Saturday, March 14, 2020

इसलिए हमें शर्म और संकोच छोड़कर खुलकर चर्चा करनी चाहिए

इसलिए हमें शर्म और संकोच छोड़कर खुलकर चर्चा करनी चाहिए

सिवनी। गोंडवाना समय।
गूंज महिला संस्था द्वारा राजोला गांव में माहवारी स्वच्छता प्रबंधन पर जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें गूंज संस्था की सभी सदस्यों द्वारा माहवारी स्वच्छता और माहवारी से संबंधित भ्रांतियों के बारे में बताया गया क्योंकि माहवारी महिलाओं के शरीर में होने वाली एक जैविक प्रक्रिया है। इसलिए इसमें छुपाने वाली कोई चीज नहीं है, इसलिए हमें शर्म और संकोच छोड़कर खुलकर चर्चा करनी चाहिए और हमेशा सुरक्षित साधनों का ही उपयोग करना चाहिए। 

इको फ्रेंडली शक्ति सेनेटरी नेपकिन का किया गया वितरण 

इसके साथ ही बायोडिग्रेडेबल सेनेटरी नेपकिन ही उपयोग में लाना चाहिए ताकि हमें और पर्यावरण को किसी भी तरह का नुकसान न हो पाये। शिविर में संस्था की ओर से इको फ्रेंडली शक्ति सेनेटरी नेपकिन का वितरण किया गया। अंत में गांव की महिलाओं के साथ शिक्षा, पोषण, स्वास्थ और रोजगार के बारे में भी चर्चा हुई। शिविर के आयोजन में सहायक सचिव देवेंद्र बिसेन और जनपद सचिव राजेंद्र ब्रहमवंशी और गांव की सभी महिलाओं का विशेष सहयोग रहा।

No comments:

Post a Comment

Translate