Wednesday, May 18, 2022

जादू-टोने की शंका एवं पारिवारिक विद्वेष के चलते 3 सदस्यों की नृशंस हत्या के 2 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफतार

जादू-टोने की शंका एवं पारिवारिक विद्वेष के चलते 3 सदस्यों की नृशंस हत्या के 2 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफतार 

मंडला पुलिस ने थाना मोहगांव अंतर्गत एक ही परिवार के तीन सदस्यों की नृशंस हत्या के 02 आरोपियों को किया गिरफतार 


मंडला। गोंडवाना समय। 

दिनांक 17 मई 2022 को सुबह मंडला जिले के ग्राम पातादेई थाना मोहगांव में नर्मद सिंह पिता मान सिंह वरकड़े उम्र 62 वर्ष 2. सुकरती बाई पति नर्मद सिंह वरकड़े उम्र 57,  3 कुमारी महिमा पिता सुंदर लाल बरकड़े सभी निवासी ग्राम पातादेई की किसी अज्ञात व्‍यक्ति द्वारा धारदार हथियार से गला काटकर हत्‍या करने, जिसमें सुकरती बाई का सर धड़ से अलग कर दिए है तथा धड़ नहीं है की सूचना मोहगांव थाने को प्राप्त हुई थी। प्राप्‍त सूचना से तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को घटना के सम्बंध में अवगत कराया गया तथा मौके की कार्यवाही हेतु मय विवेचना किट हमराह स्टाफ के घटना स्थल ग्राम पातादेई पहुंचा एवं वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन पर कार्यवाही की जाकर प्रथम दृष्टया मामला हत्या का पाये जाने से मोहगांव थाना में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध धारा 302, 201 भा.द.वि. का पंजीबद्ध किया गया । 

मामले का खुलासा करने टीम का किया गया गठन


घटना की गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्‍त पुलिस महानिदेशक, बालाघाट जोन बालाघाट, पुलिस उप महानिरीक्षक, बालाघाट रेंज बालाघाट व पुलिस अधीक्षक मंडला श्री यशपाल सिंह राजपुत द्वारा तत्‍काल घटना स्‍थल पहुंच पुलिस टीम को आवश्‍यक दिशा निर्देश दिये गये। उक्‍त मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस उप महानिरीक्षक, बालाघाट रेंज बालाघाट द्वारा मामले में अज्ञात आरोपी के पतारसी के संबंध में जानकारी एवं गिरफतारी के लिए 20 हजार रुपये नगद ईनाम की उदघोषणा की गई। पुलिस अधीक्षक मंडला द्वारा घटना के खुलासा, सुकरती बाई के कटे हुए सिर की तलाश तथा अज्ञात आरोपी की गिरॅफतारी हेतु टीम का गठन किया गया। मौक पर पहुचीं डाग स्‍काड, एफएसएल अधिकारियों को भी आवश्‍यक दिशा निर्देश दियें गये। 

आम के पेड़ में टंगा हुआ मिला सर


पुलिस टीम द्वारा आस पास के एरिया की सघन संर्चिग की गई जो की संर्चिग के दौरान महिला का कटा हुआ सिर उसके ही खेत जो की घर से लगभग 700-800 मीटर है आम के पेड़ में टंगा हुआ मिला। साथ ही पुलिस टीम द्वारा घटना के संबंध में विस्‍तृत जानकारी एकञ की गई। पुछताछ एवं घटना के संबंध में आये तथ्‍यों के आधार पर परिवार के ही दो लोगो मोतीलाल पिता देवसिंह वरकडे़ एवं खेतु वरकड़े पिता देवलाल वरकडे़ को हिरासत में लिया गया जिन्होंने परिवारिक विद्वेष एवं जादू-टोने की शंका में घटना को अंजाम देना स्वीकार किया।

दोनो आरोपियों मोतीलाल पिता स्‍व. देव सिंह वरकड़े उम्र 35 वर्ष ग्राम पातादेई एवं खेतु वरकड़े पिता देवलाल वरकडेÞ उम्र 24 वर्ष ग्राम पातादेई से घटना में प्रयुक्त हथियार कुल्हाड़ी, फरसा, गल्‍ब्‍स, घटना के समय पहने हुऐ कपड़े आदि जप्त किया जाकर माननीय न्यायालय पेश किया जा रहा है।

आरोपियों को पकड़ने में इनकी रही महत्‍वपूर्ण भूमिका

उक्त अंधी हत्या के खुलासे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मण्डला श्री गजेंद्र सिंह कंवर एवं अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) निवास सुश्री आकांक्षा परस्‍ते, अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) मंडला अश्‍वनी कुमार, डीएसपी राहुल कटरे, थाना प्रभारी मोहगांव निरीक्षक शिवलाल मरकाम, थाना प्रभारी घुघरी निरीक्षक दुर्गा प्रसाद नगपुरे, थाना प्रभारी महाराजपुर, थाना प्रभारी बीजाडांडी, थाना प्रभारी निवास, थाना प्रभारी बम्‍हनी, चौकी अंजनिया, उप निरीक्षक प्रिति वर्मा थाना टिकरिया एवं समस्‍त थाना की टीम के साथ  साथ  एफएसएल, डाग स्‍काड व सायबर सेल की महत्वपूर्ण भूमिका रही।


No comments:

Post a Comment

Translate