Tuesday, August 20, 2019

जाति प्रमाण पत्र की समस्या को लेकर राज्यपाल ने दिये अधिकारियों को निर्देश

जाति प्रमाण पत्र की समस्या को लेकर राज्यपाल ने दिये अधिकारियों को निर्देश

रायपुर। गोंडवाना समय। 
राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से मंगलवार को राजभवन में जय बुढ़ी मां गांड़ा महासभा रायपुर के अध्यक्ष श्री अभिमन्यु नायक के नेतृत्व में प्रतिनिधिमण्डल ने मुलाकात कर कहा कि वे अनुसूचित जाति के अंतर्गत आते हैं किन्तु उन्हें अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र मिलने में समस्या आ रही है। राज्यपाल ने कहा कि जाति प्रमाण पत्र न बन पाना गंभीर मामला है। वे जब राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग की उपाध्यक्ष के पद पर थी, तो ऐसे मामलों पर उन्होंने कार्यवाही कर न्याय दिलाया था। राज्यपाल ने संबंधित प्रकरण पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं।
प्रतिनिधिमण्डल ने राज्यपाल को बताया कि गांड़ा समाज लंबे समय से प्रदेश में निवासरत है, परन्तु शासन से उनका जाति प्रमाण पत्र नहीं बन पा रहा है। जाति प्रमाण पत्र के अभाव में समाज के बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त करने से वंचित हो रहे हैं। इससे शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ भी नहीं मिल पा रहा है। सरकारी नौकरी मिलने में परेशानी हो रही है। साथ ही व्यापार करने के लिए शासकीय ऋण प्राप्त करने में भी समस्या हो रही है। श्री नायक ने बताया कि जब समाज के तहसील कार्यालय में जाति  प्रमाण पत्र बनाने के लिए अधिकारियों से संपर्क करते हैं, तो उन्हें विभिन्न प्रक्रियाओं का हवाला देकर प्रमाण पत्र बनाने से इनकार किया जाता है। इस संबंध में कई बार उच्च अधिकारियों को भी आवेदन दिया गया, लेकिन कार्यवाही नहीं हुई।

No comments:

Post a Comment

Translate