Monday, May 6, 2019

खाद्य एवं औषधी प्रशासन ने शहर की दुकानों में दी दबिश

खाद्य एवं औषधी प्रशासन ने शहर की दुकानों में दी दबिश

अड़कुलाल मिष्ठान भंडार का खोबा निकला अमानक 

सिवनी। गोंडवाना समय। 
भीषण गर्मी के चलते दूषित खाद्य सामग्रियों में नकेल कसने के लिए खाद्य एवं औषधी प्रशासन सड़क पर उतर आया है।  कलेक्टर के निर्देश पर  सोमवार छह मई को  खाद्य एवं औषधि प्रशासन में पदस्थ खाद्य सुरक्षा अधिकारी अवशेष अग्रवाल द्वारा सिवनी शहर में स्थित शीतल पेय  प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान खाद्य कारोबारकर्ताओं  को खाद्य परिसर की साफ-सफाई बनाए रखने, खाद्य पदार्थ निर्माण में कार्यरत व्यक्तियों की साफ-सफाई रखने,  खाद्य पदार्थों के भंडारण, खाद्य पदार्थों के निर्माण में उच्च गुणवत्ता की खाद्य सामग्री का उपयोग करने, जूस निर्माण में प्रयुक्त होने वाले कटे फलों को ढंक कर रखने, अखाद्य बर्फ का उपयोग न करने तथा खाद्य पदार्थों के उचित रख-रखाव  आदि से सम्बंधित दिशा निर्देश दिए गए । निरीक्षण के दौरान  मशरर्त साबिर जूस सेंटर से आम रस तथा आनंद कोल्ड ड्रिंक हाउस बस स्टैंड सिवनी से लस्सी के नमूने लिए जाकर जांच हेतु राज्य खाद्य प्रयोगशाला भोपाल भेजे गए है।

अड़कु का खोवा जांच में पाया गया अमानक

जिले में पेड़ा मिठाई के नाम से फैमस शहर के शुक्रवारी स्थित अड़कुलाल मिष्ठान भंडार सिवनी से खाद्य एवं औषधी प्रशासन द्वारा लिया गया खोवा का सेम्पल जांच के दौरान अमानक स्तर का पाया गया है। कुल्हाड़े पान मसाला बरघाट से लिया गया सुपारी चिप्स का नमूना अवमानक, वैशाली राजपुरोहित स्वीट्स छपारा से लिया गया लौंग सेव का नमूना मिथ्याछाप एवम डहरवाल किराना रिड्डी से लिया गया श्रीमाया रिफाइंड सोयाबीन तेल का नमूना मिथ्याछाप पाया गया है। उक्त प्रकरणों में खाद्य कारबार कतार्ओं को नोटिस जारी कर जांच रिपोर्ट के विरुद्ध अपील हेतु समय दिया गया है। उसके  उपरांत  आगामी कार्यवाही की जावेगी। खाद्य प्रतिष्ठानों के जांच एवं नमूना संग्रहण की कार्यवाही आगे भी जारी रहेगी।

No comments:

Post a Comment

Translate