Wednesday, May 1, 2019

बूथ में सेल्फी पर भाजपा नेताओं की हुई एफआईआर, मतदान दल कटघरे में


बूथ में सेल्फी पर भाजपा नेताओं की हुई एफआईआर, मतदान दल कटघरे में

एसडीएम ने दी एफआईआर करने के आदेश

सिवनी। गोंडवाना समय। 
मतदान केन्द्र के अंदर की गोपनीयता भंग कर बटन दबाते हुए मोबाईल में सेल्फी लेकर फोटा वायरल करने वाले भाजपा नेताओं के खिलाफ एफआईआर हो गई है। वहीं मतदान बूथ पर ड्यूटी करने वाला अमला सहित सेक्टर मजिस्ट्रेट और सुरक्षा बल भी कटघरे में आ गए हैं उनके खिलाफ भी जल्द ही कार्रवाई हो सकती है।
मण्डला-सिवनी लोकसभा सीट के लिए 29 अप्रैल को हुए मतदान में छपारा ब्लाक के विभिन्न बूथों में भाजपा युवा मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष नवनीत सिंह ठाकुर, जनपद उपाध्यक्ष नीरज दुबे, भाजपा महिला मोर्चा पदाधिकारी राधा साहू व भाजपा समर्थित गौरव चौरसिया, राहुल चौरसिया ने चुनाव आयोग के निर्देशों का खुला उल्लंघन करते हुए मतदान करते सेल्फी लेने का मामला सामने आया है। इतना ही नहीं सेल्फी लेने के बाद इसे सोशल मीडिया में वायरल कर खुद की और बूथ पर मौजूद रहे मतदान दल और सुरक्षा बलों की आफत खड़ी कर दी है। एसडीएम ने एक मई को बूथ की गोपनीयता भंग कर फोटो वायरल करने वाले भाजपा नेताओं के खिलाफ एफआईआर के निर्देश जारी होने के बाद एफआईआर हो गई है।

दो दिन बाद एफआईआर

29 अप्रैल को वोटिंग के दौरान ली गई सेल्फी सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद प्रशासन ने कार्रवाई के निर्देश दिए। 1 मई की शाम केवलारी एसडीएम व रिटर्निंग अधिकारी ने छपारा थाना प्रभारी को संबंधितों के विर्स्द्ध एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई के आदेश जारी करने के बाद रात 9 बजे एफआईआर हो गई है इस संबंध में छपारा थाना प्रभारी राजन उइके ने बताया की वोटिंग करते की सेल्फी लेने वालों के खिलाफ एफआईआर के आदेश की कापी मिलने पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

किसकी थी लापरवाही, होगी जांच

मीडिया को भारत निर्वाचन आयोग के फोटो व हस्ताक्षर युक्त कार्ड वितरण करने के बाद जहां कई बूथों गोपनीयता भंग किए बिना मतदाताओं की सेक्टर मजिस्ट्रेट द्वारा एवं सुरक्षा कर्मचारियों द्वारा कवरेज नहीं करने दिया। जिला स्कूल के सेक्टर मजिस्ट्रेट बबन पन्द्राम ने कलेक्टर द्वारा कहे जाने के बावजूद कार्ड में सील न होने का हवाला देकर फर्जी बता दिया था। वहीं मतदान केन्द्र के अंदर किसी भी मतदाता को मोबाइल ले जाने की अनुमति न होने के और चुनाव आयोग के प्रतिबंध के बावजूद छपारा के विभिन्न मतदान केन्द्रों में भाजपा समर्थित पांच लोगों द्वारा ना केवल मोबाइल पोलिंग बूथ के अंदर ले जाया गया बल्कि यहां धड़ल्ले से सेल्फी ली। इस मामले में किस कर्मचारी की लापरवाही है इसकी जांच प्रशासन करवाएगा। लापरवाह मतदान दल के कर्मचारी के खिलाफ भी कार्रवाई प्रस्तावित की जाएगी।

इनका कहना है

वोटिंग के दौरान सेल्फी लेने और सोशल मीडिया में वायरल करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दे दिए गए हैं। साथ ही किस कर्मचारी की लापरवाही से ऐसा हुआ इसकी जांच कराई जाने की बाद कार्रवाई की जाएगी।
हर्ष सिंह, रिटर्निंग आॅफिसर केवलारी

No comments:

Post a Comment

Translate