Wednesday, May 18, 2022

बाघ शावक के बाये पिछले पैर में चोट के लक्षण देखे गये

बाघ शावक के बाये पिछले पैर में चोट के लक्षण देखे गये 

1 सप्ताह से भोजन न पाने के कारण कमजोर अवस्था में है बाघ शावक 


सिवनी/मण्डला। गोंडवाना समय। 

सिवनी जिले के वन विकास निगम बरघाट परियोजना पाण्डिया छपारा परिक्षेत्र से दिनांक 17 मई 2022 को दो बाघ शावक जिनकी आयु 4-6 माह अनुमानित है, का रेंस्क्यू पेंच टाईगर रिजर्व सिवनी के रेस्क्यू दल के नेतृत्व में किया गया था। इन बाघ शावको की स्थिति सामान्य न होने से इन्हें विशेष उपचार की आवश्यकता के कारण कान्हा टाईगर रिजर्व मण्डला के रेस्क्यू एवं वन्यजीव चिकित्सालय मुक्की में रखे जाने के निर्देश मुख्य वन्यजीव अभिरक्षक मध्यप्रदेश शासन द्वारा दिये गये। 

वन्य जीव चिकित्सालय मुक्की के बाड़े में रखा गया है

जिनके निदेर्शानुसार 17 मई 2022 को शायकाल के समय में बाघ शावकों को परिक्षेत्र मुक्की में लाया गया तथा वन्य जीव चिकित्सालय मुक्की के बाड़े में रखा गया है। कान्हा टाईगर रिजर्व मण्डला के वन्यप्राणी चिकित्सक डॉ संदीप अग्रवाल द्वारा दिनांक 18.05.2022 को बाघ शावकों का परिक्षण किया गया। बाघ शावक लगभग 1 सप्ताह से भोजन न पाने के कारण कमजोर अवस्था में तथा एक बाघ शावक के बाये पिछले पैर में चोट के लक्षण देखे गये। संचालक कान्हा टाईगर रिजर्व मण्डला द्वारा बाघ शावकों का निरीक्षण किया गया।

पूर्ण स्वस्थ्य होने पर रिवाईल्डिंग सेन्टर घोरेला में स्थानांतरित किया जावेगा

वर्तमान में निगरानी के दौरान बाघ शावकों को दिया गया, भोजन वे संतोष जनक रूप से खा रहें है तथा इन की स्थिति में सुधार परिलक्षित हो रहा है। बाघ शावकों को विशेष भोजन की आवश्यकता एवं दवाओं का निर्धारण डॉ.संदीप अग्रवाल द्वारा किया गया। शावकों को आगामी 15 दिवस तक वन्यजीव चिकित्सालय मुक्की में रखा जावेगा तथा पूर्ण स्वस्थ्य होने पर रिवाईल्डिंग सेन्टर घोरेला में स्थानांतरित किया जावेगा।


No comments:

Post a Comment

Translate