Sunday, October 20, 2019

रोजगार सहायक हड़ताल पर, सरकार नहीं कर रही वचन पूरा

रोजगार सहायक हड़ताल पर, सरकार नहीं कर रही वचन पूरा

नियमितीकरण को लेकर तीसरे दिन भी रोजगार सहायक हड़ताल पर रहे

घंसौर। गोंडवाना समय। 
रोजगार सहायक संघ नियमितीकरण की मांगों को लेकर दिनांक 16 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक कलम बंद हड़ताल पर चले गए हैं। स्वभाविक है इससे ग्राम पंचायतों का काम प्रभावित होगा। रोजगार सहायक संघ ब्लॉक घंसौर के अध्यक्ष प्रदीप ऊइके ने बताया कि कांग्रेस सरकार ने रोजगार सहायकों को नियमित करने का वादा किया था लेकिन आज दिनांक तक नियमितीकरण का  कोई आदेश जारी नहीं हुआ

पहले ही चेतावनी दे दी थी

बीते 16 सितंबर 2019 को मुख्यमंत्री के नाम घंसौर तहसीलदार अमृतलाल धुर्वे एवं सीईओ उषा किरण गुप्ता  को ज्ञापन सौंपा गया था एवं दिनांक 16 सितंबर 2019 को ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री, पंचायत ग्रामीण विकास विभाग एवं मनरेगा कमिश्नर को पूर्व में सूचना दी गई थी कि अगर 25 सितंबर तक जीआरएस का नियमितीकरण नहीं किया गया तो हम 25 सितंबर के बाद या तो सामूहिक इस्तीफा देंगे या हड़ताल करेंगे। 

आश्वासन पर 2 अक्टूबर का आंदोलन स्थगित किया था

रोजगार सहायक संघ ब्लॉक अध्यक्ष प्रदीप उईके ने बताया कि सरकार के द्वारा 15 अक्टूबर 2019 तक रोजगार सहायकों की मांगों का निराकरण करने के लिए आश्वस्त किया गया था जिसके चलते 2 अक्टूबर 2019 को भोपाल का आंदोलन स्थगित किया गया था परंतु आज 15 तारीख होने के बावजूद भी ग्राम रोजगार सहायक के हितों में कोई भी आदेश जारी नहीं किया गया जिससे समस्त रोजगार सहायकों में आक्रोश है।

भोपाल में दांडी यात्रा

भविष्य की चिंता को देखते हुए अपने हक की लड़ाई रोजगार सहायक संगठन के आह्वान पर 16 अक्टूबर से 23 अक्टूबर 2019 तक समस्त ग्राम रोजगार सहायक हड़ताल पर रहेंगे एवं 23 अक्टूबर को भोपाल में जेल भरो शक्ति प्रदर्शन, दांडी यात्रा तिरंगा यात्रा निकाली जाएगी। रोजगार सहायकों ने प्रशासन से मांग की है कि समस्त रोजगार सहायकों को उनका भविष्य देखते हुए अपना सहयोग प्रदान करें।

No comments:

Post a Comment

Translate