मुआवजा तत्काल दिया जावे। गंभीर रूप से घायल व्यक्ति का इलाज शासन अपने खर्चे पर करें एवं दस लाख रुपए का मुआवजा भी दिया जावे। मृतक के परिजन को दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी की जगह सम्मानजनक नियमित कर्मचारी के रूप में भर्ती किया जावे। आरोपियों /दोषियों की चल-अचल संपत्ति को बुलडोजर से अतिशीघ्र नष्ट किया जावे। उक्त मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार करते हुए अतिशीघ्र पूर्ण करने का अनुरोध किए हैं। श्री आर एन ध्रुव ने कहा कि उचित न्याय नहीं मिलने की स्थिति में स्थिति में संपूर्ण देश में गोंडवाना गोंड महासभा व अन्य जनजाति संगठन उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।

No comments:

Post a Comment

Translate