Tuesday, May 10, 2022

पिंडरई गांव में बड़ा देव ठाना स्थल पर अवैध रूप से कब्जा करने वाले पर कार्यवाही को लेकर सौंपा ज्ञापन

पिंडरई गांव में बड़ा देव ठाना स्थल पर अवैध रूप से कब्जा करने वाले पर कार्यवाही को लेकर सौंपा ज्ञापन 

लखनादौन ब्लॉक का है मामला


लखनादौन। गोंडवाना समय।
 

गाँव की शासकीय भूमि में बड़ादेव ठाना स्थापित करने की मांग को लेकर अनुविभागीय अधिकारी लखनादौन को पिंडरई गांव के गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के साथ सामाजिक, आदिवासी  लोगों ने ज्ञापन सौंपा ग्राम पिंडरई के समस्त गोंडवाना गणतंत्र पार्टी व ग्राम के समस्त बुजुर्ग पंचों, युवाओं ने मिलकर विगत 3 अप्रैल 2022 को  गांव के समस्त जय सेवा युवा समिति और ग्राम के समस्त बुद्धिजीवियों ने मिलकर गांव के करीब दो शासकीय जमीन पड़ी हुई थी उस जमीन पर गांव के लोगों ने सोचा की हमारी संस्कृति की पहचान हमारा देवस्थान होना जरूरी है तब सभी लोगों ने मिलकर वह शासकीय जमीन जिसका खसरा नंबर 53 है उक्त जमीन  पर बड़ा देव ठाना के लिए जगह चयनित कर वहां पर बढ़ादेव ठाना स्थापित किया गया उसके बाद जो जगह बढ़ादेव ठाना के लिए चयनित किया गया था उस जगह के आसपास चुना डालकर उसको सुरक्षित करने के लिए बोला गया ताकि उक्त भूमि को बड़ादेव ठाना के लिए जगह सुनिश्चित रहे।

उक्त स्थल को राजस्व रिकार्ड में दर्ज करने की मांग             


वहीं ज्ञापन देने पहुंचे लोगों ने बताया कि गाँव का एक व्यक्ति जो देव सिंह नागेश पिता चमरू नागेश अपनी दबंगई दिखाकर गांव के लोगों को नजरअंदाज करके वह उस जगह पर रातों-रात पत्थर गिरा देता है जिससे गुस्साए ग्रामीण लोगों ने शासन प्रसासन से मांग किया है। इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी के समक्ष पहुंच कर ज्ञापन दिया कि देव सिंह नागेश के अवैध कब्जे से हटाया जाए और उस भूमि पर अितक्रमण न किया जाए। उक्त भूमि का चयन पूर्व में ही आदिवासी समाजजनों के द्वारा बड़ादेव ठाना के लिए सुरक्षित कर मांग किया जा चुका है। इसके साथ ही नियमानुसार उक्त स्थल को राजस्व रिकार्ड में दर्ज करने की मांग करते हुये उक्त स्थल के बड़ादेव ठाना समिति को बही पट्टा दिया जाए। 

शासकीय जमीन पर जबरदस्ती कब्जा करके वहां पर गांव वालों से बुराई पैदा कर रहा है

इस प्रकार देव सिह नागेश पर ग्रामीण लोगों ने आरोप लगाया है कि उसका पहले पूर्व पर घर पर मकान बना हुआ है परंतु शासकीय जमीन पर जबरदस्ती कब्जा करके वहां पर गांव वालों से बुराई पैदा कर रहा है इसी प्रकार जब एक किसान उसके खेत की मेड़ से अपने खेत जाता है तो उसको भी वहां से निकलने नहीं देता है। इस प्रकार ग्रामीण लोगों ने आरोप लगाया कि शासन-प्रशासन उस पर कानूनी कार्रवाई करें अन्यथा इसी समय किसी प्रकार की दोनों के बीच पर यदि कोई घटना घट जाती है तो उसके जिम्मेदार शासन प्रशासन रहेगी। 

पानी के लिये बोर करवाकर हैंडपंप लगाये जाने की मांग

इसके साथ ही ग्रामीणों ने यह भी मांग किया कि गांव में पानी की बहुत समस्या है। इसके लिये गांव में एक बोरिंग की व्यवस्था कर उस पर हेड पंप लगवाने की व्यवस्था बनाने की कार्यवाहीं करें, जिससे समस्त ग्रामीणों के साथ साथ पशुओं के लिये पेयजल की व्यवस्था हो सके।

No comments:

Post a Comment

Translate