Sunday, October 20, 2019

भारत-फिलीपींस व्यापार बढ़कर 2.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचा

भारत-फिलीपींस व्यापार बढ़कर 2.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचा

राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने फिलीपींस में भारतीय समुदाय को संबोधित किया और नवाचार, निवेश, अनुसंधान और शिक्षा में आज भारत द्वारा प्रदान किए जा रहे अवसरों का लाभ उठाने का आह्वान किया।

नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद जी फिलीपींस के मनीला में 20 अक्टूबर, 2019 भारत के राजदूत श्री जयदीप मजूमदार द्वारा आयोजित भारतीय समुदाय स्वागत समारोह में शामिल हुए। उपस्थित जनों को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि फिलीपींस में भारतीय समुदाय दशकों से दोनों देशों के बीच दोस्ती का मजबूत बंधन है। पिछले कुछ वर्षों में प्रवासी भारतीयों की संख्या में उल्लेखनीय बढ़ोतरी हुई है। ये सभी लोग फिलीपींस की अर्थव्यवस्था और समाज में भारत और भारतीयों की छवि को बढ़ावा देने में योगदान दे रहे हैं।

राष्ट्रपति ने कहा कि नए भारत का निर्माण करने के हमारे प्रयासों में हमें प्रवासी भारतीयों की सहायता और सहयोग की आवश्यकता है। उन्होंने नवाचार, निवेश, अनुसंधान और शिक्षा में आज भारत द्वारा प्रदान किए जा रहे अवसरों का लाभ उठाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया, गंगा संरक्षण परियोजना, स्वच्छ भारत मिशन, स्मार्ट सिटीज और जल जीवन मिशन जैसी प्रमुख पहलों में उनकी साझेदारी की जरूरत है।
आगे राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविन्द जी ने कहा कि फिलीपींस में भारतीय कंपनियों के निवेश और उपस्थिति के रूप में भारत का द्विपक्षीय आर्थिक जुड़ाव बढ़ोतरी पर है। भारत-फिलीपींस व्यापार बढ़कर 2.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया है। हालांकि, हमारी तेजी से बढ़ती हुई दोनों अर्थव्यवस्थाओं के लिए द्विपक्षीय व्यापार की यह मात्रा अभी भी बहुत कम है। इसे और बढ़ाए जाने की जरूरत है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि भारतीय समुदाय की पहल और उद्यमता से हम दोनों देशों में समृद्धि लाने के लिए बहुत कुछ कर सकते हैं।
इससे पहले राष्ट्रपति ने शहर के मेयर और अन्य गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में मरियम कॉलेज, क्विजोन शहर में महात्मा गांधी की आवक्ष प्रतिमा का अनावरण किया। इस अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि महात्मा गांधी की यह आवक्ष प्रतिमा भारत के लोगों की ओर से आपके लिए एक उपहार है। महात्मा गांधी सभी 
लोगों, सभी संस्कृतियों और सभी समाजों से संबंध रखते हैं। वे शांति, सद्भाव और सभी के सतत विकास की हमारी साझा यात्रा में हमारा मार्गदर्शन करते रहें।

No comments:

Post a Comment

Translate